News Nation Logo
Banner

कमलनाथ के करीबियों पर रेड: छापों में 281 करोड़ के बेहिसाबी कैश बरामद, 230 करोड़ के बेनामी लेनदेन का खुलासा

इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने 28 घंटे तक ज्यादा उनकी संपत्ति और कागजात की छानबीन की. इस कार्रवाई में आयकर विभाग ने 281 करोड़ की बेहिसाब नकदी पकड़ी है.

News Nation Bureau | Edited By : Nitu Pandey | Updated on: 08 Apr 2019, 11:24:17 PM
मौके पर मौजूद सुरक्षाबल और पकड़े गए रुपए

मौके पर मौजूद सुरक्षाबल और पकड़े गए रुपए

नई दिल्ली:

आयकर विभाग ने मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ के करीबी सहयोगियों और अन्य के खिलाफ दिल्ली और मध्य प्रदेश समेत 52 ठिकानों पर रविवार तड़के छापेमारी की जो सोमवार तक चली. इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने 28 घंटे तक ज्यादा उनकी संपत्ति और कागजात की छानबीन की. इस कार्रवाई में आयकर विभाग ने 281 करोड़ की बेहिसाब नकदी पकड़ी है.

सेंट्रल बोर्ड ऑफ डायरेक्ट टैक्स(सीबीडीटी) के अनुसार, मध्य प्रदेश में दिल्ली आयकर निदेशालय द्वारा की गई खोजों से पता चला है कि व्यवसाय, राजनीति और सार्वजनिक सेवा सहित विभिन्न क्षेत्रों में विभिन्न व्यक्तियों के माध्यम से लगभग 281 करोड़ रुपये की बेहिसाब नकदी एकत्र की गई है.'

इसके साथ ही सीबीडीटी ने बताया, 'नकदी का एक हिस्सा दिल्ली के एक प्रमुख राजनीतिक दल के मुख्यालय को भी हस्तांतरित किया गया, जिसमें लगभग 20 करोड़ रुपये शामिल थे, जो हाल ही में हवाला के माध्यम से राजनीतिक पार्टी के मुख्यालय में एक वरिष्ठ अधिकारी के आवास से स्थानांतरित किया गया था.

सीबीडीटी ने आगे बताया कि 14.6 करोड़ रुपये की बेहिसाब नकदी, 252 शराब की बोतले, कुछ हथियार और बाघ की खाल मिली. वरिष्ठ पदाधिकारी के करीबी रिश्तेदार के समूह में दिल्ली में तलाशी के दौरान 230 करोड़ रुपये का बेहिसाब लेनदेन दर्ज किया गया.

इसे भी पढ़ें: NN Opinion poll: NDA को मिल सकता है बहुमत, UPA का बढ़ेगा आंकड़ा, देखें देश की जनता का मूड

इसके आगे सीबीडीटी ने बताया कि कैश बुक के अलावा 230 करोड़ का बेहिसाब लेनदेन, 242 करोड़ रुपए से अधिक की फर्जी बिलों के जरिए हेरफेर और टैक्स हैवेन कहे जाने वाले देशों में 80 कंपनियों की मौजूदगी के सबूत भी मिले हैं.

बता दें कि आयकर विभाग ने भोपाल, दिल्ली के अलावा इंदौर, गोवा में भी छापेमारी की.इसमें 500 अफसर शामिल थे. जिन लोगों पर छापेमारी की गई, उनमें कमलनाथ के पूर्व ओएसडी प्रवीण कक्कड़, पूर्व सलाहकार राजेंद्र मिगलानी और उनके रिश्तेदार की कंपनी मोजर बेयर तथा उनके भांजे रातुल पुरी की कंपनी से जुड़े अधिकारी शामिल हैं.

First Published : 08 Apr 2019, 10:06:26 PM

For all the Latest States News, Madhya Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो