News Nation Logo

VIDEO: रेस्टोरेंट लॉन्चिंग के दौरान बीजेपी-कांग्रेस कार्यकर्ता आपस में भिड़े, चलीं कुर्सियां

रेस्टोरेंट लॉन्चिंग के दौरान बीजेपी-कांग्रेस कार्यकर्ता आपस में भिड़े, चलीं कुर्सियां

| Edited By : Sushil Kumar | Updated on: 19 Jan 2020, 06:33:41 PM
कांग्रेस-बीजेपी कार्यकर्ता आपस में भिड़े

कांग्रेस-बीजेपी कार्यकर्ता आपस में भिड़े (Photo Credit: ANI)

भोपाल:  

मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में रविवार के दिन एक अलग ही नजारा देखने को मिला. मौका था एक रेस्टोरेंट के उद्घाटन का. रेस्टोरेंट के लॉन्चिंग पर बीजेपी और कांग्रेस कार्यकर्ता आपस में भिड़ गए. दोनों एक-दूसरे पर दे दना दन कुर्सियां फेंकने लगे. दोनों में जमकर झड़प हुई. मामले जब काफी हद तक बढ़ गई तो, पुलिस को भी बीच में आना पड़ा. पुलिस ने जब दोनों को शांत कराने की कोशिश की तो उन्हें भी कई कुर्सियां खाने को मिलीं. बाद में इस झड़प को तितर-बितर किया गया.

यह भी पढ़ें- बिहार में मानव श्रृंखला के दौरान दिल का दौरा पड़ने से शिक्षक की मौत

पूरे देश में CAA को लेकर विरोध प्रदर्शन हो रहा है. वहीं दूसरी तरफ बीजेपी CAA के समर्थन में रैली आयोजित कर रही है. इस कानून के खिलाफ अगर कोई विरोध प्रदर्शन कर रही तो वह है कांग्रेस. कांग्रेस ने पूरे देश में इस कानून के खिलाफ प्रदर्शन कर रही है. इसको लेकर दोनों पार्टियों में जबदर्स्त तनाव है. यही तनाव आज मध्य प्रदेश में देखने को मिला. मध्य प्रदेश में बीजेपी और कांग्रेस के कार्यकर्ता आपस में भिड़ गए.

यह भी पढ़ें- VIDEO: BJP कार्यकर्ताओं ने महिला डिप्टी कलेक्टर के खींचे बाल, CAA का कर रहे थे समर्थन

वहीं बीजेपी ने प्रदर्शन कर रहे कांग्रेस के लोगों की हताशा करार दिया है. गोवा एकता मंच के बैनर तले लोग दक्षिण गोवा जिले के पोंडा में एकत्र हुए थे. दावा किया कि नया नागरिकता कानून ‘भारत को बर्बाद’ कर देगा. उन्होंने आरोप लगाया, ‘भारत के संविधान को बरकरार रखने की आवश्यकता है. संशोधित नागरिकता कानून भेदभावपूर्ण और संविधान के खिलाफ है.’

इस मौके पर साहित्य अकादमी पुरस्कार विजेता एवं कोंकणी लेखक एन. शिवदास ने कहा कि संविधान एक ‘पवित्र किताब’ की तरह है जो सभी धर्मों के लोगों को जोड़ता है. उन्होंने कहा, ‘हम सभी को इस पवित्र किताब को बचाने और उसकी रक्षा करने की जरूरत है.’ कांग्रेस विधायक रवि नाईक ने आरोप लगाया कि सीएए ‘ना केवल मुस्लिम समुदाय, बल्कि अनुसूचित जनजाति और अन्य पिछड़े वर्ग के खिलाफ भी है.’

First Published : 19 Jan 2020, 05:22:42 PM

For all the Latest States News, Madhya Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.