News Nation Logo
अनन्या पांडे से सोमवार को फिर पूछताछ करेगी NCB अभिनेत्री अनन्या पांडे एनसीबी कार्यालय से रवाना हुईं, करीब 4 घंटे चली पूछताछ DRDO ने ओडिशा के चांदीपुर रेंज से हाई-स्पीड एक्सपेंडेबल एरियल टारगेट (HEAT) का सफल परीक्षण किया कल जम्मू-कश्मीर जाएंगे गृहमंत्री अमित शाह दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण की बैठक 27 अक्टूबर को, छठ पूजा उत्सव के लिए ली जाएगी अनुमति 1971 के भारत-पाक युद्ध ने दक्षिण एशियाई उपमहाद्वीप के भूगोल को बदल दिया: सीडीएस जनरल बिपिन रावत माता वैष्णों देवी मंदिर में तीर्थयात्रियों के बीच कोरोना का प्रसार रोकने के लिए नए दिशा-निर्देश जारी दिल्ली जा रही फ्लाइट में एक आदमी की अचानक तबीयत ख़राब होने पर फ्लाइट की इंदौर में इमरजेंसी लैंडिंग 1971 का युद्ध, इसमें भारतीयों की जीत और युद्ध का आधार बेहद खास है: राजनाथ सिंह केंद्र सरकार की टीम उत्तराखंड में आपदा से हुई क्षति का आकलन कर रही है: पुष्कर सिंह धामी रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने आज बेंगलुरु में वैमानिकी विकास प्रतिष्ठान का दौरा किया शिवराज सिंह चौहान ने शोपियां मुठभेड़ में शहीद जवान कर्णवीर सिंह को सतना में श्रद्धांजलि दी मुंबई के लालबाग इलाके में 60 मंजिला इमारत में लगी भीषण आग उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव: कल शाम छह बजे सोनिया गांधी के आवास पर कांग्रेस सीईसी की बैठक

Maharashtra Rain Update : पीएम मोदी और अमित शाह ने महाराष्ट्र त्रासदी पर जताया शोक, पढ़ें पूरे दिन का अपडेट Live

मुंबई और आसपास के जिलों में लगातार जारी बारिश की वजह से बाढ़ का कहर महाराष्ट्र में देखने को मिल रहा है. इस भीषण बाढ़ की वजह से अभी तक 8 लोगों की मौत हो चुकी है. रायगढ़, रत्नागिरी और कोल्हापुर जिलों में कई नदियां खतरे के निशान से ऊपर बह रही हैं.

News Nation Bureau | Edited By : Rajneesh Pandey | Updated on: 23 Jul 2021, 06:55:07 PM
Maharashtra Rain

बारिश से बेहाल महाराष्ट्र, कई जिलों में आई बाढ़ (Photo Credit: News Nation)

मुंबई:

कोरोना महामारी से अभी जंग खत्म नहीं हुई कि महाराष्ट्र पर कुदरत ने बारिश का कहर ढा दिया. जिससे अब तक कुल 56 मौतें हो चुकी हैं. शुक्रवार को महाराष्ट्र में क्या आवासीय इलाके, क्या सड़कें, क्या गांव, क्या शहर, सब कुछ बारिश में बहता और डूबता हुआ दिखाई दिया. इस भीषण बाढ़ की वजह से रायगढ़, रत्नागिरी और कोल्हापुर जिलों में कई नदियां खतरे के निशान से ऊपर बहने लगी. पुणे मंडल में संभावित बाढ़ की स्थिति को देखते हुए सतारा, सांगली और कोल्हापुर जिलों में भी एनडीआरएफ की इकाइयों को तैनात किया गया है. नदियों के खतरे के निशान के ऊपर बहने की वजह से लोग बुरी तरह फंस गए हैं. 

प्रधानमंत्री मोदी का बड़ा ऐलान, रायगढ़ में लैण्डस्लाइड में मरे लोगों के परिजनों को 2 लाख रूपये और घायलों को 50 हजार की आर्थिक मदद.

