News Nation Logo
Banner
Banner

चुनाव खर्च में अनियमितता के आरोप सिद्ध हुए तो दे दूंगा इस्तीफा: ओराम

ओराम ने कहा कि पहले मुख्यमंत्री नवीन पटनायक को इस्तीफा देना चाहिए क्योंकि उनके खिलाफ प्राथमिक जांच में साबित हुआ है।

IANS | Edited By : Deepak Kumar | Updated on: 30 Jul 2017, 11:05:34 PM
जुएल ओराम (केंद्रीय जनजातीय मामला मंत्री)

भुवनेश्वर:

केंद्रीय जनजातीय मामला मंत्री जुएल ओराम ने रविवार को कहा कि अगर बीजू जनता दल (बीजेडी) द्वारा लगाए गए चुनाव खर्च में अनियमितता के आरोप सिद्ध होते हैं तो वह अपने पद से इस्तीफा दे देंगे। 

ओराम ने कहा कि पहले मुख्यमंत्री नवीन पटनायक को इस्तीफा देना चाहिए क्योंकि उनके खिलाफ प्राथमिक जांच में साबित हुआ है कि उन्होंने 2014 के चुनाव में फर्जी चुनावी हलफनामा दर्ज कराया था।

ओराम ने एक बयान में कहा, 'मैं किसी भी जांच का सामना करने के लिए तैयार हूं। बीजेडी द्वारा लगाए गए आरोप राजनीति से प्रेरित हैं। अगर ये आरोप सिद्ध होते हैं तो मैं मंत्री पद से इस्तीफा दे दूंगा।'

मंत्री ने कहा कि ओडिशा की सत्तारूढ़ पार्टी अपने चुनावी खर्च में अनियमितता पाए जाने के बाद लोगों को गुमराह करने का प्रयास कर रही है।

नहीं बढ़ेगी आयकर रिटर्न दाखिल करने की अंतिम तारीख, 31 जुलाई है डेडलाइन

बीजद ने शनिवार को कुछ दस्तावेज जारी किए थे, जिनके अनुसार ओराम ने निर्वाचन आयोग को फर्जी हलफनामा दिया था। पार्टी का आरोप है कि चुनाव खर्च के ब्योरे में गड़बड़ी है।

बीजेडी का दावा है कि सुंदरगढ़ से लोकसभा सदस्य जुएल ओराम ने 2014 के चुनाव में निर्वाचन आयोग को अपने चुनावी खर्च का गलत ब्योरा दिया था। ओराम ओडिशा से एकमात्र भाजपा सांसद हैं।

पार्टी ने केंद्रीय जनजातीय मामला मंत्री के खिलाफ कार्रवाई के लिए निर्वाचन आयोग जाने की चेतावनी भी दी है।

महंगाई दर में ऐतिहासिक गिरावट के बाद RBI पर ब्याज दरों में कटौती का दबाव, एसोचैम ने की मांग

First Published : 30 Jul 2017, 11:04:09 PM

For all the Latest States News, Other State News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.