News Nation Logo
Banner

शिवराज और कमल नाथ के बीच और बढ़ी तकरार, उपचुनाव पर रार

मध्य प्रदेश में विधानसभा और लोकसभा उप-चुनाव की तारीख करीब आने के साथ मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और कांग्रेस के प्रदेशाध्यक्ष कमल नाथ के बीच तल्खी बढ़ रही है.

News Nation Bureau | Edited By : Nihar Saxena | Updated on: 22 Oct 2021, 12:15:51 PM
Kamalnath Shivraj

उपचुनाव को लेकर शिवराज-कमलनाथ में तेज हुई तीखी तकरार. (Photo Credit: न्यूज नेशन)

highlights

  • शिवराज और कमल नाथ के बीच तल्खी बढ़ रही
  • उपचुनाव के मद्देनजर आरोप-प्रत्यारोप और तेज
  • योजनाओं को लेकर कांग्रेस-बीजेपी आमने-सामने

भोपाल:  

मध्य प्रदेश में विधानसभा और लोकसभा उप-चुनाव की तारीख करीब आने के साथ मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और कांग्रेस के प्रदेशाध्यक्ष कमल नाथ के बीच तल्खी बढ़ रही है, दोनों ही एक दूसरे पर हमले बोल रहे है. आने वाले दिनों में बयानों में और तल्खी आने की संभावना बनी हुई है. राज्य के तीन विधानसभा क्षेत्रों जोबट, पृथ्वीपुर व रैगांव के साथ खंडवा संसदीय क्षेत्र में उपचुनाव है. मतदान 30 अक्टूबर को होना है. इन चुनावों में देानों ही दल जीत की आस लगाए बैठे हैं यही कारण है कि हमलों का सिलसिला भी लगातार बढ़ता जा रहा है.

एक-दूसरे को कलाकार बताने की होड़
पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा पंधाना छेगांव माखन और सनावद की सभाओं में एक बार फिर एक्टर करार देते हुए कहा कि शिवराज एक अच्छे एक्टर हों, अच्छे कलाकार हों, कलाकारी खूब अच्छे से जानते हों, सुबह से रात तक झूठ बोलते हों, जनता को गुमराह करते हों, रोज झूठी घोषणाएं करते हों, आपको तो राजनीति छोड़कर मुंबई चले जाना चाहिए और वहां कलाकारी करना चाहिए. कमल नाथ ने आरोप लगाया कि पिछले 17 वर्ष में 22 हजार से अधिक झूठी घोषणाएं की हैं. हम तो रोज विकास पर बात कर रहे हैं. हम महंगाई की बात कर रहे हैं. किसानों की बात कर रहे हैं. खाद के संकट की बात कर रहे हैं. बिजली के संकट की बात कर रहे हैं. बारिश से खराब फसलों की बात कर रहे हैं. युवाओं के रोजगार की बात कर रहे हैं. बहन-बेटियों के सम्मान व सुरक्षा की बात कर रहे हैं लेकिन आप तो विकास की बात छोड़ सिर्फ गुमराह करने वाले मुद्दे, झूठी घोषणाएं, झूठे भूमि पूजन, झूठे शिलान्यास और झूठे नारियल फोड़ने में ही लगे हुए हैं.

योजनाओं को आधार बना हो रहे हमले
वहीं दूसरी ओर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने खंडवा संसदीय क्षेत्र में जनसभा में कमल नाथ पर तीखे हमले बोले और कहा, कांग्रेस के नेता आते हैं भाषण फटकारते हैं और कमलनाथ भाषण कम देते हैं और ट्विटर-ट्विटर ज्यादा खेलते हैं. कमलनाथ मुझे रोज ट्वीट करते रहते हैं, जरा इनसे भी पूछें तो कि तुमने कितनी सिंचाई की योजनाएं बनाईं. मुख्यमंत्री ने कहा कि जब दिग्विजय सिंह मुख्यमंत्री थे और यहीं राजनारायण सिंह जो अभी कांग्रेस के प्रत्याशी हैं उन्होंने दिग्विजय सिंह से पुनासा लिफ्ट इरीगेशन योजना की मांग की थी तो दिग्विजय सिंह ने कहा था कि काहे कि सिंचाई योजना, पैसा कहां से आयेगा, लेकिन जब भारतीय जनता पार्टी की सरकार आई और पुनासा लिफ्ट इरीगेशन योजना पूरी हो रही हैं.

शिवराज का कांग्रेस पर हमला
शिवराज ने कांग्रेस पर आरोप लगाया कि कांग्रेस का विकास से कोई लेना देना नहीं है. चुनाव में रोटी, कपड़ा, मकान और पढ़ाई, दवाई और रोजगार मुद्दा होता है, लेकिन कांग्रेस के पास कोई मुद्दा नहीं है, इसलिए वह महिलाओं पर अनर्गल बयानबाजी कर रहे हैं. केन्द्रीय मंत्री श्रीमती स्मृति ईरानी पर कांग्रेस नेताओं की टिप्पणी उनकी भ्रष्ट मानसिकता को दर्शाती है. कांग्रेसी यह भूल गए हैं कि यह वही स्मृति ईरानी हैं जिन्होंने इनके नेता राहुल गांधी को अमेठी में धूल चटाई है.

First Published : 22 Oct 2021, 12:15:51 PM

For all the Latest States News, Madhya Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.