News Nation Logo
Banner

मनी लांड्रिंग केस: शिवसेना MLA प्रताप सरनाईक का सहयोगी गिरफ्तार

Money Laundering Case : प्रवर्तन निदेशालय ( Enforcement Directorate) ने मंगलवार को शिवसेना विधायक प्रताप सरनाईक (Shiv Sena MLA Pratap Sarnaik) के सहयोगी योगेश देशमुख को गिरफ्तार कर लिया है.

News Nation Bureau | Edited By : Deepak Pandey | Updated on: 07 Apr 2021, 12:03:55 AM
Pratap Sarnaik

मनी लांड्रिंग केस: शिवसेना MLA प्रताप सरनाईक का सहयोगी गिरफ्तार (Photo Credit: फाइल फोटो)

highlights

  • प्रवर्तन निदेशालय ने शिवसेना विधायक के सहयोगी को किया गिरफ्तार
  • इससे पहले ईडी ने प्रताप सरनाईक के करीबी दोस्त को भी किया था गिरफ्तार
  • ED ने प्रताप सरनाईक के घर, दफ्तरों और उनके कारोबारी सहयोगियों समेत 10 ठिकानों पर मारा था छापा 

नई दिल्ली:

Money Laundering Case : प्रवर्तन निदेशालय ( Enforcement Directorate) ने मंगलवार को शिवसेना विधायक प्रताप सरनाईक (Shiv Sena MLA Pratap Sarnaik) के सहयोगी योगेश देशमुख को गिरफ्तार कर लिया है. ईडी (ED) ने मनी लॉन्ड्रिंग केस में योगेश देशमुख (Yogesh Deshmukh arrested) को गिरफ्तार किया है. आपको बता दें कि इससे पहले ईडी ने प्रताप सरनाईक के सबसे करीबी दोस्त अमित चंदोल (Amit Chandel) को गिरफ्तार कर लिया था. इससे पहले ईडी ने प्रताप सरनाईक के घर, दफ्तरों और उनके कारोबारी सहयोगियों समेत 10 ठिकानों पर छापा भी मारा था.

कंगना की दाऊद से तुलना करने वाले उद्धव के मंत्री प्रताप सरनाईक पर भी लगे अवैध निर्माण के आरोप

आपको बता दें कि कंगना रनौत (kangana ranaut) की दाऊद इब्राहिम (Dawood Inrahim) से तुलना करने वाले शिवसेना के नेता और महाराष्ट्र सरकार में मंत्री प्रताप सरनाईक (Pratap Sarnaik) पर भी अवैध निर्माण के आरोप लग चुके हैं. सरनाईक पर आरोप था कि उन्होंने मुंबई से सटे ठाणे में एक 13 मंजिला इमारत खड़ी कर दी थी, जिसकी ऊपर की चार मंजिलें अवैध थी. इस इमारत को सिर्फ नौ मंजिल तक बनाने की अनुमति थी. पेशे से बिल्डर सरनाईक ने अधिकारियों की मिलीभगत कर 13 मंजिला इमारत खड़ी कर दी थी. सामाजिक कार्यकर्ताओं के ऐतराज के बाद मामला कोर्ट में गया था. कोर्ट ने थाने म्युनिसिपल कॉरपोरेशन को ऊपर के 4 मंजिल ढहाने के आदेश भी दिए थे लेकिन इमारत में रह रहे लोगों की याचिका पर सुनवाई करते हुए अदालत ने डिमोलिशन पर स्टे लगा दिया था.

दाऊद की संपत्ति पर भी कार्रवाई नहीं

ये वही बीएमसी है जिसे दो महीने पहले ही भिंडी बाजार इलाके में अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम (Dawood Ibrahim) की प्रोपर्टी न तोड़ने पर हाईकोर्ट की कड़ी फटकार लगी थी. दाऊद इब्राहिम की मुंबई के भिंडी बाजार में अवैध संपत्ति है. हाजी इस्माइल मुसाफिरखाना नाम की इमारत को लेकर बीएमसी ने अभी तक कोई कार्रवाई नहीं की है. भिंडी बाजार में आतंकी दाऊद इब्राहिम से इमारत को लेकर हाईकोर्ट से कड़ी फटकार लगी थी. जून 2020 में बॉम्बे हाईकोर्ट ने BMC और महाराष्ट्र हाउसिंग एंड एरिया डेवलपमेंट अथॉरिटी (MHADA) को फटकार लगाते हुए पूछा था कि उन्होंने भिंडी बाजार में स्थित जीर्ण-शीर्ण इमारत को क्यों नहीं ध्वस्त किया? हाईकोर्ट की एकल पीठ ने तभी चेताया था कि मानसून आने पर अगर ये इमारत या इसका कोई हिस्सा गिरता है तो इससे जानमाल की क्षति हो सकती है.

मनी लांड्रिंग मामले में DHFL डायरेक्टर कपिल वधावन को ED ने किया था गिरफ्तार

प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने दीवान हाउसिंग फाइनेंस लिमिडेट (DHFL) के चेयरमैन और मैनेजिंग डायरेक्टर कपिल वाधवान (Kapil Wadhawan) को मनी लांडरिंग(Money Laundering) मामले में गिरफ्तार कर लिया था. बताया जा रहा है कि कपिल वाधवान को इकबाल मिर्ची के खिलाफ चल रहे मनी लॉन्ड्रिंग के केस के सिलसिले में गिरफ्तार किया है. आपको बता दें कि पिछले साल नवंबर में भी प्रवर्तन निदेशालय ने डीएचएफल के चेयरमैन कपिल वाधावन को पूछताछ के लिए तलब किया था. 

प्रवर्तन निदेशालय (ED) तस्कर इकबाल मिर्ची से संबंधों को लेकर दीवान हाउसिंग फाइनेंस कॉर्प लिमिटेड के मुख्य प्रबंध निदेशक कपिल वधावन को गिरफ्तार कर लिया. मीडिया में आयीं खबरों के मुताबिक बताया जा रहा है कि कपिल ने सौदों से संबंधित कुछ दस्तावेज पहले भी प्रवर्तन निदेशालय के निर्देश पर जमा किए थे. पिछले साल नवंबर से ही कपिल ईडी के राडार पर थे.

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 06 Apr 2021, 11:48:29 PM

For all the Latest States News, Maharashtra News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो