News Nation Logo

तबलीगी जमात में शामिल 10 लोगों के खिलाफ गैर इरादतन हत्या का मामला दर्ज, गिरफ्तार

लॉकडाऊन के नियमों का पालन ना करते हुए, उन्होंने कुछ मस्जिदों में भेंट दी. जिसमें धारावी के एक मस्जिद भी शामिल है.

News Nation Bureau | Edited By : Sushil Kumar | Updated on: 28 Apr 2020, 08:50:10 AM
प्रतीकात्मक फोटो

प्रतीकात्मक फोटो (Photo Credit: फाइल फोटो)

मुंबई:

Coronavirus (Covid-19) : इंडोनेशिया के नागरिक और तबलीगी जमात (Tabligi Jamaat) में शामिल दस लोगों पर गैर इरादतन हत्या का मामला महाराष्ट्र के बांद्रा पुलिस ने दर्ज किया है. यह लोग 23 मार्च को दिल्ली से मुंबई आए थे. लॉकडाऊन (Lockdown) के नियमों का पालन ना करते हुए, उन्होंने कुछ मस्जिदों में भेंट दी. जिसमें धारावी के एक मस्जिद भी शामिल है. इन्हें तलाश कर क्वारंटाइन किया गया था. क्वारंटाइन खत्म होने के बाद इन्हें गिरफ्तार किया गया है.

यह भी पढ़ें- 'कोरोना को कमजोर कर सकती है गर्मी, प्रतिरक्षा में बीसीजी वैक्सीन मददगार' 

तबलीगी जमातियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई 

वहीं इससे पहले उत्तर प्रदेश पुलिस ने तबलीगी जमातियों (Tabligi Jamaat) के खिलाफ और भी सख्ती तेज कर दी है. कोरोना के बढ़ते संक्रमण (Corona Virus) के बीच पुलिस ने जमातियों के खिलाफ शिकंजा कसना शुरू कर दिया. जमात में शामिल होकर आए विदेशी नागरिकों और अन्य जमातियों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई तेज हो गई है. पुलिस ने अब तक ऐसे 200 से अधिक आरोपियों को सलाखों के पीछे पहुंचा दिया था. क्वारंटाइन किए जाने के बाद अब तक 97 विदेशी नागरिकों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया था. जिनके लिए आगे की राह और भी मुश्किल होगी. 

यह भी पढ़ें- 'कोरोना को कमजोर कर सकती है गर्मी, प्रतिरक्षा में बीसीजी वैक्सीन मददगार' 

पुलिस ने 200 लोगों को किया था गिरफ्तार

निजामुद्दीन में तब्लीगी जमात में शामिल होकर आए 92 से अधिक जमातियों को भी पुलिस ने सलाखों के पीछे पहुंचाया. इन जमातियों के खिलाफ धारा 188 के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है. इनमें कई ऐसे भी हैं, जिन्होंने विदेशी जमातियों को शरण और मदद की थी. लखनऊ पुलिस ने अब तक सबसे अधिक 23 विदेशी नागरिकों को जेल भेज दिया है. बहराइच में 11 अप्रैल को 17 विदेशी तब्लीगी जमातियों को जेल भेजा गया था. 

यह भी पढ़ें- 'कोरोना को कमजोर कर सकती है गर्मी, प्रतिरक्षा में बीसीजी वैक्सीन मददगार' 

जमातियों के जद में आए कई मदरसा

इसके बाद लखनऊ में 23, बुलंदशहर में 16, जौनपुर में 14, भदोही में 11 व प्रयागराज में 16 विदेशी जामातियों को जेल भेजने की कार्रवाई की गई है. कानपुर में कोरोना पॉजिटिव केसों में सबसे ज्यादा मदरसे के छात्र शामिल हैं. तीन मदरसों के करीब 40 छात्रों में कोरोना वायरस की पुष्टि हुई है. दिल्ली के मरकज़ से लौटे जमातियों के संपर्क में आने से सभी छात्र संक्रमित हुए थे. संक्रमित छात्र जाजमऊ, कुलीबाज़ार और मछरिया के मदरसे के हैं. इनमें अधिकांश छात्र बिहार और पश्चिम बंगाल के हैं.

First Published : 28 Apr 2020, 08:39:02 AM

For all the Latest States News, Maharashtra News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.