News Nation Logo
Banner

रतुल पुरी गिरफ्तार पर CM कमलनाथ ने कह डाली ये बड़ी बात

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ के भांजे रतुल पुरी की गिरफ्तारी (Ratul Puri Arrest) की खबरों के बीच कमलनाथ ने अपना बयान दिया है. मीडिया को दिए इस बयान में कमलनाथ ने कहा कि...

By : Yogendra Mishra | Updated on: 20 Aug 2019, 06:29:02 PM
प्रतीकात्मक फोटो।

प्रतीकात्मक फोटो।

highlights

  • कमलनाथ ने किसी भी तरह के कारोबारी संबंध से इनकार किया
  • रतुल पुरी को मंगलवार को गिरफ्तार किया गया है
  • बीजेपी पर लगाया सत्ता के दुरुपयोग का आरोप

भोपाल:

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ के भांजे रतुल पुरी की गिरफ्तारी (Ratul Puri Arrest) की खबरों के बीच कमलनाथ ने अपना बयान दिया है. मीडिया को दिए इस बयान में कमलनाथ ने कहा कि उनका अपने भांजे रतुल के साथ किसी तरह का कोई कारोबारी संबंध नहीं है.

यह भी पढ़ें- भगवान राम भी सभी समस्याओं का समाधान नहीं कर सकते, मध्य प्रदेश के मंत्री ने दिया बयान

कमलनाथ ने भोपाल में कहा कि मेरा रतुल के साथ कभी कोई व्यापारिक संबंध नहीं रहा है. लेकिन उन्होंने रतुल की गिरफ्तारी को राजनीति से प्रेरित बताया. कमलनाथ ने कहा कि रतुल की गिरफ्तारी दुर्भावना से प्रेरित है. उन्होंने बीजेपी पर निशाना साधते हुए कहा कि सभी सरकारी संस्थाओं का दुरुपयोग हो रहा है.

यह भी पढ़ें- हीरा उद्योग को मिलेगी नई जिंदगी, पन्ना में होगा 2700 कैरेट हीरों का एग्जीबिशन

यही वजह है कि विपक्ष के नेताओं को कोई न कोई मामले में उलाझाने की कोशिश की जा रही है. फिर चाहे वो चिंदबरम हों, अहमद पटेल या फिर शिवसेना के नेता. कमलनाथ ने उम्मीद जताई कि अदालत से उनको न्याय मिलेगा.

रतुल पुरी किए गए गिरफ्तार

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ के भांजे रतुल पुरी को प्रवर्तन निदेशालय की टीम ने मंगलवार सुबह गिरफ्तार कर लिया. पुरी को 354 करोड़ रुपये के बैंक धोखाधड़ी मामले में कथित संलिप्तता के लिए गिरफ्तार किया गया है.

यह भी पढ़ें- बीजेपी में जल्‍द शामिल हो सकते हैं ज्योतिरादित्य सिंधिया, अटकलों का बाजार गर्म 

सीबीआई ने शनिवार को, मोसर बेयर के पूर्व कार्यकारी निदेशक और अन्य को 354 करोड़ रुपये के बैंक धोखाधड़ी मामले के संबंध में पुरी पकड़ा था रतुल के अलावा, उनके पिता और प्रबंध निदेशक दीपक पुरी, निर्देशक नीता पुरी (रतुल की मां और कमलनाथ की बहन), संजय जैन और विनीत शर्मा के खिलाफ भी आपराधिक षड्यंत्र, धोखाधड़ी, जालसाजी और भ्रष्टाचार के आरोप में मामला दर्ज किया गया है.

यह भी पढ़ें- 4 ISI एजेंट भारत में घुसे, मध्य प्रदेश में आतंकी गतिविधियों को दे सकते हैं अंजाम 

बैंक की ओर से जारी एक बयान में कहा गया है कि रतुल ने 2012 में कार्यकारी निदेशक के पद से इस्तीफा दे दिया था, जबकि उनके माता-पिता बोर्ड में बने रहे थे. रतुल पुरी को ईडी ने दिल्ली की एक अदालत में पेश किया और 14 दिन की रिमांड मांगी.

First Published : 20 Aug 2019, 06:29:02 PM

For all the Latest States News, Madhya Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

×