News Nation Logo
कोविड के खिलाफ लड़ाई में भी भारत और रूस के बीच सहयोग: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भारत में 85 फीसदी पात्र आबादी को कोरोना वैक्सीन की पहली डोज लगा दी गई है: मनसुख मंडाविया दिल्ली में इस साल डेंगू से अब तक 15 मरीजों की मौत बीते 6 साल में डेंगू से मौत का सबसे बड़ा आंकड़ा शाही ईदगाह मस्जिद की जगह पर भव्य श्रीकृष्ण मंदिर के निर्माण के लिए संकल्प यज्ञ किया गया ओमिक्रोन के अलर्ट के बीच पटना में 100 विदेशियों की तलाश भारत ने न्यूजीलैंड को 372 रन से हराकर टेस्ट मैच श्रृंखला 1-0 से जीती टीम इंडिया ने घर में लगातार 14वीं टेस्ट सीरीज जीती न्यूजीलैंड पर 372 रनों से जीत रनों के लिहाज से भारत की टेस्ट मैचों में सबसे बड़ी जीत है उत्तराखंड के चमोली में देवल ब्लॉक के ब्रह्मताल ट्रेक मार्ग पर बर्फबारी हुई रूस के विदेश मंत्री सर्गेई लावरोव ने भारत के विदेश मंत्री डॉ. एस जयशंकर के साथ नई दिल्ली में बैठक की

जापानी इंसेफलाइटिस से मरने वालों की संख्या हुई 94, 2 दिनों में 12 नए मामले

बुधवार को मच्छरों से होने वाली बीमारी की वजह से हेलाकांडी, काचर, नगांव और तिनसुकिया जिलों में एक-एक मौत के मामले दर्ज किये गये जबकि जापानी इसेफलाइटिस के 10 नए मामले सामने आए

Bhasha | Edited By : Aditi Sharma | Updated on: 18 Jul 2019, 09:58:26 AM
फोटो- IANS

नई दिल्ली:

असम में जापानी इंसेफलाइटिस की वजह से पिछले दो दिनों में 12 और लोगों की मौत हो गई है. इसी  के साथ इस बीमारी से मरने वालों की संख्या 94 तक पहुंच गई है. राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन ने एक बुलेटिन में यह जानकारी दी. बुलेटिन में बताया गया है कि जेई से ग्रस्त लोगों की संख्या बढ़कर बुधवार को 406 हो गई क्योंकि 32 नए मामले पिछले दो दिन में पंजीकृत किए गए हैं. बुधवार को मच्छरों से होने वाली बीमारी की वजह से हेलाकांडी, काचर, नगांव और तिनसुकिया जिलों में एक-एक मौत के मामले दर्ज किये गये जबकि जापानी इसेफलाइटिस के 10 नए मामले सामने आए.

यह भी पढ़ें: Karnataka Crisis LIVE Updates : विधायकों के बागी रुख के बीच कुमारस्‍वामी सरकार की अग्‍निपरीक्षा आज

बता दें,बिहार में एक्यूट इंसेफेलाइटिस सिंड्रोम (AES) के कहर के बाद अब असम के लोग परेशान हैं. बिहार में दिमागी बुखार से करीब 200 बच्चों की मौत हो गई थी. अब असम के लोग इस कहर का सामना करने को मजबूर हैं. बिहार में अबतक करीब 200 लोगों की मौत हो चुकी है.

यह भी पढ़ें: हनुमान चालीसा पाठ में शामिल होना इशरत जहां के लिए गुनाह हो गया, मोहल्‍ले में जीना हुआ मुहाल

बिहार में लगभग 2 महीने से बुखार का कहर था. यह कहर बिहार के मुजफ्फरपुर में ज्यादा था. इस गंभीर बीमारी की चपेट में 200 बच्चे मौत की नींद सो गए. सरकार ने इस बीमारी को गंभीरता से नहीं लिया. केंद्र सरकार ने भी इसको लेकर सक्रियता नहीं दिखाई. 

First Published : 18 Jul 2019, 09:58:26 AM

For all the Latest States News, Other State News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो