News Nation Logo

कोरोना संकट में मध्य प्रदेश को मिले ढाई लाख से ज्यादा रेमडेसिविर इंजेक्शन

मध्यप्रदेश में कोरोना संक्रमितों (Corona Infection) के लिए जीवन-रक्षक रेमडेसिविर इंजेक्शन (Life Saver Remedicivir Injection) की आपूर्ति का दौर जारी है, राज्य को अब तक ढाई लाख से ज्यादा इंजेक्शन वाइल की उपलब्धता सुनिश्चित हुई है.

By : Ravindra Singh | Updated on: 10 May 2021, 04:30:00 AM
remdesivir injection

रेमडेसिविर इंजेक्शन (Photo Credit: आईएएनएस)

भोपाल:

मध्यप्रदेश में कोरोना संक्रमितों (Corona Infection) के लिए जीवन-रक्षक रेमडेसिविर इंजेक्शन (Life Saver Remedicivir Injection) की आपूर्ति का दौर जारी है, राज्य को अब तक ढाई लाख से ज्यादा इंजेक्शन वाइल की उपलब्धता सुनिश्चित हुई है. आधिकारिक जानकारी के अनुसार, प्रदेश में सात कंपनियों के रेमडेसिविर इंजेक्शन (Remedicivir Injection) की सप्लाई प्रदेश में हो रही है. अब तक दो लाख 54 हजार 125 रेमडेसिविर इंजेक्शन की उपलब्धता सुनिश्चित की गई है. सभी फार्मा कंपनियों (Farma Companies) से अधिकारी निरंतर संपर्क में हैं, प्रदेश में रेमडेसिविर इंजेक्शन की आपूर्ति के लिए निरंतर प्रयास जारी है.

रेमडेसिविर निर्माताओं (Remedicivir Injection Producer) को मध्यप्रदेश में इसकी सप्लाई बढ़ाई जा रही है, वहीं सभी को जरूरत के अनुसार उचित दाम पर रेमडेसिविर (Remedicivir Injection) की सुगम उपलब्धता के साथ ही इसकी कालाबाजारी एवं अवैध विक्रय की रोकथाम के निर्देश प्रदेश के सभी औषधि निरीक्षकों को जारी किए गए हैं. औषधि निरीक्षकों द्वारा रेमडेसिविर इंजेक्शन की आपूर्ति एवं वितरण पर सतत निगरानी रखी जा रही है. अस्पतालों में भर्ती मरीजों को रेमडेसिविर इंजेक्शन की सुलभ उपलब्धता के उद्देश्य से इसका वितरण केवल अस्पताल एवं संस्थानों में हो, ऐसी व्यवस्था भी की गई है.

ऑक्सीजन के परिवहन को त्वरित एवं प्रभावी बनाने के लिए राज्य शासन द्वारा अनुमति प्राप्त ऑक्सीजन वाहन को एम्बुलेंस के समक्ष माना गया है. ऑक्सीजन के तीन टैंकर ट्रेन के माध्यम से आज आए हैं, जिन्हें कटनी, सागर, ग्वालियर और शिवपुरी भेजा गया है. रविवार को टैंकर एयरलिफ्ट कर सात रांची और दो जामनगर को भेजे जाएंगे. ऑक्सीजन की निर्वाध सप्लाई सुनिश्चित करने के लिए निर्माताओं एवं डिस्ट्रीब्यूटर्स से सतत संपर्क किया जा रहा है.

मध्यप्रदेश के सागर जिले के बीना में भारत-ओमान रिफाइनरी लिमिटेड (बीओआरएल) के नजदीक कोरोना मरीजों के लिए बनाए जा रहे एक हजार बिस्तर के अस्थायी अस्पताल का केंद्रीय पेटोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान और मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने रविवार को निरीक्षण किया. प्रधान ने कहा कि मध्यप्रदेश जल्द ही ऑक्सीजन के मामले में आत्मनिर्भर होगा. बीओआरएल में बन रहे अस्पताल के निर्माण को लेकर हुई समीक्षा बैठक में प्रधान ने कहा कि यहां अस्पताल का बड़े पैमाने पर निर्माण कार्य चल रहा है. बीना रिफाइनरी की इंडस्ट्रियल ऑक्सीजन को मेडिकल ऑक्सीजन में कन्वर्ट कर मरीजों के लिए उपयोग में लिया जाएगा. 

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 10 May 2021, 04:30:00 AM

For all the Latest States News, Madhya Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.