News Nation Logo

कोरोना से मृत व्यक्ति के परिवार को मिलेगी मदद, राज्य सरकार देगी 1 लाख रुपये की अनुग्रह राशि

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने घोषणा की है कि मध्यप्रदेश में कोरोना से मृत व्यक्ति के परिवार को सरकार 1 लाख रुपए की अनुग्रह राशि देगी.

News Nation Bureau | Edited By : Dalchand Kumar | Updated on: 21 May 2021, 07:16:48 AM
Corona virus test

कोरोना से मृत व्यक्ति के परिवार को MP सरकार देगी 1 लाख की अनुग्रह राशि (Photo Credit: फाइल फोटो)

highlights

  • कोरोना से मृत व्यक्ति के परिवार को मदद
  • MP सरकार देगी 1 लाख की अनुग्रह राशि
  • CM शिवकाज सिंह चौहान ने किया ऐलान

भोपाल:

मध्य प्रदेश में कोरोना महामारी का कहर जारी है. हर रोज हजारों नए मामले सामने आ रहे हैं तो मरीजों की मौतें भी लगातार हो रही हैं. इस बीच मध्य प्रदेश सरकार ने कोरोना से मरने वालों के परिवारों के लिए सहायता राशि का ऐलान किया है. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने घोषणा की है कि मध्यप्रदेश में कोरोना से मृत व्यक्ति के परिवार को सरकार 1 लाख रुपए की अनुग्रह राशि देगी. वर्चुअल तरीके से विधायकों की बैठक में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ग्रामीण क्षेत्रों में क्राइसिस मैनेजमेंट कमिटी को मजबूत बनाने के लिए सभी विधायकों को निर्देश दिए.

यह भी पढ़ें : एमपी में जनता कर्फ्यू में 31 मई तक ढील नहीं : CM शिवराज सिंह चौहान

आपको बता दें कि गुरुवार को प्रदेश में 4952 नए प्रकरण आए, जबकि 88 मरीजों की मौत हुई. प्रदेश में 9746 मरीज स्वस्थ हुए. एक्टिव प्रकरण 72 हजार 725 हैं. साप्ताहिक पॉजिटिविटी रेट 9 प्रतिशत रह गई है तथा गुरुवार की पॉजिटिविटी दर 6.4 प्रतिशत रही. संक्रमण की दृष्टि से देश में प्रदेश 16वें स्थान पर है. प्रदेश के तीन जिलों में 200 से अधिक नए प्रकरण तथा नौ जिलों में 100 से अधिक नए प्रकरण आए. इंदौर में 1072, भोपाल में 693, जबलपुर में 336, उज्जैन में 197, सागर में 187, रतलाम में 162, रीवा में 158, ग्वालियर में 135 और शिवपुरी जिले में 102 नए प्रकरण आए. प्रदेश के 9 जिलों में 5 प्रतिशत से कम साप्ताहिक पॉजिटिविटी है, वहीं 40 जिलों में 10 प्रतिशत से कम साप्ताहिक पॉजिटिविटी दर है.

उधर, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि मध्य प्रदेश में कोरोना संक्रमण को नियंत्रित करने में लगातार सफलता प्राप्त हो रही है. प्रदेश में पॉजिटिविटी दर लगभग 7 प्रतिशत हो गई है साथ ही एक्टिव केसेस की संख्या भी लगातार कम हो रही है. मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि यह आंकड़े कोरोना रोकथाम में मात्र केवल एक पड़ाव दर्शाते है मंजिल नहीं है. कोरोना मुक्त प्रदेश के निर्माण के लिए अभी हमें लंबा सफर तय करना है, जिसमें लापरवाही की कोई गुंजाइश नहीं है. शिवराज सिंह चौहान गुरुवार को इंदौर प्रवास के दौरान वेबकास्टिंग के माध्यम से कोविड-19 प्रबंधन के संबंध में इंदौर संभाग के विकासखंड तथा ग्राम स्तरीय क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप को संबोधित कर रहे थे.

यह भी पढ़ें : कोरोना कहर के बीच उपज मंडियां बंद, दिग्विजय ने लिखा पत्र 

मुख्यमंत्री ने कहा कि जो गांव, वार्ड, मोहल्ले एवं कॉलोनी कोरोना मुक्त हो गये है वो नियमित रूप से कोरोना गाइडलाइन का पालन करते रहे. जिन स्थानों में अभी भी संक्रमण के मामले पाए जा रहे हैं वहाँ माइक्रों कंटेनमेंट जोन बनाकर कोरोना संक्रमण को नियंत्रित किया जाए. उन्होंने इंदौर, धार और खरगोन जिले में स्थानीय परिस्थितियों के अनुरूप रणनीति बनाकर कोविड रोकथाम हेतु कार्य करने के निर्देश दिए. मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि 31 मई तक हमें प्रदेश के हर गाँव एवं शहर को कोरोना संक्रमण से मुक्त करना है, जिससे हम 1 जून से सामान्य स्थिति की तरफ कदम बढ़ा सकें.

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 21 May 2021, 07:16:48 AM

For all the Latest States News, Madhya Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.