News Nation Logo

बाला बच्चन बोले- सभी विधायक कमलनाथ के समर्थन में राजभवन तक परेड को तैयार

बाला बच्चन ने दावा किया है कि सभी विधायक मुख्यमंत्री कमलनाथ के समर्थन में राजभवन तक परेड करने के लिए तैयार हैं.

News Nation Bureau | Edited By : Dalchand Kumar | Updated on: 27 May 2019, 02:47:07 PM

नई दिल्ली:

लोकसभा चुनाव (Loksabha Election) समाप्त होने के बाद भी मध्य प्रदेश की सियासत गर्म है. इसकी वजह अब प्रदेश में सत्ता की लड़ाई है. प्रदेश में कमलनाथ सरकार के गिरने की अटकलें लगातार चर्चा में हैं. इस बीच राज्य के गृह मंत्री बाला बच्चन ने दावा किया है कि सभी विधायक मुख्यमंत्री कमलनाथ के समर्थन में राजभवन तक परेड करने के लिए तैयार हैं. साथ ही उन्होंने विपक्षी पार्टी बीजेपी पर भ्रम फैलाने का आरोप लगाया.

यह भी पढ़ें-  चुनाव परिणाम के बाद मध्‍यप्रदेश सरकार पर छाया नया संकट, विधायकों पर रखी जाएगी नजर- सूत्र

गृह मंत्री बाला बच्चन ने कहा कि शनिवार रात को कांग्रेस विधायक दल की बैठक हुई, जिसमें सभी विधायकों ने मुख्यमंत्री कमलनाथ (Kamalnath) को आश्वस्त किया है कि वो पूरे 5 साल तक उनके ही साथ रहेंगे. मंत्रियों को 5 विधायकों की जिम्मेदारी को लेकर बाला बच्चन ने कहा कि सभी मंत्रियों की जिम्मेदारी है कि वो विधायकों को अपने जैसा पावर देकर रखें और विकास के काम नहीं रुकने चाहिए.

गौरतलब है कि शनिवार को मुख्यमंत्री कमलनाथ ने अपने मंत्रियों के साथ करीब डेढ़ घंटे तक अनौपचारिक बैठक की. इस दौरान उन्होंने सभी मंत्रियों को सावधान रहने के निर्देश दिए. कमलनाथ ने सभी मंत्रियों को दो टूक कहा कि हमें विपक्ष की साजिशों को नाकामयाब करना है. उन्होंने कहा कि किसी भी तरह के बिखराव की बातों का सब मिलकर खंडन करें और सभी एकजुटता दिखाएं, यह विपक्ष को भी नजर आना चाहिए.

यह भी पढ़ें- छत्तीसगढ़ समेत कांग्रेस शासित राज्यों के बूते अब अगले 5 साल पार्टी की ब्रांडिंग करेंगे राहुल गांधी

बता दें कि राज्य में कमलनाथ सरकार पर तभी से संकट के बादल मंडराने लगे हैं जब के जब नेता विपक्ष गोपाल भार्गव (Gopal Bhargav) ने जल्द ही विधानसभा का सत्र बुलाने की मांग की. गोपाल भार्गव ने कहा था कि वर्तमान सरकार ने जनता का भरोसा खो दिया है. इसलिए उनकी मांग है कि राज्य विधानसभा का सत्र बुलाया जाए. उन्होंने कहा कि प्रदेश की कमलनाथ (Kamal Nath) सरकार कभी भी गिर सकती है. भार्गव ने कहा, 'विधानसभा सत्र में सत्ताधारी दल की शक्ति का भी परीक्षण हो जाएगा. कांग्रेस के पास दूसरों के सहयोग से बहुमत है, भाजपा चाहती तो वह भी जोड़-तोड़ करके सरकार बना सकती थी, मगर भाजपा ने ऐसा नहीं किया.'

यह वीडियो देखें- 

First Published : 27 May 2019, 02:47:07 PM

For all the Latest States News, Madhya Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.