महाराष्ट्र में भीषण बारिश की वजह से 33 ट्रेनों को दूसरे रूट के लिए डाइवर्ट कर दिया गया है. वहीं 51 ट्रेनों को आधे रास्ते में रोक दिया गया, 48 ट्रेनों को पूर्णत: रद्द कर दिया गया है.

वहीं पश्चिमी घाट वाले इलाकों, जिसमे पुणे ग्रामीण का अम्बेगांव, चाकन, बारामती में भी भारी बरसात से लोगों की मुश्किलें बढ़ गई है.


12 ज्योतिलिंग में से एक भीमा शंकर ज्योतिर्लिंग के आसपास 2 एसडीआरएफ की टीमों को तैनात किया गया है. बीती रात से वेस्टर्न घाट वाले इस पहाड़ी इलाके में तेज बरसात हो रही है. इसी भीमाशंकर की पहाड़ी पर कुछ साल पहले मलिन गांव पहाड़ धंसने से बह गया था और कई सौ लोगों की मौत हुई थी. इसके अलावा सतारा, कोल्हापुर, महाबलेश्वर, सांगली में भी तेज बरसात से कई नदियों में बढ़ आई हुई है.

वहीं ठाणे रूरल के कल्याण, भिवंडी, बदलापुर, कसारा, मुंब्रा, कौसा, डोम्बिलवाली में भी कई निचले इलाकों में जलजमाव है और यातायात अवरूद्ध है.


ठाणे ग्रामीण के कई इलाकों में एसडीआरएफ और फायर ब्रिगेड की टीमें राहत और बचाव कार्य में जुटी हैं. वहीं पालघर जिले के तटीय इलाकों में भी लोकल प्रसाशन एसडीआरएफ के साथ अलर्ट है हालांकि पालघर में अब तक ज्यादा तबाही की तस्वीर सामने नहीं आई है.

रायगढ़ और कोंकण को मुम्बई से जोड़ने वाले मुम्बई-गोवा महामार्ग पर कई छोटी नदियों में बाढ़ आ गई है- जिसके कारण अंग्रेजों के जमाने में बनाए गए नदियों के ऊपर के पुल से पानी बह रहा है, जिसके कारण सभी वाहनों को रोक कर गोवा ओल्ड हाईवे को बन्द कर दिया गया है. गोआ और कोंकण जाने के लिए अब लोगों को मुम्बई से पुणे, सतारा, कोल्हापुर बाय पास होते हुए कोंकण जाना पड़ रहा है.

कोंकण के दोनों जिलो में नेवी के 2 हेलीकॉप्टर और रायगढ़ जिले के महाड तहसील में नेवी के 2 हेलीकॉप्टर फंसे हुए लोगों की तलाश कर रहे हैं. नेवी की टीम सड़क पर पानी में उतर कर रबर बोट और स्पीड बोट के जरिये भी सर्च और रेस्क्यू के काम में उतर आई है. रायगढ़ के महाड के अलावा कर्जत, खेड़, अलीबाग, पनवेल में भी भारी बारिश से कई इलाके जलमग्न हैं.


 

महाराष्ट्र के कोंकण के दोंनो जिलों रत्नागिरी और सिंधुदुर्ग में वैसे तो 10 से ज्यादा तहसीलें और 200 से ज्यादा गांव पानी की चपेट में आए हैं, लेकिन सबसे ज्यादा नुकसान रत्नागिरी के चिपुलन शहर को हुआ है. चिपुलन शहर में इस वक़्त एनडीआरएफ की 2 टीम और एसडीआरएफ की 3 टीम लोगो की मदद के लिए जुटी है.


इसके अलावा रत्नागिरी जिले में एनडीआरएफ की कुल 4 टीम और एसडीआरएफ की 6 टीम अलग अलग तहसीलों में रेस्क्यू और सर्च के काम में जुटी है. जिला कलेक्टर दफ्तर की तरफ से लगातार दोनों जिलों पर नजर बनी हुई है. इसके अलावा नेवी भी अब आज सुबह से सर्च अभियान में जुट गई है.


 

First Published : 23 Jul 2021, 09:35:14 AM

For all the Latest States News, Maharashtra News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.