News Nation Logo

एनआईए कर सकती है महाराष्ट्र के व्यवसाई मनसुख हिरेन की मौत की जांच

एनआईए के एक सूत्र ने कहा कि आतंकवाद-रोधी जांच एजेंसी जल्द ही इस मामले को अपने हाथ में ले सकती है, क्योंकि दोनों मामलों के तार एक दूसरे से जुड़े हुए हैं. एनआईए ने काले रंग के मर्सिडीज बेंज को भी जब्त कर लिया.

News Nation Bureau | Edited By : Ravindra Singh | Updated on: 17 Mar 2021, 06:02:37 PM
mansukh hiren

मनसुख हिरेन (Photo Credit: आईएएनएस)

highlights

  • मनसुख हिरेन की मौत की जांच कर सकती है NIA
  • मुकेश अंबानी के घर के बाहर मिला था विस्फोटक
  • इस घटना से जुड़े हो सकते हैं हिरेन की मौत के तार

मुंबई:

राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) मुंबई के व्यवसायी मनसुख हिरेन की मौत की जांच कर सकती है. हिरेन का शव यहां ठाणे में एक क्रीक में पाया गया था. 3 मार्च को, एनआईए ने मुंबई में रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन मुकेश अंबानी के घर एंटीलिया के बाहर 20 जिलेटिन की छड़ें और एक धमकी भरे नोट के साथ पाए गए एसयूवी की जांच अपने हाथ में ले ली है. यह घटना 25 फरवरी की है. आतंकवाद-रोधी जांच एजेंसी ने 13 मार्च को मुंबई के पुलिस अधिकारी सचिन वाजे को गिरफ्तार किया था. उन्हें 25 मार्च तक एनआईए की हिरासत में भेज दिया गया है.

एनआईए के एक सूत्र ने कहा कि आतंकवाद-रोधी जांच एजेंसी जल्द ही इस मामले को अपने हाथ में ले सकती है, क्योंकि दोनों मामलों के तार एक दूसरे से जुड़े हुए हैं. एनआईए ने काले रंग के मर्सिडीज बेंज को भी जब्त कर लिया, जिसका इस्तेमाल वाजे ने किया था. मर्सिडीज के अलावा, एनआईए ने 5 लाख रुपये नकद, एक करेंसी नोट गिनने की मशीन और कुछ कपड़े भी जब्त किए. हिरेन की मौत के मामले की जांच वर्तमान में महाराष्ट्र पुलिस के आतंकवाद निरोधक दस्ते (एटीएस) द्वारा जांच की जा रही है, जिसकी निगरानी मुख्य अतिरिक्त महानिदेशक जय जीत सिंह और उप महानिरीक्षक शिवदीप लांडे द्वारा की जा रही है.

हिरेन की डेड बॉडी गायब होने के एक दिन बाद 5 मार्च को मिली थी. महाराष्ट्र पुलिस के सूत्रों ने कहा कि 4 मार्च की रात को, हिरेन के मोबाइल लोकेशन अक्सर बदलते रहे. सूत्र ने दावा किया कि हिरेन के मोबाइल फोन की आखिरी लोकेशन तुंगेश्वर नेशनल पार्क थी. सूत्र ने आगे दावा किया कि 4 मार्च की रात में, अंतिम लोकेशन वसई शहर का था और तब जाकर फोन बंद हो गया. उन्होंने आगे दावा किया कि आश्चर्यजनक रूप से अगले 15 मिनट में फोन लोकेशन तुंगेश्वर राष्ट्रीय उद्यान पर मिला, जो वसई शहर से 14 किमी दूर है.

सूत्र ने कहा कि हिरेन का मोबाइल फोन बरामद होना अभी बाकी है. जांच से जुड़े एनआईए के एक सूत्र ने कहा कि वाजे कथित तौर पर एंटीलिया के पास उस जगह पर मौजूद थे, जहां विस्फोटक से भरी एसयूवी 25 फरवरी को पार्क की गई थी. सोमवार को निलंबित किए गए विवादास्पद एपीआई वाजे ने मौके से भागने के लिए एक पुलिस कार (टोयोटा इनोवा) का इस्तेमाल किया. बाद में इनोवा को मुंबई पुलिस आयुक्तालय कार्यालय से जब्त कर लिया गया. उन्होंने कहा कि प्रारंभिक जांच के दौरान, यह पाया गया कि इनोवा को अपराध को अंजाम देने के 25 फरवरी की रात को आयुक्तालय कार्यालय से बाहर निकाला गया था, लेकिन रजिस्टर में वाहन की कोई एंट्री नहीं है.

एक और महत्वपूर्ण साक्ष्य जो वाजे को कटघरे में खड़ा कर सकता है, वह विक्रोली पुलिस स्टेशन में चोरी की गई एसयूवी (महिंद्रा स्कॉर्पियो) की एक एफआईआर का पंजीकरण है. एनआईए अधिकारियों को संदेह है कि एसयूवी की कभी चोरी नहीं हुई थी. वाहन का उपयोग वाजे द्वारा किया जा रहा था और उनके आवासीय सोसायटी में पार्क किया गया था. अपराध को अंजाम देने के बाद, वाजे ने कथित तौर पर अपनी सोसायटी में खड़ी एसयूवी के सीसीटीवी फुटेज को जब्त करने के लिए डिजिटल वीडियो रिकॉर्डर (डीवीआर) ले लिया.

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 17 Mar 2021, 06:02:37 PM

For all the Latest States News, Maharashtra News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.