logo-image
लोकसभा चुनाव

CM मोहन यादव ने दी प्रदेशवासियों को बड़ी सौगात, इंदौर-उज्जैन के बीच होगा मेट्रो का संचालन

Indore-Ujjain Metro: मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव ने प्रदेशवासियों को बड़ी सौगात दी है. मोहन यादव की सरकार इंदौर के एयरपोर्ट से उज्जैन के महाकाल मंदिर तक मेट्रो चलाने जा रही है. इसे लेकर सहमति बन चुकी है.

Updated on: 24 Jun 2024, 08:35 AM

highlights

  • सीएम मोहन यादव ने दी सौगात
  • इंदौर-उज्जैन के बीच वंदे मेट्रो
  • सिंहस्थ 2028 से पहले पूरा होगा काम

Indore:

Indore-Ujjain Metro: मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव लगातार बड़े-बड़े फैसले लेते नजर आ रहे हैं. इस बीच मोहन यादव की सरकार ने बड़ा फैसला करते हुए प्रदेश वासियों को खुशखबरी दी है. मोहन यादव की सरकार ने इंदौर-उज्जैन मेट्रो ट्रेन की समीक्षा बैठक करते हुए यह फैसला लिया है कि आगामी समय में इंदौर से उज्जैन के लिए मेट्रो का संचालन किया जाएगा. यह मेट्रो इंदौर के एयरपोर्ट से उज्जैन के महाकाल मंदिर तक चलाई जाएगी. यह इंदौर से महाकाल के दर्शन के लिए जाने वाले श्रद्धालुओं और पर्यटकों के लिए बड़ी सौगात है. बता दें कि भोपाल के बाद इंदौर और उज्जैन को मेट्रो सिटी बनाया जा रहा है. इसके साथ ही सरकार ने यह भी वादा किया है कि मेट्रो निर्माण का यह काम सिंहस्थ 2028 से पहले कर लिया जाएगा. वंदे मेट्रो के आने से इंदौर से उज्जैन की दूरी महज 55 किलोमीटर हो जाएगी और इसे 40 मिनट में तय किया जा सकेगा.

यह भी पढ़ें- MP News: रास्ते में रोकर नाबालिग के साथ गैंगरेप, गर्भवती हुई तो सामने आया सच

इंदौर-उज्जैन के बीच चलेगी मेट्रो

सीएम ने इस बैठक में भोपाल और इंदौर में चल रहे मेट्रो प्रोजेक्ट की समीक्षा भी की. मेट्रो को लेकर पहले से ही शहर में काम शुरू हो चुका है. भोपाल में कुल 16.7 किमी का काम बचा हुआ है तो वहीं इंदौर में 31.3 किमी का काम चल रहा है. इंदौर में कुल 25 और भोपाल में कुल 27 मेट्रो ट्रेनों का संचालन विभिन्न रूटों पर किया जाएगा. मेट्रो के साथ ही यात्रा को सुगम और सरल बनाने के लिए यातायात के विभिन्न विकल्पों को लेकर भी विचार किया जा रहा है. जिसमें महाकालेश्वर से ओंकारेश्वर रूप, भोपाल से इंदौर और ग्वालियर से जबलपुर के लिए विचार किए जा रहे हैं.

सीएम मोहन यादव ने दी सौगात

वंदे मेट्रो सर्किल ट्रेन को लेकर सीएम मोहन यादव ने कहा कि इसे लेकर केंद्रीय रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव से भी बात हो रही है और एमपी में वंदे मेट्रो को लेकर सहमति बन चुकी है. पुरानी मेट्रो की जगह प्रदेश को वंदे मेट्रो सर्किल की बड़ी सौगात दी जा रही है. मेट्रो में महिलाओं और दिव्यांगजनों के लिए विशेष सुविधा भी मुहैया कराई गई है. दिव्यांगजनों के लिए शौचालय में कॉल बटन, व्हीलचेयर, सड़क से लिफ्ट तक रैम्प की भी सुविधा दी जाएगी.