News Nation Logo

राजस्थान में सियासी उबाल, सीडी में डील करते कैद मेयर पति और संघ प्रचारक

रोचक बात यह है कि सीडी के सामने आते ही सरकार के भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो ने केस भी दर्ज कर लिया है. मानो इसकी तैयारी बहुत पहले से की जा रही थी.

News Nation Bureau | Edited By : Nihar Saxena | Updated on: 11 Jun 2021, 08:11:21 AM
Saumya Rajaram Gurjar

बीजेपी की निलंबित मेयर सौम्या पति राजाराम गुर्जर के साथ. (Photo Credit: न्यूज नेशन)

highlights

  • अशोक गहलोत ने सीडी के जरिये चला सियासी दांव
  • लेनदेन करते दिख रहे मेयर पति कचरा कंपनी से
  • साथ में हैं राजस्थान में संघ के प्रचारक निंबा राम

जयपुर:

ऐसा नहीं है कि राजस्थान (Rajasthan) में कांग्रेस की राजनीति ही हर गुजरते दिन के साथ एक नया मोड़ ले रही हो. अब एक और सीडी कांड सामने आने से राजनीति गर्मा गई है. इस सीडी से भारतीय जनता पार्टी (BJP) की निलंबित मेयर सौम्या गुर्जर के पति राजाराम गुर्जर भारी परेशानी में आ गए हैं. इस सीडी में राजाराम कचरा साफ करने वाली कंपनी के प्रतिनिधि से बिल पास करने के एवज में पैसों का लेन-देन करते दिख रहे हैं. रोचक बात यह है कि सीडी के सामने आते ही सरकार के भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो ने केस भी दर्ज कर लिया है. मानो इसकी तैयारी बहुत पहले से की जा रही थी. खैर, 276 करोड़ भुगतान के बदले 10 फीसदी कमिशन के रूप में 20 करोड़ की डील को लेकर वायरल हो रहा है वीडियो.

बीते दिनों ही निलंबित की गई थी बीजेपी की मेयर
ये सीडी किसने बनाई और कहां से आई यह सब फिलहाल रहस्य की गर्त में है. सीडी में जयपुर ग्रेटर निगम की बीजेपी की निलंबित मेयर सौम्य गुर्जर के पति राजाराम गुर्जर, कचरा सफाई करने वाली कंपनी के प्रतिनिधि और राजस्थान में संघ प्रचारक निंबा राम दिख रहे हैं. गौरतलब है कि वसुंधरा राजे के कार्यकाल में इस कंपनी को कचरा उठाने का ठेका दिया गया था, जिसके बिल के भुगतान को लेकर निलंबित मेयर सौम्या गुर्जर और बीजेपी के तीन कार्यकर्ताओं पर नगर निगम के आयुक्त के साथ मारपीट का आरोप लगा था. बीते दिनों जयपुर ग्रेटर निगम की मेयर सौम्या गुर्जर और बीजेपी के तीन पार्षदों पारस जैन, अजय चौहान और शंकर शर्मा को निलंबित किया गया था. 

यह भी पढ़ेंः ATM से कैश निकालना हुआ महंगा, फ्री लिमिट के बाद अब देना होगा ज्यादा चार्ज

कांग्रेस और बीजेपी में चल रहे राजनीतिक दांव-पेंच
जाहिर है इस पर राजनीति भी हुई. कांग्रेस के भी कुछ नेता इस फैसले के खिलाफ हैं. बीजेपी भी इसका विरोध कर रही है. वहीं वसुंधरा राजे के समर्थक विधायक कालीचरण सर्राफ, नरपत सिंह राजवी और अशोक लहोटी पार्टी के साथ नहीं आए, जिसे लेकर कहा जा रहा है कि बीजेपी में संघ और संगठन का गुट वसुंधरा गुट से अलग हो गया है. इस घटनाक्रम के आलोक में कह सकते हैं कि राजस्थान बीजेपी भी कांग्रेस की ही तरह अंतर्कलह और भारी मतभेद के दौर से गुजर रही है. अशोक गहलोत ने सीडी के रूप में बड़ा दांव चल दिया है.

यह भी पढ़ेंः Petrol Diesel Rate Today 11 June 2021: 110 रुपये लीटर हो गया पेट्रोल, जानिए आज की ताजा रेट लिस्ट

एसीबी ने दर्ज किया केस
वायरल सीडी पर निलंबित मेयर के पति राजाराम गुर्जर का कहना है यह सीडी फर्जी है. हमने कोई लेन-देन की बात नहीं की है. संघ की तरफ से कोई बयान भी सामने नहीं आया है. बीजेपी नेताओं ने भी इस मसले पर चुप्पी साध रखी है. परिवहन मंत्री प्रताप खाचरियावास ने कहा है कि भी जो सच्चाई होगी, सामने आएगी. इस बीच बीवीजी कंपनी ने सफाई दी कि विडियो में घूस नहीं सीएसआर के पैसो की बात हो रही है. यह अलग बात है कि सीडी को देख एंटी करप्शन ब्यूरो ने अज्ञात सोर्सेज के नाम से स्वत: संज्ञान लेते हुए केस दर्ज कर लिया है. गौर करने वाली यह भी है कि सौम्या गुर्जर के निलंबन के मामले में आज राजस्थान हाईकोर्ट में सुनवाई होनी है. राजस्थान सरकार ने पहले ही कैविएट दायर कर रखी थी.

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 11 Jun 2021, 08:00:43 AM

For all the Latest States News, Rajasthan News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.