logo-image
लोकसभा चुनाव

बेंगलुरु समेत पूरे कर्नाटका में बढ़ा तापमान, कलबुरगी में 42 डिग्री, हीटवेव से 500 से ज्यादा लोग बीमार 

डॉक्टर्स के मुताबिक, शरीर में पानी की कमी न हो इसके लिए फ्रूट्स जूस लें, ज्यादा गर्मी की वजह से आप की बॉडी में साल्ट कंटेंट कम होता है.

Updated on: 06 Apr 2024, 11:52 PM

नई दिल्ली:

आइटी सिटी बेंगलुरु गर्मी से तप रहा है. यहां पर अप्रैल के महीने में तापमान 34 डिग्री होता था लेकिन इस बात पारा 37.2 तक पहुंच गया ही. लोग बिना छाते के बाहर नहीं निकल पा रहे हैं. जानवर भी गर्मी से परेशान है, पानी की तलाश में घूमते रहते है. कर्नाटका के  कलबुर्गी में पारा 42 डिग्री तक पहुंच गया है. इस बार रात को भी तापमान बढ़ता ही जा रहा है. बेंगलुरु जैसे शहर में रात का तापमान 24 डिग्री तक पहुंच गया है.

हीटवेव की वजह से 520 लोग बीमार हुए

सरकारी आंकड़ों के मुताबिक, अभी तक हीटवेव की वजह से 520 लोग बीमार हुए है.अधिकतर लोगों को डिहाइड्रेशन की शिकायत थी. रैशेज और उल्टी बुखार भी कई लोगो हो रहा है. डॉक्टर्स के मुताबित लोगों को खास ख्याल रखना चाहिए की वो सिर्फ पानी नहीं पिए, बल्कि जूस फ्रूट्स ताकि आपकी बॉडी में साल्ट कंटेंट बराबर रहे. ज्यादा गर्मी की वजह से आप की बॉडी में साल्ट कंटेंट कम होता है. 

ये भी पढे़ं:   RR vs RCB : विराट के शतक पर भारी पड़ी बटलर की पारी, राजस्थान ने लगातार जीता चौथा मैच

बारिश होने की संभावना

वही मौसम विभाग का कहना है की बेंगलुरु और प्रदेश के बाकी हिस्सों में हिटवेव के पीछे एल नीनो है. पिछले वर्ष एल नीनो के बन जाने से मौसम में बदलाव आया है. इसके साथ रात को भी गर्मी बड़ रही है और अगले कुछ दिनों तक मौसम कुछ ऐसे ही लोगों को परेशान कर रहा है. मौसम विभाग के अनुसार, अगले हफ्ते राज्य के कुछ हिस्सों में बारिश होने की संभावना है. अगर बारिश अच्छी होती है तो तापमान में कमी आने की भी संभावना है.

अल नीनो के कारण बेंगलुरु में भीषण गर्मी

बेंगलुरु के आईएमडी वैज्ञानिक प्रसाद का कहना है अल नीनो के कारण बेंगलुरु में भीषण गर्मी देखी जा रही है। बीते वर्ष अल नीनो सूचकांक 1.5 पर पहुंच गया था। इस साल यह कम होकर 1.1 पर आ गया है. वहीं अगले कुछ माह में इसमें कमी देखने को मिलेगी। मौसम विभाग का पूर्वानुमान है कि 8 से 9 अप्रैल के बीच यहां पर हल्की बारिश होने की संभावना है। इससे लोगों को थोड़ी राहत मिल सकती है।