News Nation Logo

मुंबई में खेल का मैदान बना राजनीति का अखाड़ा, टीपू सुल्तान के नाम पर भड़की BJP

मुंबई का खेल का मैदान राजनीति का अखाड़ा बना हुआ है, मुंबई के मलाड इलाके में नवनिर्मित खेल के मैदान के नामकरण को लेकर राजनीति तेज हो गयी है.

News Nation Bureau | Edited By : Pradeep Singh | Updated on: 25 Jan 2022, 04:27:07 PM
tipu sultan

टीपू सुल्तान पार्क, मुंबई (Photo Credit: News Nation)

मुंबई:  

महाराष्ट्र की राजनीति में इस समय टीपू सुल्तान खलनाय़क बने हुए है. टीपू सुलातान के नाम पर राज्य की राजनीति में घमासान मचा हा. मुंबई का खेल का मैदान राजनीति का अखाड़ा बना हुआ है, मुंबई के मलाड इलाके में नवनिर्मित खेल के मैदान के नामकरण को लेकर राजनीति तेज हो गयी है. राज्य सरकार के मंत्री असलम शेख द्वारा मैदान का नाम मैसूर के राजा रहे टीपू सुल्तान के नाम पर रखने का भाजपा विरोध कर रही है. महाराष्ट्र के कैबिनेट मंत्री और कांग्रेस नेता असलम शेख ने मलाड में एक मैदान का नाम टीपू सुल्तान के नाम पर रखने का फैसला किया है. इसका उद्घाटन गणतंत्र दिवस के मौके पर मंत्री महोदय करने वाले हैं. हालांकि उद्घाटन के पहले ही यह मैदान विवादों में आ गया है. विपक्षी भाजपा टीपू सुल्तान के नाम पर खेल के मैदान का नामाकरण करने का विरोध कर रही है.

कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष नाना पटोले ने भाजपा पर निशाना साधते हुए कहा कि, “ टीपू सुल्तान के नाम पर पार्क का नामकरण कोई असलम शेख ने नही किया है, बहुत पहले से है ये गार्डेन, लेकिन बीजेपी ने ऐसा नहीं किया था, असलम शेख ने सिर्फ उसका नूतनीकरण किया है.बीजेपी का हिंदुत्व केवल नकली हिॆदुत्व है.”

भाजपा सांसद गोपाल शेट्टी का कहना है कि मुगल सोच रखने वाले नए लोग नया विवाद पैदा कर रहे है. टीपू सुल्तान के नाम पर आपत्ति है. मैदान का नाम एपीजे अब्दुल कलाम, मौलाना अब्दुल कलाम के नाम पर रखे हम स्वागत करेंगे.

यह भी पढ़ें: आरपीएन सिंह BJP में शामिल, मोदी-योगी की तारीफ, कहा-देर आए दुरुस्त आए

बीजेपी प्रवक्ता और विधायक राम कदम ने असलम शेख की खिंचाई करते हुए कहा कि राज्य के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे हिंदुत्व के मुद्दे पर दूसरों को नसीहत दे रहे थे. अब उनकी ही सरकार में मंत्री मुंबई में टीपू सुल्तान के नाम से एक मैदान का लोकार्पण करने जा रहे हैं.

राम कदम ने कहा कि यह वही टीपू सुल्तान है जिसने एक नहीं बल्कि हजारों हिंदुओं का कत्ल किया है. हिंदुओं के मंदिर तोड़े हैं, उन्हें प्रताड़ित किया है. क्या महाराष्ट्र के हिंदुत्ववादी मुख्यमंत्री ऐसे शख्स के सम्मान में, उसके नाम पर मैदान का लोकार्पण बर्दाश्त करेंगे? वह भी महाराष्ट्र की भूमि पर.

मुम्बई भाजपा युवा मोर्चा के अध्यक्ष तेजिन्द्र सिंह तिवाना ने मैदान का नाम टीपू सुल्तान की जगह छत्रपति शिवाजी महाराज का नाम रखने के लिए कहा, तेजिन्द्र सिंह तिवाना ने कहा कि अगर टीपू सुल्तान के नाम पर उदघाट्न होगा तो उसके पहले हम टीपू सुल्तान के नाम का बोर्ड तोड़ देंगे.

विश्व हिंदू परिषद भी विरोध में
महाराष्ट्र सरकार के इस कदम का विरोध विश्व हिंदू परिषद ने भी किया है. वीएचपी प्रवक्ता श्रीराज नायर ने कहा कि हम असलम शेख के इस कदम का विरोध करते हैं. अगर महाराष्ट्र सरकार इस फैसले पर रोक नहीं लगाती है तो हम इसका कानूनी रूप से विरोध करेंगे. उन्होंने कहा कि देश भर में कई महापुरुष हुए हैं. उनमें से किसी के नाम पर भी इस मैदान का नाम रखा जाना चाहिए. टीपू सुल्तान ने हिंदुओं का नरसंहार किया है. ऐसे में उसके नाम पर मैदान का नाम नहीं रखा जाना चाहिए.

शिवसेना का आरोप
वहीं इस मामले पर बोलते हुए मुंबई के मेयर किशोरी पेडनेकर बीजेपी पर सवाल उठाए हैं. उन्होंने कहा कि साल 2013 में बीजेपी ने गोवंडी में एक पार्क का नाम टीपू सुल्तान के नाम पर रखा था. अब जब मुंबई के मलाड इलाके में एक और मैदान का नाम टीपू सुल्तान के नाम पर रखा जा रहा है तो बीजेपी इसका विरोध कर रही है. इस बात से बीजेपी का दोगलापन पता चलता है.

First Published : 25 Jan 2022, 04:27:07 PM

For all the Latest States News, Maharashtra News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.