News Nation Logo
Banner

झारखंड: मोबाइल चोरी के आरोप में कॉलेज छात्रा के कपड़े उतारे, मुख्यमंत्री ने दिए जांच के आदेश

झारखंड के एक कॉलेज में आदिवासी लड़की को मोबाइल चोरी के आरोप में पीटा गया, उसके बाद लड़की को निर्वस्त्र कर उसका वीडियो बना लिया गया।

News Nation Bureau | Edited By : Saketanand Gyan | Updated on: 09 Aug 2017, 06:16:59 PM
दुमका का संथाल परगना महिला कॉलेज (फाइल फोटो)

दुमका का संथाल परगना महिला कॉलेज (फाइल फोटो)

highlights

  • 4 अगस्त को हुए इस शर्मनाक घटना के बाद सरकार ने अब दिए जांच का आदेश
  • पीड़ित लड़की की तस्वीरें और वीडियो सोशल मीडिया पर भी वायरल हो चुकी है

नई दिल्ली:

झारखंड के एक कॉलेज में आदिवासी लड़की को मोबाइल चोरी के आरोप में पीटा गया, उसके बाद लड़की को निर्वस्त्र कर उसका वीडियो बना लिया गया। 4 अगस्त को हुए इस शर्मनाक घटना के बाद झारखंड सरकार ने अब मामले की जांच का आदेश दिया है।

एक अधिकारी ने कहा कि मुख्यमंत्री रघुवर दास ने अधिकारियों को घटना की जांच करने और दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने का आदेश दिया है। इस घटना की जांच तीन सदस्यीय टीम करेगी। पीड़ित लड़की की तस्वीरें और वीडियो सोशल मीडिया पर भी वायरल हो चुकी है।

दुमका के संथाल परगना महिला कॉलेज की बीए प्रथम वर्ष की छात्रा पर मोबाइल चोरी का आरोप लगाकार अन्य छात्राओं ने उसके कपड़े उतार दिए थे। कुछ लड़कियों ने ही इस पूरी घटना का वीडियो बना लिया और उसकी नग्न तस्वीरें ले ली।

और पढ़ें: छत्तीसगढ़: राखी के कार्यक्रम में CRPF जवानों ने की छात्राओं से छेड़छाड़, एक गिरफ्तार

पुलिस के मुताबिक, 4 अगस्त को पीड़ित लड़की के कपड़े उतारने का आदेश एक महापंचायत करने के बाद दिया गया था। कुछ लड़कियों ने पीड़िता को एक ऐसे मोबाइल के साथ जाते देख लिया था, जो कुछ दिन पहले गुम हो गया था। संदेह के आधार पर पीड़ित लड़की पर मोबाइल चोरी का आरोप लगा दिया गया।

इन लड़कियों ने पीड़ित को मोबाइल के 18,600 रुपये नहीं देने पर वीडियो क्लिप को सोशल मीडिया पर पोस्ट करने की धमकी दी। सूचना मिलने पर छात्रा के पिता कॉलेज पहुंचे। उन्होंने लड़कियों को शांत करने का प्रयास किया और बैल बेचकर पैसे देने का वादा किया।

और पढ़ें: चंडीगढ़ छेड़छाड़ केस: विकास बराला के खिलाफ जोड़ी गई किडनैपिंग की धारा

छात्रा के पिता ने 25 अगस्त तक का वक्त मांगा, लेकिन वीडियो क्लिप वायरल कर दिया गया है। वीडियो के वायरल होने पर पीड़ित छात्रा ने कॉलेज प्रशासन, पुलिस और अन्य लोगों से न्याय पाने के लिए संपर्क किया, लेकिन कुछ नहीं हुआ।

मीडिया ने जब यह मुद्दा उठाया तो राज्य सरकार हरकत में आई। पुलिस ने कहा कि प्राथमिकी दर्ज कर ली गई है और कॉलेज की अन्य लड़कियों से पूछताछ की जा रही है। मामले में अब तक किसी को गिरफ्तार नहीं किया गया है।

और पढ़ें: आजादी के 70 साल, लेकिन इन समस्याओं ने अब भी देश को बना रखा है गुलाम

First Published : 09 Aug 2017, 05:55:21 PM

For all the Latest States News, Other State News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो