News Nation Logo
Banner

ज्योतिरादित्य सिंधिया की सुरक्षा में चूक, 14 पुलिसकर्मी निलंबित

पूर्व केंद्रीय मंत्री और भाजपा के सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) की सुरक्षा में बड़ी चूक हुई है, उनकी गाड़ी कई किलो मीटर तक पायलटिंग के बगैर ही चलती रही.

IANS | Edited By : Deepak Pandey | Updated on: 21 Jun 2021, 10:08:59 PM
Jyotiraditya Scindia

ज्योतिरादित्य सिंधिया की सुरक्षा में चूक, 14 पुलिसकर्मी निलंबित (Photo Credit: IANS)

ग्वालियर:

पूर्व केंद्रीय मंत्री और भाजपा के सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) की सुरक्षा में बड़ी चूक हुई है, उनकी गाड़ी कई किलो मीटर तक पायलटिंग के बगैर ही चलती रही. इस मामले के खुलासे के बाद 14 पुलिस कर्मियों को निलंबित कर दिया गया है. बताया गया है कि सिंधिया रविवार की रात को दिल्ली से सड़क मार्ग से ग्वालियर पहुंचे, उन्हें सोमवार को कोरोना टीकाकरण अभियान में हिस्सा लेना था. सिंधिया की सुरक्षा के लिए सुरक्षा बल के वाहनों को आगे और पीछे चलना था, मगर मुरैना और ग्वालियर के बीच गलतफहमी हो गई और पुलिस का वाहन सिंधिया के वाहन की बजाय दूसरे वाहन की पायलटिंग करता रहा.

वहीं, सिंधिया का वाहन कई किलोमीटर तक बगैर किसी सुरक्षा के चला. ग्वालियर पहुंचने पर हजीरा क्षेत्र में पुलिस अधिकारी ने सिंधिया के वाहन को बगैर सुरक्षा के देखा तो उस अधिकारी ने स्वयं पायलटिंग करते हुए सिंधिया को जयविलास तक पहुंचाया.

सिधिया की सुरक्षा में हुई चूक की बात सामने आने पर ग्वालियर और मुरैना जिले के कुल 14 पुलिस जवानों को निलंबित कर दिया गया है. ग्वालियर के पुलिस अधीक्षक अमित सांघी ने संवाददाताओं को बताया कि ग्वालियर के पांच जवानों को निलंबित किया गया है, वहीं मुरैना के पुलिस अधीक्षक ललित कुमार ने मुरैना के नौ जवानों को निलंबित किया है. वहीं, पूरे मामले की जांच की जा रही है.

मेरी प्राथमिकता जनसेवा, अपने पिता और दादा के नक्शेकदम पर चलता हूं: सिंधिया

आपको बता दें कि पिछले दिनों केंद्रीय मंत्रिमंडल में पोर्टफोलियो के बारे में पूछे जाने पर भाजपा के ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा था कि मेरी प्राथमिकता जनसेवा है और उस विचारधारा को जारी रखते हुए मैंने अपने पिता और दादा के नक्शेकदम पर चलते हुए. पद या कोई पद नहीं लेकिन लोगों की निरंतर सेवा हमारे सिंधिया परिवार का पारंपरिक मूल्य है. 

बता दें कि ज्योतिरादित्या सिंधिया बीजेपी से पहले कांग्रेस के बड़े नेता माने जाते थे. मध्य प्रदेश में सिंधिया का कांग्रेस की सरकार बनाने में बड़ा योगदान माना जाता है. वहीं, जब ज्योतिरादित्या सिंधिया कांग्रेस से बगावत करके बीजेपी में शामिल हुए तो एमपी की कमलनाथ सरकार को गिरा दिया. उनके समर्थक विधायकों के बीजेपी में शामिल होने से प्रदेश में कांग्रेस सरकार अल्पमत में आ गई और गिर गई. 

बीजेपी में जितिन प्रसाद के आने के बाद उनका तमाम पार्टी नेता स्वागत कर रहे हैं. ज्योतिरादित्य सिंधिया ने भी खुशी जताते हुए जितिन प्रसाद का बीजेपी में स्वागत किया है. ज्योतिरादित्य सिंधिया ने जितिन प्रसाद को छोटा भाई बताते हुए कहा कि जितिन आगे बढ़ती पार्टी की मुख्यधारा में आए हैं, उनका स्वागत है. सिंधिया के अलावा उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी जितिन प्रसाद का स्वागत किया है. मुख्यमंत्री योगी ने ट्वीट किया, 'कांग्रेस छोड़कर बीजेपी के वृहद परिवार में शामिल होने पर जितिन प्रसाद का स्वागत है. जितिन प्रसाद के भारतीय जनता पार्टी में शामिल होने से उत्तर प्रदेश में पार्टी को अवश्य मजबूती मिलेगी.'

First Published : 21 Jun 2021, 10:08:59 PM

For all the Latest States News, Madhya Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

LiveScore Live IPL 2021 Scores & Results

वीडियो

×