News Nation Logo

नारायण राणे की होगी गिरफ्तारी, नासिक पुलिस हुई रवाना

नासिक पुलिस ने एफआईआर दर्ज की है और गिरफ्तारी के लिए रवाना हो गई है. हालांकि नारायण राणे की गिरफ्तारी कोरोना गाइडलाइंस का उल्लंघन करते हुए जन आशीर्वाद रैली निकालने को लेकर है.

News Nation Bureau | Edited By : Nitu Pandey | Updated on: 24 Aug 2021, 11:02:02 AM
narayan rane2

केंद्रीय मंत्री नारायण राणे (Photo Credit: फाइल फोटो)

highlights

  • केंद्रीय मंत्री नारायण राणे की हो सकती है गिरफ्तारी
  • नासिक पुलिस गिरफ्तार करने के लिए हुई रवाना 

नई दिल्ली :

केंद्रीय मंत्री नारायण राणे (Union minister Narayan Rane) ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री और शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) को लेकर अपमानजनक टिप्पणी की है, जिसके बाद राजनीति गरमा गई है. नासिक पुलिस ने एफआईआर दर्ज की है और गिरफ्तारी के लिए रवाना हो गई है. केंद्रीय मंत्री राणे ने उद्धव ठाकरे को 'थप्पड़' मारने की बात कही थी. नारायण राणे ने ये बयान जन आशीर्वाद यात्रा के दौरान दिया था. इसके बाद उनके खिलाफ तीन पुलिस थानों में FIR दर्ज की गई है. राणे के खिलाफ नासिक, पुणे और महाड़ में केस दर्ज किया गया है. नारायण राणे के खिलाफ IPC 153, 189, 504, 505 (2) और 506 के तहत मामला दर्ज किया गया है. 

दरअसल, केंद्रीय मंत्री राणे ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान उद्धव ठाकरे को लेकर विवादित बयान दिया. राणे ने कहा कि उद्धव ठाकरे को यह तक नहीं पता था कि आजाद हुए भारत को कितने साल हो चुके हैं. अगर मैं वहां होता तो उन्हें थप्पड़ मारता. 

नारायण राणे के बेटे ने शिवसैनिकों और मुंबई पुलिस को दी चेतावनी 

वहीं, नारायण राणे के बेटे नितेश राणे ने मुंबई पुलिस को चेतावनी दी है. ट्वीट करके नितेश राणे ने कहा है कि अगर शिवसेना के युवा सैनिक राणे के जुहू स्थित घर पर आते हैं तो जो होगा उसके जिम्मेदार हम नहीं होंगे. शेर की मांद में घुसने की कोशिश मत करना. हम इंतजार कर रहे होंगे. इसके साथ ही राणे ने मुबई पुलिस को भी चेतावनी दी. उन्होंने कहा कि रोक लो शिवसैनिकों को वरना जिम्मेदारी हमारी नहीं होगी. 

इसे भी पढ़ें:तालिबान को लेकर आज हो सकता है बड़ा फैसला, एक मंच पर दिखेंगी दुनिया की 7 बड़ी ताकतें

नारायण राणे ने अपने पीसी में कहा कि महाराष्ट्र में व्यवसाय का बुरा हाल है. अगले 10 साल तक लोग अपना सिर दोबारा उपर नहीं कर सकते हैं. यह केवल इस व्यक्ति (उद्धव ठाकरे) की वजह से हुआ. इनके कारण महाराष्ट्र में 1 लाख 57 हज़ार लोगों की कोरोना से मौत हुई है. महाराष्ट्र के आरोग्य विभाग के पास कुछ नहीं है. ना वैक्सीन, ना स्टाफ और ना डॉक्टर. इनको बोलने का अधिकार भी है क्या. 

राणे ने आगे कहा कि कहा कि उन्हें(महाराष्‍ट्र सरकार) नहीं पता कि वह हमें क्या बताएंगे. वे कौन से डॉक्टर हैं? तीसरी लहर की आवाज कहां से आई? और वह यह भी कहती थी कि बच्चे खतरे में हैं और लोगों को डराते हैं. अशुभ मत बोलो. क्या उसे बोलने का अधिकार है? एक सचिव को एक तरफ रख दो और पूछो और बोलो. क्या उस दिन देश को आज़ाद हुए कितने साल हो गए थे? अरे, डायमंड फेस्टिवल के बारे में क्या? अगर मेरे पास होता, तो मैं इसे अपने कान के नीचे रख देता. यह क्या है, देश के स्वतंत्रता दिवस के बारे में आपको नहीं पता होना चाहिए? 

First Published : 24 Aug 2021, 08:51:46 AM

For all the Latest States News, Maharashtra News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो