News Nation Logo

रेमडेसिविर की कालाबाजारी CM शिवराज सख्त, आरोपियों पर लगेगी 'रासुका'

मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में इन दिनों रेमडेसीविर इंजेक्शन की जमकर कालाबाजारी जारी है. इस कालाबाजारी को रोकने के लिए शिवराज सरकार ने सख्त ऐलान किया है कि इंजेक्शन की कालाबाजारी करने वालों पर राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (NSA) के तहत कार्रवाई की जाएगी.

IANS | Edited By : Karm Raj Mishra | Updated on: 22 Apr 2021, 08:00:41 PM
Shivraj Singh Chouhan

Shivraj Singh Chouhan (Photo Credit: News Nation)

highlights

  • MP में रेमडेसिविर इंजेक्शन की कालाबाजारी जारी
  • आरोपियों पर NSA के तहत होगी कार्रवाई
  • सीएम शिवराज ने दिए आदेश

नई दिल्ली:  

देश में कोरोना की दूसरी लहर से हाहाकार मचा हुआ है. स्वास्थ्य व्यवस्था पूरी तरह से चरमरा चुकी है. अस्पतालों में बेड्स फुल हो चुके हैं. लोगों को समय पर एंबुलेंस नहीं मिल पा रही हैं. तो ऑक्सीजन के बिना मरीज तड़प-तड़प कर दम तोड़ रहे हैं. कोरोना मरीजों (Corona Patients) के लिए रेमडेसीविर इंजेक्शन (Remdesivir Injection) को जीवन रक्षक माना गया है. लेकिन मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में इन दिनों रेमडेसीविर इंजेक्शन की जमकर कालाबाजारी जारी है. इस कालाबाजारी को रोकने के लिए शिवराज सरकार (Shivraj Government) ने सख्त कदम उठाया है. 

ये भी पढ़ें- कोरोना में रामबाण नहीं है रेमडेसिविर, ज्यादा पैसा खर्च करना बेकार: विशेषज्ञ

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (CM Shivraj Singh Chouhan) ने सख्त ऐलान किया है कि इंजेक्शन की कालाबाजारी करने वालों पर राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (NSA) के तहत कार्रवाई की जाएगी. मुख्यमंत्री ने कोरोना की स्थिति की वर्चुअली उच्च स्तरीय बैठक में गुरुवार को कहा है कि रेमडेसीविर इंजेक्शन की कालाबाजारी करने वालों के विरुद्ध रासुका के तहत कार्रवाई की जाए. मुख्यमंत्री ने ऑक्सीजन आपूर्ति के संबंध में गलत अफवाह उड़ाने वालों और भ्रामक जानकारियां देने वालों के खिलाफ भी कार्रवाई करने का आदेश दिया है.

मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि "कोरोना कर्फ्यू के लिए जिस तरह से जनता आगे आई है और सभी ने सहयोग किया है, उससे संक्रमण फैलने की गति कम हुई है. जनता के साथ जनता के सहयोग से कोरोना कर्फ्यू को बनाए रखना जरूरी है. हमारा लक्ष्य प्रदेश की जनता को संक्रमण से बचाना है. अत: घर पर ही रहें अनावश्यक बाहर न निकलें और संक्रमण की चेन को तोड़ें. हमारा लक्ष्य है कि प्रदेश के पॉजिटिव हुए लोगों को जल्द से जल्द स्वास्थ्य लाभ मिले."

ये भी पढ़ें- ऑक्सीजन संकट पर बैठक, पीएम मोदी ने इन 10 बड़ी बातों पर दिया जोर

मुख्यमंत्री चौहान ने जानकारी दी कि ऑक्सीजन आपूर्ति के लिए डीआरडीओ सहित केंद्र सरकार स्तर पर लगातार बातचीत जारी है. ऑक्सीजन की आपूर्ति में हर संभव सहयोग मिल रहा है. कोरोना संक्रमण पर नियंत्रण और इलाज की व्यवस्था के संबंध में मंत्रियों को सौंपे गए दायित्व का प्रभावी क्रियान्वयन सुनिश्चित किया जा रहा है.

मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए योग से निरोग कार्यक्रम और काढ़ा वितरण जैसी गतिविधियां आरंभ की जा रही हैं. प्रदेश में टीकाकरण को गति दी जा रही है. वैक्सीनेशन के लिए लोगों को प्रेरित करना आवश्यक है. एक मई से 18 साल से अधिक आयु के सभी लोगों का निरूशुल्क टीकाकरण होगा.

First Published : 22 Apr 2021, 07:58:24 PM

For all the Latest States News, Madhya Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.