News Nation Logo
मौसम खुल चुका है और चारधाम यात्रा शुरू हो चुकी है: उत्तराखंड के DGP अशोक कुमार उड़ान योजना के तहत बीते कुछ सालों में 900 से अधिक नए रूट्स को स्वीकृति दी जा चुकी है: पीएम मोदी कुशीनगर अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डा उनकी श्रद्धा को अर्पित पुष्पांजलि है: पीएम मोदी भारत विश्व भर के बौद्ध समाज की श्रद्धा, आस्था और प्रेरणा का केंद्र है: कुशीनगर में पीएम मोदी 50 से अधिक नए या ऐसे एयरपोर्ट जो पहले सेवा में नहीं थे, उन्हें चालू किया जा चुका है: पीएम मोदी CBI-CVS कांफ्रेंस में बोले पीएम मोदी-भ्रष्टाचार सिस्टम का हिस्सा नहीं हो सकता है लखीमपुर हिंसा मामले में सुप्रीम कोर्ट में आज होगी अहम सुनवाई. पंजाब में कांग्रेस का बढ़ा दलित प्रेम. राहुल गांधी आज दिखाएंगे शोभा यात्रा को हरी झंडी आज शाम उत्तराखंड जाएंगे गृहमंत्री अमित शाह, बाढ़ प्रभावित क्षेत्र का लेंगे जायजा क्रूज ड्रग्स केस में आर्यन खान को आज मिलेगी बेल या रहेंगे जेल में ही

किसानों को लेकर CM चन्नी का बड़ा ऐलान, पटरियों पर धरने से जुड़े केस वापस लेने के आदेश

सीएम चन्नी ने किसानों के हित में फैसला लिया. वो फैसला है कृषि कानून के खिलाफ पटरियों पर प्रदर्शन कर रहे किसानों पर दर्ज केस वापस लेने का. आरपीएफ ने प्रदर्शन कर रहे किसानों पर केस दर्ज किया था. 

News Nation Bureau | Edited By : Nitu Pandey | Updated on: 02 Oct 2021, 02:15:19 PM
charanjit singh channi

चरणजीत सिंह चन्नी (Photo Credit: File Photo )

highlights

  • पंजाब के सीएम चन्नी ने किसानों पर दर्ज केस वापस लेने का किया ऐलान
  • पटरियों पर प्रदर्शन कर रहे किसानों पर आरपीएफ ने किया था केस
  • आरपीएफ को पत्र लिखकर चन्नी ने केस वापस लेने की मांग की है

नई दिल्ली :

पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी (CM Charanjit singh channi)  ने शनिवार को बड़ा ऐलान किया. उन्होंने रेलवे ट्रैक पर धरने को लेकर किसानों पर आरपीएफ द्वारा दर्ज केस वापस लेने का आदेश दिया है. पंजाब सूचना और जनसंपर्क विभाग ने इसकी जानकारी दी. चन्नी ने आरपीएफ चेयरमैन को इस बाबत खत लिखा है. पत्र में जल्द से जल्द केस वापस लेने के लिए कहा गया है.  पंजाब में अगले साल विधानसभा चुनाव होने हैं. किसानों का समर्थन पाने के लिए पंजाब के सीएम चन्नी लगातार कदम उठा रहे हैं.

किसानों को खुश करने के लिए चन्नी सीएम बनते ही बिजली बिल माफ करने का वादा कर दिया था. वादे के मुताबिक, पहली कैबिनेट बैठक में चन्नी ने 2 किलो वाट तक बिजली बिल माफ करने का ऐलान किया. जिन लोगों का बिल नहीं चुकाने पर कनेक्शन काटा गया था उनके घर फिर से बिजली बहाल करने के आदेश दिए गए थे.

आरपीएफ ने किसानों पर किया था केस 

अब चन्नी ने किसानों के हित में फैसला लिया. वो फैसला है कृषि कानून के खिलाफ पटरियों पर प्रदर्शन कर रहे किसानों पर दर्ज केस वापस लेने का. आरपीएफ ने प्रदर्शन कर रहे किसानों पर केस दर्ज किया था. 

फैमिली पेंशन स्कीम को भी मंजूरी दे दी है

इसके साथ ही सीएम चन्नी कोरोना महामारी से माता-पिता खो चुकी लड़कियों के लिए आशीर्वाद स्कीम से इनकम लिमिट हटाने का ऐलान किया है. इसके साथ ही पंजाब में अब 1 जनवरी 2004 के बाद से सरकारी नौकरी में चयनित कर्मचारियों के लिए फैमिली पेंशन स्कीम को भी मंजूरी दे दी है.

इसे भी पढ़ें:चीन से तनाव के बीच लद्दाख में गरजा k9 वज्र, 50 किमी दूर से दुश्मन को बना सकती है निशाना

किसानों के लिए अपनी गर्दन कटवा दूंगा

बता दें कि चन्नी ने अपने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा था कि हम पंजाब के किसानों को कमजोर नहीं होने देंगे. केंद्र सरकार से कृषि कानूनों को वापस लेने की मांग करेंगे. अगर किसानों पर आंच आई तो मैं अपना गर्दन कटवा दूंगा. 

First Published : 02 Oct 2021, 02:05:06 PM

For all the Latest States News, Punjab News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.