News Nation Logo

ज्योतिरादित्य सिंधिया बोले- मैं BJP कार्यकर्ता हूं, कांग्रेस के मामलों पर टिप्पणी नहीं करूंगा

भाजपा सांसद तथा पूर्व कांग्रेस नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया ने मंगलवार को कांग्रेस पार्टी में नेतृत्व संकट पर टिप्पणी करने से इनकार कर दिया.

By : Deepak Pandey | Updated on: 25 Aug 2020, 05:59:58 PM
scindia

भाजपा सांसद तथा पूर्व कांग्रेस नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया (Photo Credit: फाइल फोटो)

नागपुर:

भाजपा सांसद तथा पूर्व कांग्रेस नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया ने मंगलवार को कांग्रेस पार्टी में नेतृत्व संकट पर टिप्पणी करने से इनकार कर दिया. महाराष्ट्र के नागपुर के महल इलाके में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के संस्थापक के बी हेडगेवार के आवास का दौरा करने के बाद सिंधिया ने कहा कि यह कांग्रेस पार्टी का आंतरिक मामला है. मैं इस पर टिप्पणी नहीं करूंगा. मैं भाजपा कार्यकर्ता हूं और किसी अन्य राजनीतिक दल के आंतरिक मामलों पर टिप्पणी करना उचित नहीं होगा.

मंगलवार सुबह नागपुर पहुंचे सिंधिया ने हेडगेवार के आ‍वास के लोगों के लिए प्रेरणास्थल बताया. राज्यसभा सदस्य ने सिंधिया ने कहा कि डॉक्टर हेडगेवार ने राष्ट्र को समर्पित संगठन (आरएसएस) की स्थापना की. उनका आवास यहां आने वाले लोगों के लिये प्रेरणा स्थल है. यह स्थान आपको राष्ट्र के प्रति समर्पण की ऊर्जा से भर देता है. सिंधिया इस साल मार्च में 20 से अधिक विधायकों के साथ कांग्रेस छोड़कर भाजपा में शामिल हो गए थे, जिसके चलते मध्य प्रदेश की कमलनाथ सरकार गिर गई थी और भाजपा सत्ता में वापस लौट आई थी.

कांग्रेस में नेताओं की कद्र नहीं, समझ सकता हूं पायलट का दर्दः ज्योतिरादित्य

राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) ने पिछले दिनों कहा था कि कांग्रेस में काबिल नेताओं पर सवालिया निशान खड़ा किया जाता है और उनके पूर्व दलीय सहयोगी सचिन पायलट (Sacnin Pilot) ने भी हाल ही में यही स्थिति झेली है. कांग्रेस का दामन छोड़कर पांच महीने पहले भाजपा में शामिल होने वाले सिंधिया ने संवाददाताओं से कहा था कि पायलट मेरे मित्र हैं. उन्होंने जो पीड़ा झेली है, उससे सब लोग वाकिफ हैं.

सिंधिया ने कहा था कि कांग्रेस किस तरह इतने विलंब के बाद अपना घर दुरुस्त करने की कोशिश कर रही है, इस बात से भी सब वाकिफ हैं. यह दु:ख की बात है कि कांग्रेस में काबिलियत पर प्रश्न चिन्ह खड़ा किया जाता है. यही स्थिति मेरे पूर्व सहयोगी (पायलट) ने भी झेली है. सिंधिया ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) के नेतृत्व की जमकर तारीफ करते हुए कहा कि जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाया गया है, अयोध्या में राम मंदिर का शिलान्यास किया गया है और चीन को ईंट का जवाब पत्थर से दिया गया है.

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 25 Aug 2020, 05:54:39 PM

For all the Latest States News, Madhya Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.