News Nation Logo

BREAKING

Banner

बुरहानपुर के केले को दुनिया में मिलेगी पहचान : शिवराज

सीएम ने बुरहानपुर जिले में 248 कार्यो का भूमिपूजन तथा 12 कार्यो का लोकार्पण करते हुए कहा कि 'एक जिला एक उत्पाद योजना' के तहत बुरहानपुर में केला एक्सपोर्ट क्लस्टर बनाया जाएगा. बुरहानपुर के केले को विश्व स्तर पर पहचान दिलाई जाएगी.

By : Shailendra Kumar | Updated on: 24 Sep 2020, 07:00:33 AM
Shivraj Singh Chauhan

शिवराज सिंह चौहान (Photo Credit: फोटो)

बुरहानपुर:

मध्य प्रदेश का बुरहानपुर जिला केला उत्पादक जिले के तौर पर पहचाना जाता है. मुख्यंमत्री शिवराज सिंह चौहान ने इस जिले में केला एक्सपोर्ट क्लस्टर बनाने का ऐलान किया है. चौहान ने बुरहानपुर जिले में 248 कार्यो का भूमिपूजन तथा 12 कार्यो का लोकार्पण करते हुए कहा कि 'एक जिला एक उत्पाद योजना' के तहत बुरहानपुर में केला एक्सपोर्ट क्लस्टर बनाया जाएगा. बुरहानपुर के केले को विश्व स्तर पर पहचान दिलाई जाएगी. यहां केला आधारित उद्योगों की स्थापना की जाएगी.

यह भी पढ़ें : बिहार में 800 ग्राम चरस के साथ 2 तस्कर गिरफ्तार

उन्होंने धूलकोट को तहसील का दर्जा दिए जाने, ताप्ती पुल का नाम राजेंद्र दादू सेतु रखे जाने, ग्राम देड़तलाई में महानायक की मूर्ति की स्थापना, ग्राम बसाड़ को बुरहानपुर में शामिल करने और धूलकोट में कॉलेज के नए भवन बनाए जाने की घोषणा की.

यह भी पढ़ें : भारत-चीन सैन्य तनाव के बीच नेपाल की नजर तिब्बती शरणार्थियों पर 

बुरहानपुर का केला मशहूर है

देश में बुरहानपुर एक प्रमुख केला उगाने वाला जिला है, क्योंकि जिले में 1,03,000 हेक्टेयर कृषि योग्य भूमि में से 16,000 हेक्टेयर केले की खेती के लिए समर्पित है. राज्य में कोल्ड स्टोरेज सुविधाओं के विस्तार से भी फसल कटाई की संभावना कम हो गई है.

First Published : 24 Sep 2020, 07:00:33 AM

For all the Latest States News, Madhya Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो