News Nation Logo
Banner

विकास की ओर बढ़ता मरुस्थल राजस्थान, केंद्र सरकार ने 5 और मेडिकल कॉलेजों की दी मंजूरी

एक सरकारी प्रवक्ता ने बताया कि राज्य में स्वास्थ्य सेवाओं को मजबूत करने की दिशा में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की पहल पर केन्द्र ने राज्य के पांच और जिलों में मेडिकल कॉलेज खोलने के राज्य सरकार के प्रस्ताव को मंजूरी दी है.

Bhasha | Updated on: 26 Nov 2019, 08:26:59 AM
Medical colleges

Medical colleges (Photo Credit: (सांकेतिक चित्र))

जयपुर:

केन्द्र सरकार ने राज्य के पांच और जिलों में मेडिकल कॉलेज खोलने के राज्य सरकार के प्रस्ताव को मंजूरी दी है. एक सरकारी प्रवक्ता ने बताया कि राज्य में स्वास्थ्य सेवाओं को मजबूत करने की दिशा में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की पहल पर केन्द्र ने राज्य के पांच और जिलों में मेडिकल कॉलेज खोलने के राज्य सरकार के प्रस्ताव को मंजूरी दी है. इससे राजस्थान देश का संभवतः पहला ऐसा राज्य होने जा रहा है जहां के करीब-करीब सभी जिलों में मेडिकल कॉलेज स्थापित होंगे. केंद्र ने राज्य के सवाई माधोपुर, झुंझुनू, हनुमानगढ़, टोंक तथा दौसा में मेडिकल कॉलेज खोलने को मंजूरी दी है.

ये भी पढे़ं: मेवाड़ विश्वविद्यालय में कश्मीरी छात्रों से मारपीट, 4 गिरफ्तार

प्रवक्ता के अनुसार इसके साथ अब राज्य के कुल 33 में 30 जिले ऐसे हो गए हैं जहां पहले से ही सरकारी मेडिकल कॉलेज स्थापित हैं अथवा उन्हें स्थापित करने के संबंध में स्वीकृति प्राप्त हो चुकी है. मात्र राजसमंद, जालौर तथा प्रतापगढ़ ही ऐसे जिले रहे हैं जहां सरकारी मेडिकल कॉलेज नहीं हैं. राजसमंद में निजी क्षेत्र में मेडिकल कॉलेज चल रहे हैं.

प्रवक्ता के मुताबिक, सभी नव स्वीकृत मेडिकल कॉलेजों में से प्रत्येक के लिए 325 करोड़ रूपए खर्च होंगे. इन पर खर्च होने वाले कुल 1,625 करोड़ रूपए में से 60 प्रतिशत केन्द्र तथा 40 प्रतिशत राज्य सरकार देगी.

और पढ़ें: किसान ने अपनी बेटी का सपना किया पूरा, हेलीकॉप्टर से भेजा ससुराल; फिर जानें क्या हुआ

उल्लेखनीय है कि करीब दो माह पूर्व ही राज्य सरकार के प्रस्ताव पर अलवर, बारां, बांसवाड़ा, चित्तौडगढ़, जैसलमेर, करौली, नागौर, श्री गंगानगर, सिरोही तथा बूंदी में मेडिकल कॉलेज के प्रस्ताव को स्वीकृति मिली थी. 

First Published : 26 Nov 2019, 08:26:59 AM

For all the Latest States News, Rajasthan News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.