News Nation Logo
Banner

भोपाल में नर्स चुराती थी रेमिडेसिविर इंजेक्शन, बॉयफ्रेंड ब्लैक में बेचता था

भोपाल में एक नर्स ही रेमडेसिविर इंजेक्शन की चोरी कर रही थी. जब ये मामला खुला तो पुलिस भी हैरान रह गई. यहां के एक अस्पताल की नर्स पैसों की लालच में इतनी गिर गई कि उसने मरीजों को नॉर्मल इंजेक्शन लगाकार रेमडेसिविर चुराए.

News Nation Bureau | Edited By : Karm Raj Mishra | Updated on: 24 Apr 2021, 12:08:24 PM
Remdesivir injection

Remdesivir Injection (Photo Credit: News Nation)

highlights

  • नर्स मरीजों को नॉर्मल इंजेक्शन लगाकार रेमडेसिविर चुरा लेती थी
  • आरोपी नर्स का प्रेमी रेमडेसिविर इंजेक्शन को मार्केट में बेचता था
  • मैहर सिविल अस्पताल की नर्स के बैग में मिले रेमिडेसिविर

नई दिल्ली:  

कोरोना (Coronavirus) के कारण देश में हाहाकार मचा हुआ है. हर तरफ दहशत का माहौल है. राज्यों की स्वास्थ्य सेवाएं एकदम से चरमरा चुकी हैं. अस्पतालों में ऑक्सीजन की कमी (Oxygen Shortage) से मरीज तड़प रहे हैं. ऐसे हालातों में कोरोना के इलाज में इस्तेमाल होने वाली रेमडेसिविर इंजेक्शन की कालाबाजारी की घटनाएं भी सामने आ रही हैं. मध्य प्रदेश से एक बार फिर रेमडेसिविर इंजेक्शन (Remdesivir Injection) की कालाबाजारी का मामला सामने आया है. भोपाल (Bhopal) में एक नर्स ही रेमडेसिविर इंजेक्शन (Remdesivir Injection) की चोरी कर रही थी. 

ये भी पढ़ें- Corona: राजस्थान में आर्मी ने 5 घंटे में तैयार किया 100 बेड्स का कोविड सेंटर, ऑक्सीजन की व्यवस्था भी की

भोपाल में जब ये मामला खुला तो पुलिस भी हैरान रह गई. यहां के एक अस्पताल की नर्स पैसों की लालच में इतनी गिर गई कि उसने मरीजों को नॉर्मल इंजेक्शन लगाकार रेमडेसिविर चुराए और उन्हें अपने प्रेमी के हाथों ब्लैक में बिकवा दिए. प्रेमी को तो पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया, प्रेमिका नर्स अभी फरार है. आरोपी नर्स का नाम शालिनी वर्मा है. और वो जेके अस्पताल में काम करती थी. अस्पताल में वो मरीजों की जान से खिलवाड़ कर रही थी. वो मरीजों को असली रेमडेसिविर न लगाकर नॉर्मल इंजेक्शन लगा रही थी. मामला का खुलासा होने पर हड़कंप मच गया है. 

ऐसे हुआ मामले का खुलासा

कोलार पुलिस को सूचना मिली थी एक लड़का रेमडेसिविर ब्लैक में बेच रहा है. पुलिस मौके पर पहुंची और आरोपी को पकड़ लिया. आरोपी दानिशकुंज के गिरधर कुंज में रहने वाला झलकन सिंह है और शालिनी उसकी प्रेमिका है. आरोपी से पूछताछ पर पुलिस हैरान रह गई. उसने बताया कि उसकी प्रेमिका मरीजों को रेमडेसिविर की बजाय दूसरा नॉर्मल इंजेक्शन लगा देती थी. फिर वो ही इंजेक्शन लाकर वो आरोपी को देती और आरोपी ये इंजेक्शन वह 20-30 हजार रुपए में बेचता था.

ये भी पढ़ें- दिल्लीः रोहिणी के जयपुर गोल्डन अस्पताल में ऑक्सीजन की कमी से 20 मरीजों की मौत

मैहर सिविल अस्पताल की नर्स के बैग में मिले रेमिडेसिविर

भोपाल में स्थित मैहर सिविल अस्पताल की एक महिला कर्मचारी के बैग से रेमडेसिविर के तीन इंजेक्शन पकड़े गए. तीनों इंजेक्शन मंगलवार को मरीज़ों के नाम पर जारी किए गए थे. उन्हें मरीज़ों को न लगाकर महिला कर्मचारी ने अपने बैग में रख लिया था.  ताज्जुब यह कि चोरी का खुलासा तब हुआ जब जिले के प्रभारी मंत्री रामखेलावन पटेल और सांसद गणेश सिंह अस्पताल के दौरे पर थे. इसके बावजूद स्वास्थ्य विभाग मामले पर पर्दा डालने की कोशिश कर रहा है.

First Published : 24 Apr 2021, 12:08:24 PM

For all the Latest States News, Madhya Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.