News Nation Logo

48 घंटे में 5 जगह हो चुकी है मॉब लिंचिंग, मगर घटनाओं से बेखबर हैं मध्य प्रदेश के गृह मंत्री

बता दें कि मध्य प्रदेश में पिछले 48 घंटे में अलग-अलग जगह 5 से ज्यादा मॉब लिंचिंग के मामले सामने आ चुके हैं.

Written By : शुभम गुप्ता | Edited By : Dalchand Kumar | Updated on: 21 Jul 2019, 01:22:29 PM
गृह मंत्री बाला बच्चन (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

मध्य प्रदेश की कमलनाथ सरकार भले ही मॉब लिंचिंग पर कानून लाने की बातें कर रही है. बावजूद इसके आए दिन राज्य में कहीं न कहीं मॉब लिंचिंग की घटनाएं सामने आ रही हैं. मगर सूबे के गृह मंत्री राज्य में घटने वाली मॉब लिंचिंग की घटनाओं से बेखबर हैं, उन्हें घटनाओं के बारे में ही जानकारी नहीं है. गृह मंत्री बाला बच्चन ने खुद ये बात कही है. गृहमंत्री का कहना है कि उनको मामलों की जानकारी नहीं है.

यह भी पढ़ें- मीडिया में आलोचना सरकार के लिए मददगार, सीएम कमलनाथ ने कही ये बात

गृह मंत्री बाला बच्चन से जब पत्रकारों ने मॉब लिंचिंग के मामले को लेकर सवाल किया तो गृह मंत्री से जवाब देते नहीं बना. फिर गृह मंत्री ने बयान भी दिया तो वो खुद की सवालों के घेरे में आ गए. पत्रकारों से सवाल पर गृह मंत्री ने कहा, 'पहले मैं इस मामले में अपडेट्स ले लूं तो फिर आपको बताता हूं. मैं देखकर इस ओर कार्यवाई करवाता हूं.'

बता दें कि मध्य प्रदेश में पिछले 48 घंटे में अलग-अलग जगह 5 से ज्यादा मॉब लिंचिंग के मामले सामने आ चुके हैं. पिछले 48 घंटे में राजधानी भोपाल के अलावा कटनी, नीमच, देवास में भीड़ का हिंसक रूप देखने को मिला. शनिवार को भोपाल में बच्चा चोरी के शक में एक युवक को भीड़ ने बेरहमी से पीटा. कटनी जिले के कुठला थाना इलाके में भी गौतस्करी के आरोप में एक युवक की पिटाई का मामला सामने आया.

यह भी पढ़ें- वॉश बेसिन टूटने पर स्कूल ने छात्र को दी बाथरूम साफ करने की सजा, विरोध करने पर काट दिया नाम

इसके अलावा हाल ही में नीमच जिले के कुकडेश्वर थाना क्षेत्र के लसूरिया आतरी गांव में मोर चोरी के शक में एक बुजुर्ग की पीट-पीटकर हत्या कर दी गई. इससे पहले भी नीमच के सिटी कोतवाली क्षेत्र में बकरा चुराने के आरोप में दो युवकों को ग्रामीणों ने बेरहमी से पीटा था. वहीं देवास जिले के कन्नौद क्षेत्र में मानसिक रूप से कमजोर एक महिला को भीड़ ने बच्चा चोर समझकर बुरी तरह से पीट दिया था.

लगातार बढ़ती मॉब लिंचिंग की घटनाओं से कमलनाथ सरकार पहले से ही विरोधियों के निशाने पर है. हालांकि मॉब लिंचिंग पर मुख्यमंत्री कमलनाथ का कहना है कि इस तरह की घटनाए हो रही हैं, इसलिए हम सख्त कानून ला रहे हैं. लेकिन गृह मंत्री बाला बच्चन के ये बचकाना बयान कहीं न कहीं सरकार के लिए मुसीबतें खड़ी कर सकता है.

यह वीडियो देखें- 

First Published : 21 Jul 2019, 01:22:29 PM

For all the Latest States News, Madhya Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो