News Nation Logo

अपराधियों पर लगाम कसने के लिए RPF ड्रोन का लेगी सहारा, रेलवे ट्रैक की ऐसे करेगी हिफाजत

ड्रोन की मदद से उन लोगों को रोका जा सकता है जो अपनी जान जोखिम में डालकर रेलवे ट्रैक पार करते हैं. इसके साथ ही उन अपराधियों पर भी शिकंजा कसा जा सकता है जो रेलवे ट्रैक में तोड़फोड़ या लोहे की चोरी करते हैं. 

News Nation Bureau | Edited By : Nitu Pandey | Updated on: 14 Aug 2021, 01:55:24 PM
drone

अपराधियों पर लगाम कसने के लिए RPF ड्रोन का लेगी सहारा (Photo Credit: न्यूज नेशन ब्यूरो )

highlights

  • रेलवे ट्रैक की सुरक्षा में उड़ाए जाएंगे ड्रोन
  • आरपीएफ की मदद करेगी ड्रोन
  • अपराधियों पर लगाया जा सकता है लगाम 

नई दिल्ली :

रेलवे ट्रैक अब ड्रोन की निगरानी में रहेगी. मध्य रेलवे (Central railway) ने रेलवे ट्रैक की सुरक्षा को मजबूत करने के लिए ड्रोन का इस्तेमाल करने का फैसला किया है. अब रेलवे पटरियों की निगरानी आरपीएफ के जवान के साथ-साथ ड्रोन भी करेगी. ड्रोन की मदद से उन लोगों को रोका जा सकता है जो अपनी जान जोखिम में डालकर रेलवे ट्रैक पार करते हैं. इसके साथ ही उन अपराधियों पर भी शिकंजा कसा जा सकता है जो रेलवे ट्रैक में तोड़फोड़ या लोहे की चोरी करते हैं. स्वतंत्रता दिवस के मौके पर सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए जाएंगे. 

स्वतंत्रता दिवस के मद्देनजर किसी भी अप्रिय घटना को रोकने के लिए ड्रोन का इस्तेमाल किया जाएगा. मीडिया रिपोर्ट की मानें तो मध्य रेल आजादी के पर्व को आतंकियों और अपराधियों के साये से दूर रखने के लिए हम ड्रोन का इस्तेमाल रेलवे ट्रैक और रेल टनल के आसपास कर रहे है. 

स्वतंत्रता दिवस में रेलवे ट्रैक पर सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम

मध्य रेलवे के वरिष्ठ अधिकारी जितेंद्र श्रीवास्तव ने एक निजी वेबसाइट से बातचीत में बताया कि यह कोई पहली बार नहीं है जब ड्रोन का इस्तेमाल किया जा रहा है. हम इसके पहले भी ड्रोन का प्रयोग करते रहे हैं. अभी अलर्ट को देखते हुए इसका ज्याद इस्तेमाल कर रहे हैं. 

इसे भी पढ़ें:और महंगी होगी घरेलू विमान यात्रा, सरकार ने निचली-ऊपरी सीमा बढ़ाई

नशेड़ियों पर ड्रोन की आंखें लगी रहेगी

रेलवे ट्रैक पर आए दिन किसी ना किसी की मौत होती है. रेल पटरियों के साथ पास रहने वाले लोग या भी नशेड़ी बेपरवाही से इसे पार करते हैं. जिसमें इनकी जान चली जाती है. ऐसे लोगों पर भी लगाम लगाने के लिए ड्रोन का इस्तेमाल किया जाएगा. 

ड्रोन के जरिए आरपीएफ उन जगहों को चिन्हित करेगी. फिर उसे बंद करेगी. ताकि लोग उधर से क्रॉस ना करें.  फिलहाल ठाणे से कल्याण स्टेशन के बीच और इर्दगिर्द में ड्रोन उड़ाएंगे जाएंगे. 

और पढ़ें:Covishield के दो टीकों के बाद बूस्टर डोज भी जरूरीः साइरस पूनावाला

इसके साथ ही ड्रोन आरपीएफ की मदद करेगी. जैसे वास्तविक लोकेशन पर पहुंचकर अपराधियों की संख्या पहले ही बता देगी. जिससे आरपीएफ मजबूती के साथ उनका मुकाबला कर सकेंगी.

First Published : 14 Aug 2021, 01:55:24 PM

For all the Latest States News, Maharashtra News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.