News Nation Logo
Banner

महालक्ष्मी ट्रेन : बचाव अभियान की खुद निगरानी करें मुख्‍य सचिव, महाराष्ट्र के मुख्‍यमंत्री देवेंद्र फड़णवीस बोले

राज्‍य के बदलापुर और वांगी रेलवे स्‍टेशनों के बीच महालक्ष्मी एक्‍सप्रेस ट्रेन बाढ़ के पानी में फंस गई है.

News Nation Bureau | Edited By : Vikas Kumar | Updated on: 27 Jul 2019, 03:18:23 PM
देवेंद्र फड़णवीस (फाइल फोटो)

highlights

  • महाराष्ट्र में जलभराव में फंसी महालक्ष्मी एक्सप्रेस.
  • ट्रेन में करीब 2000 यात्री हैं सवार. 
  • एनडीआरएफ और लोकल पुलिस की टीम कर बचाव कार्य में लगी.

नई दिल्ली:

बाढ़ में फंसी महालक्ष्मी एक्‍सप्रेस ट्रेन के यात्रियों को सुरक्षित बाहर निकालने के लिए महाराष्‍ट्र के मुख्‍यमंत्री देवेंद्र फड़णवीस ने राज्‍य के मुख्‍य सचिव को अपने स्‍तर पर निगरानी करने को कहा है. राज्‍य के बदलापुर और वांगी रेलवे स्‍टेशनों के बीच महालक्ष्मी एक्‍सप्रेस ट्रेन बाढ़ के पानी में फंस गई है. ट्रेन में 700 यात्री सवार हैं, जिनमें से 500 यात्रियों को सुरक्षित निकाल लिया गया है.
राहत और बचाव कार्य में एनडीआरएफ की चार टीमें लगाई गई हैं. एसटीआरएफ की टीमें भी बचाव में जुटी हैं. इनके अलावा भारतीय नौसेना की दो टीमें, भारतीय वायुसेना के दो हेलीकॉप्‍टर और सेना की दो टुकड़ी यात्रियों के बचाव के लिए लगाई गई हैं.

यह भी पढ़ें: Mahalaxmi Express Rescue Operation- ट्रेन में फंसी थी गर्भवती महिला, हालत नाजुक

बता दें कि आज सुबह ही महालक्ष्मी एक्सप्रेस बाढ़ में जा फसी थी जिसके बाद एनडीआरएफ, एसडीआरएफ के साथ नेवी और एयर फोर्स की मदद से करीब 500 लोगों को अब तक सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया जा चुका है. इसके बाद उन्हें बदलापुर में ले जाएगा.

इसके पहले महालक्ष्मी एक्सप्रेस में एक महिला को लेबर पेन होने की भी खबरें आईं थी. सेंटर्ल रेलवे के डिविजनल रेलवे मैनेजर ने बचाव दल को फंसे यात्रियों को बाहर निकालने के निर्देश दिए हैं. मुंबई में सड़क पर पानी जमा होने से लंबे जाम लग रहे हैं. तेज बारिश के चलते 7 फ्लाइट्स रद्द कर दी गई है, जबकि 9 को डायवर्ट किया गया है.

सेंटर्ल रेलवे के डिविजनल रेलवे मैनेजर ने बचाव दल को फंसे यात्रियों को बाहर निकालने के निर्देश दिए हैं. मुंबई में सड़क पर पानी जमा होने से लंबे जाम लग रहे हैं. तेज बारिश के चलते 7 फ्लाइट्स रद्द कर दी गई है, जबकि 9 को डायवर्ट किया गया है.

यह भी पढ़ें: महाराष्ट्र में NCP को लगा एक और बड़ा झटका, चित्रा वाघ ने भी दिया इस्तीफा

इसके पहले सेंट्रल रेलवे के चीफ पब्लिक रिलेशन ऑफिसर ने पैसेंजर्स से महालक्ष्मी एक्सप्रेस में फंसे पैसेंजर्स से गुजारिश की है कि वो ट्रेन से न उतरें. रेलवे के मुताबिक, ट्रेन सुरक्षित स्थान पर है. ट्रेन पर आरपीएफ और सिटी पुलिस ने नजर बना रखा है. 

महालक्ष्मी एक्सप्रेस के यात्रियों के लिए रेलवे सुरक्षा बल (RPF) के जवान और स्थानीय पुलिस पानी और बिस्कुट के साथ पहुंचे हैं. जल्‍द ही वहां NDRF टीम भी पहुंच चुकी है.

राज्‍य में हालांकि अभी बारिश से राहत मिलने के आसार नहीं हैं. अगले 48 घंटों में मुंबई में तेज बारिश होने की बात कही जा रही है. मौसम विज्ञान विभाग ने लोगों को समुद्र तट पर न जाने की सलाह दी है.

यह भी पढ़ें: महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव से पहले NCP को लगा बड़ा झटका, पार्टी के बड़े नेता सचिन अहीर शिवसेना में शामिल

हालांकि एनडीआरएफ की टीम पूरी तैयारी के साथ वहां पहुंची है और राहत और बचाव कार्य में जुटी हुई है.

मौसम विभाग की ओर से अभी तक दी गई लेटेस्ट जानकारी के अनुसार, सूखा प्रभावित Marathwada region, Nanded, Parbhani और Beed इलाकों में अच्छी खासी बारिश हुई है.

शुक्रवार को भी मौसम विभाग ने मुंबई, ठाणे और पुणे के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया था. मंगलवार से राज्य में मॉनसून फिर से एक्टिव हो गया है. वहीं इसका असर सबसे ज्यादा मुंबई और आसपास के इलाकों पर रहेगा.

First Published : 27 Jul 2019, 02:40:35 PM

For all the Latest States News, Maharashtra News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.