News Nation Logo

मैंने वादा निभाया, 'लो मैं आ गया' एकनाथ के साथ: देवेंद्र फडणवीस

महाराष्ट्र में एकनाथ शिंदे की अगुवाई में शिवसेना-बीजेपी सरकार ने फ्लोर टेस्ट पास कर लिया है. फ्लोर टेस्ट के बाद राज्य के उप-मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने अपनी प्रतिक्रिया दी. उन्होंने कहा कि मैंने वादा किया था कि मैं लौट कर आउंगा...

Abhishek Pandey | Edited By : Shravan Shukla | Updated on: 04 Jul 2022, 12:58:11 PM
Anand Dighe

Anand Dighe (Photo Credit: Dev_Fadnavis)

highlights

  • देवेंद्र फडणवीस ने सदन में किया ऐलान-लो मैं आ गया
  • फडमवीस ने एकनाथ शिंदे की जमकर की तारीफ
  • मैंने एमवीए के बारे में कहा था कि ये नेचुरल अलायंस नहीं

मुंबई:  

महाराष्ट्र में एकनाथ शिंदे की अगुवाई में शिवसेना-बीजेपी सरकार ने फ्लोर टेस्ट पास कर लिया है. फ्लोर टेस्ट के बाद राज्य के उप-मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने अपनी प्रतिक्रिया दी. उन्होंने कहा कि मैंने वादा किया था कि मैं लौट कर आउंगा, देखो मैं आ गया. इस बार तो मैं अपने साथ एकनाथ शिंदे को भी लाया हूं. देवेंद्र फडणवीस ने महाराष्ट्र में ईडी के असली मतलब को भी समझाया. उन्होंने कहा कि वोटिंग के दौरान पीछे एक सदस्य ईडी-ईडी चिल्ला रहे थे. सही कह रहे थे. ईडी मतलब ई से एकनाथ और डी से देवेंद्र है.

कर्मयोगियों के लिए पद के मायने नहीं

इस दौरान देवेंद्र फडणवीस ने एकनाथ शिंदे की तारीफ करते हुए कहा कि वो लगातार जनहित में काम करते हैं. वो बालासाहेब ठाकरे और आनंद दिघे के विचारों को आगे बढ़ाने वाले नेता हैं. देवेंद्र ने कहा कि जिनके कर्म महान होते हैं उनके लिए पद अहमियत नहीं रखता है. पद उनका अपने आप पीछा करता है. शिंदे साहब ने शिवसेना के शाखाप्रमुख से लेकर आज महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री पद का सफर तय किया है.

ईडी 24 घंटे जनता के लिए रहेगी उपलब्ध

इस दौरान देवेंद्र फडणवीस ने अशोक चव्हाण जैसे नेताओं की चुटकी लेते हुए उन्हें धन्यवाद भी ज्ञापित कर दिया. फडणवीस ने कहा कि विधानसभा में जिन सदस्यों ने बाहर रह कर विश्वास प्रस्ताव पास करने में बाहर से मदद की उनका मैं अप्रत्यक्ष रूप से आभार मानता हूं. दरअसल, अशोक चव्हाण सदन तक नहीं पहुंच पाए थे और मतदान से चूक गए थे. फिर से शिंदे के बाद बात करते हुए फडणवीस ने कहा कि शिंदे साहब इतना काम करते हैं कि वे सोते कब हैं, पता नहीं चलता है. लोग 24/7 काम करते हैं. वे 72 घंटे बाद सोने जाते हैं. तीन-तीन दिन लगातार काम करते हुए मैंने उनको देखा है. वे अपने राजनीतिक गुरु आनंद दिघे की तरह आम आदमी के लिए काम करने वाले नेता हैं. शिंदे के पर कतरने की कोशिशें कई बार हुईं. लेकिन अपने उत्तम काम की वजह से वे कभी पर्दे के पीछे नहीं गए. आगे भी मैं और एकनाथ शिंदे जनता के लिए 24 घंटे उपलब्ध रहने का वादा करता हूं.

ये भी पढ़ें: महाराष्ट्र: मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे सरकार ने पास किया फ्लोर टेस्ट, विपक्ष धराशाई

'लो मैं आ गया'

देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि मैंने शुरुआत में ही कहा था कि एमवीए सरकार नेचुरल अलायंस में नहीं है. टिकेगी नहीं. लेकिन लोग नहीं मानें. मैंने पद छोड़ते समय कहा था, कि मैं फिर आऊंगा. लोगों ने तब भी मजाक उड़ाया. तो लीजिए, मैं आ गया. शिंदे शाहब को भी लेकर आया हूं. मुझे अपने केंद्रीय नेतृत्व पर पूरा भरोसा है. ऐसे में वो अगर मुझे सरकार से दूर रहने को बोलते, तो मैं वो भी करता. इस दौरान उन्होंने ईडी को लेकर भी विपक्ष पर तंज कसा. फडणवीस ने कहा कि जब-जब सत्ता निरंकुश होती है, तब-तब चाणक्य को चंद्रगुप्त तलाश करना पड़ता है. वोटिंग के दौरान पीछे एक सदस्य ईडी-ईडी चिल्ला रहे थे. सही कह रहे थे. ईडी मतलब ई से एकनाथ और डी से देवेंद्र है.

First Published : 04 Jul 2022, 12:58:11 PM

For all the Latest States News, Maharashtra News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.