News Nation Logo
Banner

भोपालः IPL मैचों पर 500 करोड़ रुपए के सट्टे का भंडाफोड़, कई व्‍यापारी व कारोबारी गिरफ्तार

पुलिस को सटोरियों के पास से करीब एक करोड़ रुपए से ज्यादा की राशि भी बरामद हुई है. खास बात यह है कि सट्टा खिलाने वाले प्रतिष्ठित व्यापारी हैं

By : Drigraj Madheshia | Updated on: 21 Apr 2019, 06:04:25 PM
प्रतिकात्‍मक चित्र

प्रतिकात्‍मक चित्र

भोपाल:

भोपाल पुलिस को अंतरराष्ट्रीय हाईटेक आईपीएल का सट्टा पकड़ने में कामयाबी हासिल हुई है. पुलिस को सटोरियों के पास से करीब एक करोड़ रुपए से ज्यादा की राशि भी बरामद हुई है. खास बात यह है कि सट्टा खिलाने वाले प्रतिष्ठित व्यापारी हैं , जिनके पास से सट्टा पर्ची, मोबाइल पर सट्टे का डेटा और सभी के पास से केश भी बरामद किया गया है. सटोरिए वेबसाइट के माध्यम से मास्टर एवं सुपर मास्टर को आईडी देकर सट्टा खिलाते थे. इनके पास एक आईडी होती है ,जो अपनी आईडी को अन्य मास्टर के माध्यम से ग्राहकों को उपलब्ध करा कर उस पर सट्टा लगाते थे. कार्रवाई में लगभग 500 करोड़ रुपए के सट्टे का कारोबार का होना पुलिस को पता लगा है.

यह भी पढ़ेंः IPL12, SRH vs KKR, Live: 159 पर रुकी केकेआर, हैदराबाद को जीत के लिए 160 की दरकारScorecard

जिन वेबसाइट के माध्यम से ये आरोपी सट्टा खिलाते थे उनका नाम है. Live365.com और Krishaexhange.com इन आईडी पर लिंक लेकर सट्टा खिलाया जाता था. पकड़े गए आरोपियों में (1) चेतन वाधवानी जिसकी बैरागढ़ में कृष्णा कलेक्शन के नाम से गारमेंट की दुकान है, और यही मुख्य भूमिका में था. आरोपी के पास से पांच लाख 90 हजार नगद, 10 मोबाइल फोन ,4 डेक्सटॉप, लैपटॉप, पेनड्राइव , और आईपीएल की डिटेल मिली है.

यह भी पढ़ेंः कंपाउंडर ने अस्पताल में भर्ती मरीज की बहन के साथ किया ये काम, जानकर दहल उठेंगे आप

दूसरे आरोपी का नाम है संतोष वाधवानी , यह मुख्य आरोपी चेतन वाधवानी का भाई है.तीसरा आरोपी है सतीश गोपनानी ये एक दुकान पर काम करता है ,इसका काम सट्टे के पैसों का हिसाब किताब अपने पास रखना होता था. चौथा आरोपी है कमलजीत सिंह, जिसकी रेलवे स्टेशन के पास एक होटल है ,और इस होटल का नाम किरण होटल है. इसके पास से पुलिस को 7 लाख 5 हजार 60 रुपये नकद बरामद हुए, साथ ही एक डायरी, एक टीवी, भी बरामद हुई है, ये आरोपी सट्टा लेता है और लाइन दिया करता था.

यह भी पढ़ेंः कंपाउंडर ने अस्पताल में भर्ती मरीज की बहन के साथ किया ये काम, जानकर दहल उठेंगे आप

इसके बाद है जयप्रकाश मधानी जो फाइनेंस का काम करता है, जयप्रकाश के पास से पुलिस को 55 लाख 82 हजार 60 रुपये नकद और एक मोबाइल फोन मिला है. ये आरोपी पैसों का लेन देंन, सट्टा खेलना और खिलाने का काम करता था. छठवां आरोपी है मनोहर लाल तलरेजा, इसकी वेस्टर्न प्लाजा चुना भट्टी भोपाल में मोबाइल वर्ल्ड नाम से एक दुकान है. इस आरोपी के पास से पुलिस को 2 लाख 39 हजार 8 सौ रुपये नगद, एक मोबाइल फोन और सट्टे की पर्ची भी मिली. इस आरोपी का काम अपडाउन की सूचना देना होता था, ये भोपाल की प्रतिष्ठित बेक एंड शेक का संचालक भी है.

यह भी पढ़ेंः तीसरा चरण छत्‍तीसगढ़ः नए नवेले प्रत्‍याशियों पर दोनों दलों ने लगाया दांव

सातवां आरोपी है भरत सोनी ,जो भारत टेंट हाउस एवं लाइट की दुकान चलाता है ,इसके अलावा यह मैनेजमेंट एवं इवेंट के काम भी करता है. इस आरोपी के पास से पुलिस को 20 लाख 22 हजार रुपये नगद, 3 मोबाइल फोन ,एक टीवी, एक लैपटॉप, एक टेबलेट मोबाइल और एक डीवीआर भी मिला है. इस आरोपी का काम सट्टा खेलना और खिलाने के साथ ही पेसो का लेनदेन होता था. आठवां आरोपी है गौरव राठी, यह इवेंट एवं मैनेजमेंट का काम करता है, इस आरोपी के पास से पुलिस को 9 लाख रुपये नगद, एक मोबाइल फोन और सट्टे का एप मोबाइल में मिला है , ये सट्टा खेलता और खिलाता है, इसके साथ ही पैसों का लेन-देन भी करता था. वहीं नौवां आरोपी नरेश हेमनानी है ,जिसकी बेकरी आइटम और सप्लायर्स की दुकान है. इसके पास से पुलिस को 56 लाख56 हजार 7 सौ रुपये नगद ,2 मोबाइल फोन, एक सीपीयू और कंप्यूटर बरामद हुआ है.

दसवां आरोपी है संजीत सिंह चावला, जिसकी मोबाइल की एक दुकान है , उसके अलावा यह जसपाल और पाली का भाई भी है. इसके पास से पुलिस को 11लाख रुपये नगद और दो मोबाइल फोन मिले हैं. ये आरोपी सट्टा लेता था. इसके अलावा पैसों का लेन-देन भी किया करता था. सभी आरोपी अलग-अलग थाना क्षेत्रों से गिरफ्तार किए गए हैं. फिलहाल पुलिस इनसे अभी और कड़ी पूछताछ कर रही है. पुलिस को उम्मीद है कि आरोपियों से और भी बड़ा खुलासा हो सकता है.

First Published : 21 Apr 2019, 05:58:36 PM

For all the Latest States News, Madhya Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो