News Nation Logo

Mumbai Bridge Collapse:मुंबई फुटओवर ब्रिज हादसे में अब 6 लोगों की गई जान, रूट डायवर्ट

मुंबई के छत्रपति शिवाजी महाराज टर्मिनस (Chhatrapati Shivaji Terminus) रेलवे स्टेशन के पास गुरुवार रात एक फुटओवर ब्रिज का बड़ा हिस्सा गिर गया.

News Nation Bureau | Edited By : Drigraj Madheshia | Updated on: 15 Mar 2019, 07:43:29 AM
फुटओवर ब्रिज का बड़ा हिस्सा गिर गया

मुंबई:

मुंबई में गुरुवार शाम छत्रपति शिवाजी महाराज टर्मिनस स्टेशन के पास एक बड़ा हादसा हो गया. मुंबई के छत्रपति शिवाजी महाराज टर्मिनस (Chhatrapati Shivaji Terminus) रेलवे स्टेशन के पास एक फुटओवर ब्रिज का बड़ा हिस्सा गिर गया. हादसे में अब तक 6 लोगों की मौत हो गई है. वहीं इस हादसे में 33 लोग घायल हैं. मृतकों के नाम- अपूर्वा प्रभु(35), रंजना तांबे(40), जाहिद सिराज खान(32), भक्ति शिंदे (40), तपेंद्र सिंह(35) और मोहन कायगुंडे(55). ब्रिज हादसे के बाद मुंबई ट्रैफिक पुलिस ने रूट डायवर्ट किया है.

जिस समय हादसा हुआ फुटओवर ब्रिज पर काफी संख्या में लोग थे, क्योंकि यह समय लोगों के ऑफिस से लौटने का था. 'टाइम्‍स ऑफ इंडिया बिल्डिंग (Times Of India Building) के पास सीएसटी (CST) के प्‍लेटफॉर्म संख्‍या एक को बीटी लेन से जोड़ने वाला फुटओवर ब्रिज (Mumbai Foot Overbridge Collapses) गिर गया. हादसे (Bridge collapse) की वजह से ट्रैफिक भी प्रभावित हुआ है. ब्रिज हादसे के बाद मुंबई ट्रैफिक पुलिस ने रूट डायवर्ट किया है.

यह भी पढ़ेंः मुंबई में फुटओवर ब्रिज गिरने से पांच लोगों की मौत, FIR दर्ज, जानें पल-पल का अपडेट

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी ट्वीट कर मुंबई ब्रिज हादसे पर दुख व्यक्त करते हुए कहा, 'मुंबई में फुट ओवरब्रिज दुर्घटना में कई लोगों की जान चली गई. मेरे विचार शोक संतप्त परिवारों के साथ हैं. चाहता हूं कि घायल जल्द से जल्द ठीक हो जाएं. महाराष्ट्र सरकार प्रभावित लोगों को हर संभव सहायता प्रदान कर रही है.'

शाम के वक्त हुआ हादसा

हादसा शाम करीब 7:30 बजे का बताया जा रहा है. मुंबई में शाम के वक्त यह पुल और इसके आस-पास की रोड बहुत व्यस्त रहती है. लेकिन कहा जा रहा है कि जिस वक्त यह हादसा हुआ उस वक्त नजदीकी ट्रेफिक लाइट रेड हो गई थी..नहीं तो इससे भी बड़ा हादसा हो सकता था.

मरने वालों में तीन महिलाएं भी

बताया जा रहा है कि इस हादसे में मरने वालों में तीन महिलाएं भी शामिल हैं. मरने वाली दो महिलाएं मुंबई के जी टी अस्पताल में नर्स का काम करती थीं.

क्या कहा रेलवे ने

इस हादसे पर रेलवे ने कहा है कि इस पुल की देख-रेख का काम बीएमसी (बृहन्मुंबई नगर निगम) का था. हालांकि, हम पीड़ितों को अपनी तरफ से सारा समर्थन प्रदान कर रहे हैं. वहीं रेलवे के डॉक्टर और कर्मी राहत और बचाव कार्यों में बीएमसी का साथ दे रहे हैं.

First Published : 15 Mar 2019, 07:43:21 AM

For all the Latest States News, Maharashtra News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.