News Nation Logo

Madhya Pradesh: 1 साल में एक लाख युवाओं को सरकारी नौकरी, CM ने किया ऐलान

Nitendra Sharma | Edited By : Shravan Shukla | Updated on: 23 Jul 2022, 02:55:49 PM
MP CM Shivraj Singh Chauhan

MP CM Shivraj Singh Chauhan (Photo Credit: File/News Nation)

highlights

  • मध्य प्रदेश में सरकार ने कसी कमर
  • एक साल में 1 लाख युवाओं को नौकरी
  • यूथ महापंचायत में सीएम चौहान ने की घोषणा

भोपाल:  

मध्य प्रदेश में सरकार ने 2023 के विधानसभा चुनाव की तैयारियां शुरू कर दी है. जिसके लिये युवाओं को साधने की भी शुरूआत कर दी गई है. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (MP CM Shivraj Singh Chauhan) ने आने वाले एक साल में 1 लाख सरकारी भर्तियों को करने का ऐलान किया है. 15 अगस्त से मध्य प्रदेश में ये अभियान प्रारंभ होगा, जिसमें युवाओं को सरकारी नौकरियां दी जायेंगी. चौहान ने शनिवार को यूथ महापंचायत (Youth Maha Panchayat) में ये ऐलान किया. चौहान ने हर महीने 2 लाख युवाओं को स्वरोजगार योजनाओं के अंतर्गत लोन दिए जाने की भी बात कही. उन्होंने कहा कि इसके लिये हर माह रोजगार मेले लगाए जा रहे हैं.

मध्य प्रदेश में 40 लाख से युवा बेरोजगार

शिवराज सिंह चौहान ने मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में नई युवा नीति लाए जाने की भी घोषणा की. उन्होंने कहा कि नई नीति 12 जनवरी विवेकानंद जयंती तक लागू कर दी जाएगी. इसके साथ ही युवा पुरस्कार दिए जाने की भी घोषणा की. उन्होंने कहा कि युवा पंचायत भी हर साल की जायेगी. इसके साथ ही प्रदेश में राज्य स्तरीय युवा सलाहकार परिषद का भी गठन किया जायेगा. युवाओं को 'मां तुझे प्रणाम' योजना के अंतगृत अंतराष्ट्रीय सीमाओं पर भेजा जाएगा. मध्य प्रदेश में अगले साल विधानसभा चुनाव होना है. विधानसभा चुनावों में बेरोजगारी को बड़ा मुद्दा माना जा रहा है. मध्य प्रदेश में 40 लाख से अधिक युवा बेरोजगार हैं. इन युवाओं को खुश करने के लिये सरकार अब उन्हें सरकारी क्षेत्र में नौकरी देने की तैयारी कर रही है.

ये भी पढ़ें: यात्री को बिना मेडिकल जांच प्लेन में बैठने से रोका तो खैर नहीं, DGCA ने दिए ये निर्देश

दो साल से सरकारी नौकरियों में भर्तियां बंद

बता दें कि प्रदेश में लगभग दो साल से सरकारी नौकरियों में भर्तियां बंद हैं. व्यापम के माध्यम से प्रदेश में सरकारी नौकरियों केा लेकर परीक्षा ली जाती है. पिछले एक साल से यह परीक्षाएं भी नहीं ली गयी हैं. इसके अलावा ओबीसी आरक्षण का मामला न सुलझ पाने के कारण भी सरकारी भर्तियां नहीं हो पा रही हैं. कांग्रेस भी चुनावों को देखते हुए युवाओं की बेरोजगारी को बड़ा मुद्दा बना रही है. इसके साथ ही प्रदेश में अपनी संभावनाएं टटोल रही आम आदमी पार्टी भी युवाओं को साधने का प्रयास कर रही है. आम आदमी पार्टी के प्रवक्ता अक्षय हुंका का कहना है कि युवाओं के लिए घोषणाएं तो भाजपा और कांग्रेस दोनों ने की है, लेकिन असल में दोनों ने ही जमीन पर काम नहीं किया.

First Published : 23 Jul 2022, 02:02:01 PM

For all the Latest States News, Madhya Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.