News Nation Logo
Banner

कोविड 19 पर बयान को लेकर बीजेपी नेता के खिलाफ हो कार्रवाई- शिवसेना की मांग

पार्टी ने कहा, 'अवधूत वाघ ने जो कहा वह अंधविश्वास विरोधी कानूनों के तहत कार्रवाई करने के लिए एकदम उचित है

Bhasha | Updated on: 31 Mar 2020, 12:57:24 PM
uddhav tahckrey

उद्धव ठाकरे (Photo Credit: फाइल फोटो)

मुंबई:

शिवसेना ने कोविड-19 पर बयान को लेकर महाराष्ट्र बीजेपी प्रवक्ता अवधूत वाघ के खिलाफ मंगलवार को कार्रवाई की मांग की. शिवसेना ने वाघ के खिलाफ कार्रवाई की मांग जिन्होंने लॉकडाउन के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की घोषणा पर राज्य के मंत्री जयंत पाटिल की आलोचना को सांगली में 25 लोगों के कोरोना वायरस से संक्रमित होने की घटना से जोड़ने की कोशिश की. शिवसेना ने अपने मुखपत्र ‘सामना’ में कहा कि ऐसी टिप्पणियां प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की न सिर्फ छवि खराब करती हैं बल्कि ज्योतिबा फूले, साहू महाराज और बी आर आंबेडकर जैसे समाज सुधारकों एवं प्रगतिशील नेताओं की विरासत को आहत करती हैं.

यह भी पढ़ें: वसीम रिजवी बोले- तब्लीगी जमात ने 'कोरोना बम' बनाकर भेजे भारत, मिले मौत की सजा

पार्टी ने कहा, 'अवधूत वाघ ने जो कहा वह अंधविश्वास विरोधी कानूनों के तहत कार्रवाई करने के लिए एकदम उचित है.' संपादकीय में कहा गया, 'जब लोग बंद का उल्लंघन करते हुए बाहर आ जाते हैं, तो यह मोदी या महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री की गलती नहीं है. जिन लोगों ने अपनी यात्रा के विवरण छिपाए और पृथक रहने संबंधी नियमों का उल्लंघन किया वही राज्य में यह संकट लेकर आए हैं.' एक अजीब बयान में वाघ ने रविवार को कहा था कि राकांपा नेता एवं राज्य जल संसाधन मंत्री जयंत पाटिल को मोदी की आलोचना करने के लिए 'सजा' मिली.

यह भी पढ़ें: लॉकडाउन के दौरान कैसे कम करें तनाव, पीएम मोदी ने बताया ये आसान तरीका

पाटिल पश्चिमी महाराष्ट्र के सांगली जिले से हैं जहां इस्लामपुर तहसील के एक परिवार के 25 सदस्यों में कोविड-19 की पुष्टि हुई थी. इस्लामपुर पाटिल का विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र है. पाटिल ने एक के बाद एक कई ट्वीट कर कहा था कि 24 मार्च को रात आठ बजे बंद की घोषणा करने के बजाय प्रधानमंत्री को प्रवासी मजदूरों को पर्याप्त समय देना चाहिए था ताकि वह बंद के प्रभाव का सामना करने के लिए आवश्यक प्रबंध कर सकें। वाघ की टिप्पणी पाटिल के बयान के खंडन में आया थी. भाजपा नेता की टिप्पणियों की आलोचना करते हुए शिवसेना ने कहा, 'राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप मोदी के बड़े प्रशंसक हैं और इसके बावजूद कोरोना वायरस ने अमेरिका में कोहराम मचा रखा है. न्यूयॉर्क जैसा शहर चुप हो गया है। क्या कोई स्पष्ट कर सकता है कि इस्लामपुर और न्यूयॉर्क को किसने सजा दी?' पार्टी ने कहा जब वायरस अपना शिकंजा कसता जा रहा है तब भाजपा के प्रवक्ता जो चाहे कह रहे हैं.

First Published : 31 Mar 2020, 12:55:30 PM

For all the Latest States News, Maharashtra News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

×