News Nation Logo
विपक्षी सांसदों की नारेबाजी के बीच राज्यसभा आज दोपहर 12 बजे तक के लिए स्थगित हुई भारत ने न्यूजीलैंड को 372 रन से हराकर टेस्ट मैच श्रृंखला 1-0 से जीती टीम इंडिया ने घर में लगातार 14वीं टेस्ट सीरीज जीती न्यूजीलैंड पर 372 रनों से जीत रनों के लिहाज से भारत की टेस्ट मैचों में सबसे बड़ी जीत है उत्तराखंड के चमोली में देवल ब्लॉक के ब्रह्मताल ट्रेक मार्ग पर बर्फबारी हुई रूस के विदेश मंत्री सर्गेई लावरोव ने भारत के विदेश मंत्री डॉ. एस जयशंकर के साथ नई दिल्ली में बैठक की बाबा साहब आंबेडकर का महापरिनिर्वाण दिवस आज. बसपा कर रही बड़ा कार्यक्रम नीट काउंसिलिंग में हो रही देरी के खिलाफ रेजिडेंट डॉक्टर्स आज ठप रखेंगे सेवा रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन आज आ रहे भारत. कई समझौतों को देंगे अंतिम रूप पंजाब के पूर्व सीएम अमरिंदर सिंह आज करेंगे अमित शाह-जेपी नड्डा से मुलाकात.

पंजाब: नवजोत सिंह सिद्धू ने की CM चन्नी से मुलाकात, जानें क्या निकला नतीजा?

पंजाब में जारी सियासी घमासान के बीच नवजोत सिंह सिद्धू मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी से मिलने चंडीगढ़ पहुंचे. चंडीगढ़ के पंजाब भवन में दोनों नेताओं के बीच लगभग दो घंटे तक बैठक चली

News Nation Bureau | Edited By : Mohit Sharma | Updated on: 30 Sep 2021, 11:50:24 PM
Punjab

CM चन्नी ने नवजोत सिंह सिद्धू की मांगों पर विचार करने का भरोसा दिया (Photo Credit: न्यूज नेशन)

नई दिल्ली:

पंजाब में जारी सियासी घमासान के बीच नवजोत सिंह सिद्धू मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी से मिलने चंडीगढ़ पहुंचे. चंडीगढ़ के पंजाब भवन में दोनों नेताओं के बीच लगभग दो घंटे तक बैठक चली. बताया जा रहा है कि सीएम चरणजीत सिंह चन्नी ने सिद्धू की मांगों पर विचार करने का भरोसा दिया है. इस बैठक में परगट सिंह, पर्यवेक्षक हरीश चौधरी भी मौजूद रहे. माना जा रहा है कि सिद्धू और चन्नी साझा प्रेस कॉन्फ्रेंस कर सकते हैं. वहीं, पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने अटकलों को खारिज करते हुए गुरुवार को स्पष्ट किया कि वह भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) में शामिल नहीं हो रहे हैं, लेकिन कांग्रेस में बने रहने का उनका कोई इरादा नहीं है. भाजपा में शामिल होने के किसी भी कदम से इनकार करते हुए, कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा कि वह कांग्रेस छोड़ देंगे, क्योंकि उन्हें पूरी तरह से अपमानित किया गया और उन पर भरोसा नहीं किया गया.

मुख्यमंत्री से मुलाकात के बाद सिद्धू ने अपने करीबी विधायक परगट सिंह, राजकुमार वेरका और कुलजीत नागरा के साथ बंद कमरे में बैठक की। एक दिन पहले चन्नी ने कहा था कि उन्होंने सिद्धू से बात की है और उन्हें बातचीत करने और मतभेद, यदि कोई हो, को सुलझाने के लिए आमंत्रित किया है। उन्होंने यहां मीडिया से कहा था, "जो कोई भी पार्टी का अध्यक्ष होता है वह परिवार का मुखिया होता है। मैंने उन्हें फोन किया था और कहा था कि पार्टी सर्वोच्च है। मैंने उनसे फोन पर बात की है और उनसे कहा है कि चलो बैठो, बात करो और इस मुद्दे को सुलझाओ।" कैबिनेट में एक 'दागी' विधायक को फिर से शामिल करने के अलावा पुलिस महानिदेशक और महाधिवक्ता की नियुक्तियों को लेकर चन्नी और सिद्धू के बीच 'गतिरोध' के कुछ दिनों बाद, सिद्धू ने बैठक से पहले संकेत दिया था कि वह गतिरोध समाप्त करने के लिए तैयार हैं।
वह विशेष रूप से अपने गृहनगर पटियाला से चंडीगढ़ में चन्नी से मिलने आए थे।

बैठक से पहले, सिद्धू ने ट्वीट किया, "मुख्यमंत्री ने आज दोपहर 3:00 बजे पंजाब भवन, चंडीगढ़ में मुझे बातचीत के लिए आमंत्रित किया है। किसी भी चर्चा के लिए उनका स्वागत है!" कांग्रेस अध्यक्ष पद से इस्तीफा देने के एक दिन बाद, 29 सितंबर को सिद्धू ने कहा था कि वह अपनी आखिरी सांस तक सच्चाई के लिए लड़ेंगे, क्योंकि लड़ाई उन सिद्धांतों के लिए है जिनसे वह समझौता नहीं करेंगे। सिद्धू ने अपने ट्विटर हैंडल पर पोस्ट किए गए एक वीडियो संदेश में कहा था, "मैं अपनी आखिरी सांस तक सच्चाई के लिए लड़ूंगा।" सिद्धू ने स्पष्ट रूप से कहा था, "यह व्यक्तिगत लड़ाई नहीं बल्कि सिद्धांतों की लड़ाई है. मैं सिद्धांतों से समझौता नहीं करूंगा." उन्होंने कहा था कि वह चन्नी के नेतृत्व वाले नवगठित राज्य मंत्रिमंडल में दागी मंत्रियों को वापस लाए जाने को स्वीकार नहीं करेंगे.

पंजाबी में साझा किए गए एक वीडियो संदेश में, क्रिकेटर से राजनेता बने सिंह ने कहा था कि उनका एकमात्र धर्म लोगों के जीवन को बेहतर बनाना है. सिंह ने आगे कहा कि उन्होंने न्याय के लिए और पंजाब के एजेंडे के लिए लड़ाई लड़ी है. महाधिवक्ता से लेकर कई महत्वपूर्ण पदों, विभागों के आवंटन और नियुक्तियों से नाखुश सिद्धू ने 28 सितंबर को 71 दिनों तक शीर्ष पर रहने के बाद अपने पद से इस्तीफा दे दिया था. उनके इस फैसले ने राज्य कांग्रेस को गहरे संकट में डाल दिया है. हालांकि, सिद्धू ने कहा कि वह पार्टी नहीं छोड़ेंगे.

First Published : 30 Sep 2021, 06:03:32 PM

For all the Latest States News, Punjab News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.