News Nation Logo

इंदौर डबल मर्डर केस का खुलासा, नाबालिग बेटी ने ही करवाया माता-पिता का कत्ल

मध्य प्रदेश के इंदौर के डबल मर्डर केस में एक सनसनीखेज खुलासा है, जिसे सुनकर हर कोई दंग रह गया. दरअसल, इस हत्या के पीछे और कोई नहीं बल्कि उनकी ही बेटी है. पुलिस जांच में पता चला है कि नाबालिग लड़की ने ही अपने माता-पिता की हत्या साजिश रची थी.

News Nation Bureau | Edited By : Vineeta Mandal | Updated on: 19 Dec 2020, 04:56:37 PM
murder kannouj

बेटी ने रची अपने माता-पिता के कत्ल की साजिश (Photo Credit: (सांकेतिक चित्र))

इंदौर:

मध्य प्रदेश के इंदौर के डबल मर्डर केस में एक सनसनीखेज खुलासा है, जिसे सुनकर हर कोई दंग रह गया. दरअसल, इस हत्या के पीछे और कोई नहीं बल्कि उनकी ही बेटी है. पुलिस जांच में पता चला है कि नाबालिग लड़की ने ही अपने माता-पिता की हत्या साजिश रची थी. उसने अपने प्रेमी से पिता ज्योति प्रसाद शर्मा और मां नीलम शर्मा की हत्या करवा दी. बता दें कि मृतक ज्योति प्रसाद पुलिस में तैनात थे. आरोपी बेटी ने अपना गुनाह कुबूल करते हुए बताया कि उसने भी अपने माता-पिता पर कई बार हमला किया था.

डीआईजी  ने बताया कि लड़के ने अपने दोस्त को किसी ओर के मोबाइल से कॉल किया. क्योंकि, दोनों शातिरों की तरह अपना-अपना मोबाइल यहीं छोड़ गए थे. सभी परिचितों के मोबाइल ट्रेसिंग पर थे, इसलिए पुलिस को टिप मिल गई. इसके बाद इंदौर पुलिस की सूचना पर मंदसौर पुलिस ने उन्हें पकड़ लिया.

और पढ़ें: दिग्विजय सिंह ने BJP को बताया सबसे भ्रष्ट पार्टी, लगाएं कई गंभीर आरोप

जानकारी के मुताबिक, नाबालिग लड़की अभी 9वीं क्लास में पढ़ती है और उसके परीक्षा में 80 से ज्यादा परसेंट भी आए है. इसके अलावा वो अंग्रेजी भी काफी अच्छा बोलती है. इस घटना को जिसने भी सुना वो हर कोई हैरान है कि कोई बच्ची अपने ही माता-पिता के साथ ऐसा कैसे कर सकती है. फिलहाल पुलिस ने आरोपी लड़की को बाल सुधार गृह भेज दिया है. वहीं उसके प्रेमी आरोपी धनंजय को 3 दिन के लिए रिमांड पर लिया है.

नाबालिग लड़की ने पुलिस को दिए गए बयान में बताया कि मेरी मां बहुत गलत थी, वो बहुत ज्यादा मेकअप करती थी और दिनभर मोबाइल पर किसी से भी बातें करती रहती थी. यहीं वजह है कि मैं नहीं चाहती थी कि उनके साथ रहूं. भाई इंदौर से चला गया तो उसके दोस्त मेरी जासूसी करते थे. वहीं जब मेरे ब्यॉफ्रेंड के बारे में पिता जी को पता चला तो उन्होंने मेरी पिटाई कि, इसलिए उन्हें भी मारना जरूरी हो गया था.

वहीं आरोपी धनंजय ने पुलिस को बताया कि बुधवार को तड़के 3.30 बजे लड़की ने उसे फोन किया और कहा कि पापा बहुत ज्यादा शराब पीकर आए हैं. इसके बाद मैं 4 बजे उसके घर पहुंच गया. घर के आगे वाले कमरे में लड़की की मां सोई हुई थी इसलिए मैंने पहले उनकी हत्या कर दी. उनकी चीख सुनकर लड़की के पापा बाहक आए और फिर मैंने उनपर भी हमला कर दिया. इसके बाद हमने अलमारी से 1 लाख रुपए निकाले और सुबह कैमरे का डीवीआर बंद कर भाग गए. हम दोनों दोस्त की एक्टिवा से गांधीनगर पहुंचे, एक्टिवा लौटाई और घर से बाइक लेकर विजयनगर चौराहे चले गए. यहां हमने नाश्ता किया और निकल गए. हम प्रतापगढ़ में सैटल होना चाहते थे. लेकिन दोनों पुलिस के गिरफ्त में आ गए.

First Published : 19 Dec 2020, 04:40:06 PM

For all the Latest States News, Madhya Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.