News Nation Logo

पंजाबः छात्राओं के MMS वायरल से गरमाई सियासत, वीडियो को शेयर न करने की अपील

News Nation Bureau | Edited By : Mohit Sharma | Updated on: 18 Sep 2022, 12:09:52 PM
Punjab News

Punjab News (Photo Credit: FILE PIC)

नई दिल्ली:  

चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी की छात्राओं के अश्लील वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने की घटना ने पंजाब से लेकर दिल्ली तक हड़कंप मचा दिया है. इसको लेकर यूनिवर्सिटी के छात्र-छात्राएं सड़कों पर उतर आए हैं और विरोध-प्रदर्शन कर रहे हैं. वहीं, पुलिस ने इस मामले में एफआईआर दर्ज कर जांच शुरू कर दी है. इसके साथ ही लोगों से वीडियो को ऑनलाइन न शेयर करने की अपील की गई है. वहीं, राज्य के शिक्षा मंत्री हरजोत सिंह बैंस ने लोगों से शांति-व्यवस्था बनाए रखने की अपील की है. आम आदमी पार्टी के चीफ अरविंद केजरीवाल ने भी घटना का संज्ञान लेते हुए दोषियों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई किए जाने की बात कही हैं.

सीएम केजरीवाल ने ट्वीट कर कहा कि इस मामले में जो भी दोषी पाया जाएगा, उसको खिलाफ कड़ा एक्शन लिया जाएगा. उन्होंने लिखा कि अभी तक मिली जानकारी के आधार पर हॉस्टल में 60 छात्राओं के नहाते समय अश्लील वीडियो शूट किए गए हैं. वीडियोज को शिमला में एक लड़के को भेजा गया है. जिसके बाद यूनिवर्सिटी के छात्र-छात्राओं ने जमकर हंगामा किया. हालांकि वीडियो बनाने वाली लड़की को पकड़ लिया गया है. सभी राजनीतिक दलों के नेताओं ने इस घटना की निंदा की है.

केंद्रीय मंत्री और भाजपा नेता सोमप्रकाश ने कहा कि यह एक दुर्भाग्यपूर्ण घटना है. पुलिस को घटना में शामिल लोगों के खिलाफ लोगों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करनी चाहिए ताकि भविष्य में फिर से ऐसी घटना न होने पाए. कांग्रेस नेताओं ने भी सोशल मीडिया पर पोस्ट शेयर की गुस्सा जाहिर किया है. ऑल इंडिया महिला कांग्रेस ने ट्वीट कर कहा कि यह एक भयानक घटना है. केवल चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी ही बेटी बचाओ की असफलता का अकेला प्रमाण नहीं है. बल्कि यह दिखाता है कि हमारे शिक्षण संस्थान भी कितने असुरक्षित हैं. 

जानकारी के अनुसार चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी में बीती रात करीब ढ़ाई बजे उस समय हंगामा हो गया, जब बड़ी संख्या में पहुंचे छात्र-छात्राओं ने नारेबाजी शुरू कर दी. छात्रों ने आरोप लगाया कि लड़कियों के हॉस्टल में ही रह रही एक छात्रा ने बाथरूम में नहाते समय 60 छात्राओं का अश्लील वीडियो बना लिया. आरोपी छात्रा इस तरह के वीडियो बनाकर एक लड़के को भेजा करती थी और वह लड़का वीडियोज को सोशल मीडिया पर वायरल कर देता था. 

इनमें से जब 8 छात्राओं ने इंटरनेट पर अपनी वीडियो को देखा तो उनके पैरों तले से जमीन खिसक गई. उनको यकीन नहीं हुआ कि आखिर यह सब हुआ कैसे. इन छात्राओं ने बदनामी के डर से आत्महत्या का प्रयास किया. छात्रों का आरोप है कि यूनिवर्सिटी प्रबंधन ने पूरे मामले को दबाने की कोशिश की है. पुलिस ने आरोपी छात्रा को हिसासत में ले लिया है.

First Published : 18 Sep 2022, 12:05:48 PM

For all the Latest States News, Punjab News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.