News Nation Logo
Banner

पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) और अमित शाह (Amit Shah) के साथ कांग्रेस (Congress) के दिग्‍गज ज्‍योतिरादित्‍य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia), ये कैसे?

ज्‍योतिरादित्‍य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) कांग्रेस आलाकमान (Congress High Command) से नाराज चल रहे हैं पर इस तरह के पोस्‍टर लगने के बाद से कयासबाजी का आलम और तेज हो गया है. राज्‍य में सबकी जुबान पर ज्‍योतिरादित्‍य सिंधिया की नाराजगी के चर्चे हैं.

By : Sunil Mishra | Updated on: 11 Oct 2019, 03:24:23 PM
पीएम मोदी और शाह के साथ कांग्रेस नेता ज्‍योतिरादित्य सिंधिया कैसे?

पीएम मोदी और शाह के साथ कांग्रेस नेता ज्‍योतिरादित्य सिंधिया कैसे? (Photo Credit: ANI Twitter)

नई दिल्‍ली:

कांग्रेस के महासचिव और मध्‍य प्रदेश के दिग्‍गज नेता ज्‍योतिरादित्‍य सिंधिया एक पोस्‍टर में पीएम नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह के साथ दिख रहे हैं. यह पोस्‍टर पूरे राज्‍य में चर्चा का विषय बना हुआ है. यह तो ज्ञात है कि ज्‍योतिरादित्‍य सिंधिया कांग्रेस आलाकमान से नाराज चल रहे हैं पर इस तरह के पोस्‍टर लगने के बाद से कयासबाजी का आलम और तेज हो गया है. राज्‍य में सबकी जुबान पर ज्‍योतिरादित्‍य सिंधिया की नाराजगी के चर्चे हैं. मध्‍य प्रदेश के भिंड में इस तरह के पोस्‍टर लगे हुए हैं.

यह भी पढ़ें : इथियोपिया के प्रधानमंत्री अबी अहमद अली को मिला नोबेल शांति पुरस्‍कार

बताया जा रहा है कि बीजेपी के भिंड जिला समन्‍वयक ने जम्‍मू-कश्‍मीर से अनुच्‍छेद 370 हटाए जाने के कदम को ज्‍योतिरादित्‍य सिंधिया द्वारा समर्थन दिए जाने के बाद यह पोस्‍टर लगवाया था. ज्‍योतिरादित्‍य सिंधिया के इस बयान के बाद से कांग्रेस बहुत असहज हो गई थी. ज्‍योतिरादित्‍य सिंधिया की तरह ही हरियाणा कांग्रेस के नेता भूपेंद्र सिंह हुड्डा और उनके बेटे दीपेंद्र हुड्डा ने भी जम्‍मू-कश्‍मीर से अनुच्‍छेद 370 हटाए जाने का समर्थन किया था. इन नेताओं के अलावा कई अन्‍य नेताओं ने भी इस संबंध में कांग्रेस के कदम की आलोचना की थी और सरकार के रुख का साथ दिया था.

ज्‍योतिरादित्‍य सिंधिया मध्‍य प्रदेश में उपेक्षित किए जाने से भी नाराज चल रहे हैं. मध्‍य प्रदेश में उनके धुर विरोधी कमलनाथ को मुख्‍यमंत्री बनाए जाने के बाद उन्‍हें संतुष्‍ट करने के लिए पश्‍चिमी उत्‍तर प्रदेश का प्रभारी महासचिव बनाया गया, लेकिन प्रियंका गांधी की पश्‍चिमी उत्‍तर प्रदेश की राजनीति में सक्रियता बढ़ने से उनकी वहां एक न चली और लोकसभा चुनाव में करारी हार के बाद उन्‍होंने पश्‍चिमी उत्‍तर प्रदेश के प्रभारी पद से इस्‍तीफा दे दिया. उनके इस्‍तीफे के बाद प्रियंका गांधी वाड्रा को पूरे उत्‍तर प्रदेश का प्रभारी महासचिव बना दिया गया.

यह भी पढ़ें : सुषमा स्‍वराज (Sushma Swaraj) की राह पर विदेश मंत्री एस जयशंकर (S. Jaishankar), टि्वटर पर दिल खोलकर कर रहे मदद

अभी पिछले महीने ज्‍योतिरादित्‍य सिंधिया को मध्‍य प्रदेश कांग्रेस का अध्‍यक्ष बनाए जाने की चर्चा थी. सोनिया गांधी ने इस बारे में मुख्‍यमंत्री कमलनाथ और ज्‍योतिरादित्‍य सिंधिया से मुलाकात भी की थी. हालांकि इस बातचीत का कोई नतीजा नहीं निकला और अब तक मध्‍य प्रदेश कांग्रेस अध्‍यक्ष पद पर नई नियुक्‍ति नहीं हो पाई है.

First Published : 11 Oct 2019, 03:24:23 PM

For all the Latest States News, Madhya Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.