News Nation Logo
Banner

मध्य प्रदेश की राजनीति में फिर आया भूचाल, गुरुग्राम के होटल में पहुंचे 8 विधायक

इससे पहले कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने आरोप लगाया था कि बीजेपी राज्य सरकार को अस्थिर करने के लिए उनकी पार्टी के विधायकों को रिश्वत देने की कोशिश कर रही है.

News State | Edited By : Yogesh Bhadauriya | Updated on: 04 Mar 2020, 07:40:54 AM
प्रतीकात्मक तस्वीर

प्रतीकात्मक तस्वीर (Photo Credit: News State)

Bhopal:  

मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) की राजनीति में एक बार फिर भूचाल आ गया है. दरअसल कांग्रेस ने बीजेपी पर आरोप लगाते हुए कहा कि बीजेपी प्रदेश सरकार को अस्थिर करने की मनसा से कांग्रेस पार्टी (Congress Party) के चार और बाहर से समर्थन दे रहे निर्दलीय और सपा-बसपा के विधायकों सहित 8 विधायकों को लेकर गुरुग्राम (Gurugram) के एक होटल में ले गई है. इससे पहले कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह (Digvijaya Singh) ने आरोप लगाया था कि बीजेपी राज्य सरकार को अस्थिर करने के लिए उनकी पार्टी के विधायकों को रिश्वत देने की कोशिश कर रही है. दिग्विजय सिंह ने दावा किया था कि पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Former Chief Minister Shivraj Singh Chauhan) और बीजेपी के एक अन्य वरिष्ठ नेता नरोत्तम मिश्रा (Narottam Mishra) 25-35 करोड़ रुपये देकर कांग्रेस के विधायकों को लुभाने की कोशिश कर रहे हैं. जानकारी के अनुसार पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और नरोत्तम मिश्रा दिल्ली में ही हैं

बता दें, पिछले साल जुलाई में विपक्ष के नेता गोपाल भार्गव ने राज्य विधानसभा में कमलनाथ सरकार पर हमला करते हुए कहा था, 'ऊपर से आदेश है. तुम्हारी सरकार नहीं बचेगी.' 24 जुलाई 2019 को भार्गव ने कहा था, 'हमारे ऊपर वाले नंबर 1 या नंबर 2 का आदेश हुआ तो आपकी सरकार 24 घंटे भी नहीं चलेगी. हालांकि इसके बाद राज्य विधानसभा में आपराधिक कानून (मध्य प्रदेश संशोधन) विधेयक, 2019 पर चर्चा के दौरान कमलनाथ सरकार के पक्ष में 122 वोट पड़े थे जो राज्य राज्य की 231 सदस्यीय विधानसभा में बहुमत से सात अधिक है.

यह भी पढ़ें- ज्योतिरादित्य सिंधिया के राज्यसभा में जाने की बेरुखी से कांग्रेस में बढ़ी बेचैनी

उस दौरान बीजेपी के दो विधायकों ने कांग्रेस सरकार के पक्ष में मतदान किया था. वर्तमान में राज्य विधानसभा में 228 सदस्य हैं. दो विधायकों की मृत्यु के बाद दो सीटें खाली है. फिलहाल कांग्रेस के पास 114, बीजेपी के 107 विधायक है. शेष नौ सीटों में से दो बसपा के पास हैं जबकि सपा का एक विधायक है. वहीं विधानसभा में चार निर्दलीय विधायक हैं.

मंगलवार सुबह से ही चल रही थी सुगबुगाहट

दरअसल, दिग्विजय ने मंगलवार सुबह ट्वीट किया था कि बीजेपी के पूर्व मंत्री भूपेद्र सिंह ने रामबाई को चार्टर्ड प्लेन से दिल्ली ले गए हैं. उन्होंने यह भी कहा कि भगवा पार्टी, कांग्रेस-एसपी-बीएसपी के विधायकों को दिल्ली ले जाने की कोशिश कर रही है. रामबाई के पति गोविंद सिंह ने हालांकि यह कहा कि वह बेटी के इलाज के लिए दिल्ली गई हैं और वह कमलनाथ सरकार के साथ ही हैं. वहीं, इसके पहले कमलनाथ ने दिग्विजय सिंह के आरोपों का समर्थन करते हुए कहा था कि बीजेपी विधायकों को खरीदने की कोशिश कर रही हैं.

First Published : 04 Mar 2020, 07:01:06 AM

For all the Latest States News, Madhya Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

Related Tags:

Congress Bhopal Kamal Nath Bjp