News Nation Logo

CBI, पुलिस, ED और इनकम टैक्स BJP के चार कार्यकर्ता, संजय राउत का बड़ा हमला

संजय राउत ने आगे कहा, इंदिरा गांधी के काल में इमरजेंसी को काला दिन कहा जाता था. पर जो कल महाराष्ट्र में हुआ उससे बड़ा काला दिन और कुछ नही हो सकता है

न्यूज स्टेट ब्यूरो | Edited By : Aditi Sharma | Updated on: 24 Nov 2019, 10:32:41 AM
उद्धव ठाकरे और संजय राउत

नई दिल्ली:

महाराष्ट्र में जारी सियासी घमासान के बीच शिवसेना नेता संजय राउत ने एक बार फिर बीजेपी पर निशाना साधा है. रविवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस में उन्होंने कहा, अजित पवार को तोड़कर सरकार बनाना बीजेपी को उल्टा पड़ जायेगा. एनसीपी के सभी विधायक वापस लौट आये हैं. उन्होंने कहा, बीजेपी को हम व्यापारी समझते थे पर इस बार वो फेल हो गए. हमारे पास 165 विधायकों का समर्थन है. पहले मैंने 170 बोला था 5 लोग गायब हैं. महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री ने शपथ ले ली और ये बात महाराष्ट्र की जनता को ही नहीं पता थी.

संजय राउत ने आगे कहा, इंदिरा गांधी के काल में इमरजेंसी को काला दिन कहा जाता था. पर जो कल महाराष्ट्र में हुआ उससे बड़ा काला दिन और कुछ नही हो सकता है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की जो प्रतिमा देश में निर्माण हुई उसी को खराब करने का काम उनके ही पार्टी के लोग कर रहे हैं.

संजय राउत ने कहा, अगर 10 मिनट में भी राज्यपाल ने हमें बुलाया तो हम बहुमत साबित कर सकते हैं. हमारे पास बहुमत तैयार है. कल का दिन ब्लैक saturday था. जनता सोयी थी और जब जागी तब उनको पता चला कि महाराष्ट्र में शपथ हो गई. उन्होंने बीजेपी हमला करते हुए कहा, ऐसा काम पॉकेटमार करते हैं. एनसीपी और शिवसेना को 24 घंटे नहीं देते लेकिन अजित पवार एक फर्ज़ी डॉक्यूमेंट लेकर जाते हैं और उनको मान लिया जाए. उन्होंने कहा, अजित पवार ने जो किया वो पवार साहब के मर्ज़ी नही थी. ये सब बीजेपी का फैलाया हुआ भ्रम है. अजित पवार ने विधायकों कों फंसाया और अजित पवार को बीजेपी ने फंसाया. अजित पवार ने शरद पवार के पीठ पर खंजर भोंका है. संजय राउत ने आगे कहा, सीबीआई, पुलिस, ED, इनकम टैक्स ये बीजेपी के चार कार्यकर्ता हैं.

यह भी पढें: देवेंद्र फडणवीस को बहुमत के लिए चाहिए होगा निर्दलीय और छोटे दलों के MLA का साथ

बता दें, महाराष्ट्र में शनिवार को हुए उलटफेर से शिवसेना, एनसीपी और कांग्रेस, तीनों दलों को तगड़ा झटका लगा है.

यही वजह है कि महाराष्ट्र में नई सरकार के गठन का मामला अब देश की सर्वोच्च अदालत में पहुंच गया है. राज्यपाल के फैसले के खिलाफ शिवसेना, कांग्रेस और एनसीपी ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की, जोकि सुप्रीम कोर्ट में मंजूर भी हो गई. इस मामले में सुप्रीम कोर्ट आज यानी रविवार सुबह 11.30 बजे सुनवाई करेगा. रविवार के दिन जस्टिस एनवी रमना, जस्टिस अशोक भूषण और जस्टिस संजीव खन्ना की बेंच सुनवाई करेगी. कोर्ट नंबर-2 में इस मामले की सुनवाई होगी.

यह भी पढें: बीजेपी पर संजय राउत का प्रहार, CM देवेंद्र फडणवीस के शपथग्रहण को बताया Accidental

शिवसेना, कांग्रेस और एनसीपी ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल करके महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी के उस आदेश को रद्द करने की मांग की गई है, जिसमें उन्होंने सूबे में सरकार बनाने के लिए देवेंद्र फडणवीस को आमंत्रित किया था. तीनों दलों ने सुप्रीम कोर्ट में दाखिल याचिका में 288 सदस्यीय महाराष्ट्र विधानसभा में 154 विधायकों के समर्थन का दावा भी किया है. उन्होंने कोर्ट से जल्द-से-जल्द सुनवाई करने की मांग की थी.

First Published : 24 Nov 2019, 10:12:58 AM

For all the Latest States News, Maharashtra News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.