News Nation Logo

इस्तीफा दे चुके एडवोकेट जनरल ने नवजोत सिंह सिद्धू पर लगाए गंभीर आरोप

पंजाब के इस्तीफा दे चुके एपीएस द्योल (APS Deol ) ने कहा कि प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू सियासी फायदे के लिए झूठी जानकारी फैला रहे हैं. शनिवार को एक प्रेस नोट जारी कर द्योल ने आरोप लगाया कि सिद्धू राज्य सरकार और महाधिवक्ता के कामकाज में बाधा डाल रहे हैं.

News Nation Bureau | Edited By : Apoorv Srivastava | Updated on: 06 Nov 2021, 03:46:19 PM
aps67657657

politics (Photo Credit: social media)

highlights

  • शनिवार को ही नवजोत सिंह सिद्धू ने फरीदकोट के एक गुरुद्वारे में अरदास की 
  • एडवोकेट जनरल पद से हाल ही में इस्तीफा दे चुके हैं एपीएस द्योल
  • नवजोत सिंह सिद्धू ने द्योल की नियुक्ति को लेकर उठाए थे सवाल

नई दिल्ली :  

पंजाब (Punjab) के एडवोकेट जनरल पद से हाल ही में इस्तीफा देने वाले एपीएस द्योल (APS Deol) ने नवजोत सिंह सिद्धू (Navjot singh sidhu) पर गंभीर आरोप लगाए हैं. एपीएस द्योल ने कहा कि प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू सियासी फायदे के लिए झूठी जानकारी फैला रहे हैं. शनिवार को एक प्रेस नोट जारी कर द्योल ने आरोप लगाया कि सिद्धू राज्य सरकार और महाधिवक्ता के कामकाज में बाधा डाल रहे हैं. उन्होंने यह भी कहा कि नवजोत सिंह सिद्धू बार-बार नशीले पदार्थ और धार्मिक ग्रंथ बेदअबी मामले में बयान जारी करते हैं. यह बयान दोनों मामलों में न्याय सुनिश्चित करने के राज्य सरकार के प्रयासों को पटरी से उतारने का काम करते हैं. एपीएस द्योल ने ये भी कहा कि सिद्धू अपने राजनीतिक सहयोगियों पर राजनीतिक लाभ हासिल करने के लिए गलत सूचना फैला रहे हैं. 

इसे भी पढ़ेंः जिस जहरीली शराब से बिहार में हुई दर्जनों मौत, वो इस चीज से बनी थी, 19 गिरफ्तार

यही नहीं, द्योल ने ये भी कहा कि पंजाब के महाधिवक्ता के संवैधानिक कार्यालय का राजनीतिकरण कर अपने स्वार्थी राजनीतिक लाभ के लिए पंजाब में आगामी चुनावों के मद्देनजर कांग्रेस पार्टी के कामकाज को खराब करने के निहित स्वार्थों द्वारा एक ठोस प्रयास किया जा रहा है. आपको बता दें बीते दिनों नवजोत सिंह सिद्धू ने महाधिवक्ता पद पर द्योल की नियुक्ति को लेकर कई बार सवाल उठाया था. एपीएस द्योल ने साल 2015 में धार्मिक ग्रंथ बेअदबी मामले के बाद हुई पुलिस गोलीबारी मामले में पूर्व पुलिस महानिदेशक सुमेध सिंह सैनी के वकील थे. 

वहीं, शनिवार को ही नवजोत सिंह सिद्धू ने फरीदकोट के एक गुरुद्वारे में अरदास की और 2015 में गुरु ग्रंथ साहब बेअदबी मामले में शामिल दोषियों को ऐसी कड़ी सजा देने की प्रार्थना की, जो आने वाली पीढ़ियों के लिए एक सबक बन जाए. वहीं, शुक्रवार को सिद्धू ने ये भी कहा था कि उन्होंने पार्टी की पंजाब इकाई के प्रमुख पद से अपना इस्तीफा वापस ले लिया है.

First Published : 06 Nov 2021, 03:36:00 PM

For all the Latest States News, Punjab News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.