News Nation Logo
Banner

हरपाल सिंह चीमा का अकाली,भाजपा और कैप्टन के गठजोड़ पर निशाना

आम आदमी पार्टी (आप) पंजाब के वरिष्ठ नेता और नेता प्रतिपक्ष हरपाल सिंह चीमा ने अकाली दल और भारतीय जनता पार्टी पर पंजाब और पंजाबियों के साथ विश्वासघात करने का आरोप लगाया है।

News Nation Bureau | Edited By : Mohit Sharma | Updated on: 21 Feb 2022, 11:55:07 PM
Harpal Singh Cheema

Harpal Singh Cheema (Photo Credit: File Pic)

नई दिल्ली:  

आम आदमी पार्टी (आप) पंजाब के वरिष्ठ नेता और नेता प्रतिपक्ष हरपाल सिंह चीमा ने अकाली दल और भारतीय जनता पार्टी पर पंजाब और पंजाबियों के साथ विश्वासघात करने का आरोप लगाया है। मजीठिया का 'अकाली दल का भाजपा के साथ दोबारा गठजोड़ होगा' वाले बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए चीमा ने कहा कि अकाली नेता बिक्रम मजीठिया के बयान ने अकाली दल और भाजपा के चेहरे को पंजाब वा​सियोंं के आगे बेनकाब कर दिया है। चीमा ने दावा किया कि अकाली दल,भाजपा और कैप्टन अमरिंदर सिंह के गठजोड़ की साझी सरकार मंगल गृह पर ही बन सकती है,क्योंकि पंजाब के वोटरों ने तीनों पार्टियों ने पूरी तरह नकार दिया है।

 

सोमवार को पार्टी मुख्यालय से जारी बयान में हरपाल सिंह चीमा ने कहा कि चुनाव के दिन अकाली नेता बिक्रम सिंह मजीठिया ने पंजाब में सरकार बनाने के लिए अकाली दल का भाजपा के साथ गठजोड़ होने के दावे ने साबित कर दिया है कि किसानों, मजदूरों और पंजाब की जनता का वोट लेने के लिए अकाली दल भाजपा से अलग हुआ था। जबकि सच यह है कि अकाली दल और भाजपा एक ही थाली के चट्टे-बट्टे  हैं। अकाली दल का भाजपा के साथ अंदर खाते सियासी गठजोड़ आज भी कायम है, लेकिन पंजाब के लोगों को धोखा देने के ​लिए अकाली दल ने भाजपा से अलग होना का ड्रामा किया था।

 

हरपाल सिंह चीमा ने कहा कि अकाली दल और कैप्टन अमरिंदर सिंह ने हमेशा पंजाब और पंजाबियों को धोखा दिया है। उन्होंने कहा कि मजीठिया के बयान से पता चलता है कि अकाली, कैप्टन अमरिंदर सिंह और भाजपा ने सोची समझी रणनीति के तहत अलग-अलग चुनाव लड़ा है। जबकि आंतरिक रूप से अकाली और भाजपा पहले से एकजुट थे। चीमा ने कहा कि अकाली दल ने केंद्र सरकार में रहते हुए किसान विरोधी काले कृषि कानूनों का समर्थन किया था और बाहर मीडिया में  इन काले कानूनों का विरोध किया,लेकिन किसानों के संघर्ष से घबराये बादल परिवार ने भाजपा से नाता तोड़ने का नाटक किया। मजीठिया ने उनके इस ड्रामा से पर्दा हटा दिया है।

 

चीमा ने कहा कि शिरोमणि अकाली दल-भाजपा गठबंधन के कारण ही बिक्रम मजीठिया के खिलाफ केंद्र सरकार की प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) जैसी एजेंसियों ने कोई कार्रवाई नहीं की, जबकि मजीठिया के खिलाफ विभिन्न मामलों में केस दर्ज किये गए थे। भाजपा के समर्थन के कारण ही अकाली नेता अभी भी माफिया शासन चला रहे हैं। नशा माफिया, रेत माफिया, ट्रांसपोर्ट  माफिया और केबल माफिया लोगों को लूट रहे हैं। हरपाल सिंह चीमा ने कहा कि पंजाब के लोगों ने सत्ता परिवर्तन के लिए वोट किया है। इसलिए अकाली दल, भाजपा और कैप्टन अमरिंदर सिंह का गठजोड़ मंगल गृह पर ही सरकार बना सकता है,पंजाब की पवित्र धरती पर नहीं।

 

 

First Published : 21 Feb 2022, 11:55:07 PM

For all the Latest States News, Punjab News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.