News Nation Logo

अयोध्या विवाद: कैलाश विजयवर्गीय बोले- लोगों का सब्र टूट रहा है, जल्द हो निर्णय

कोर्ट को जनमत ओर जनभावना का सम्मान करते हुए जल्दी फैसला करना चाहिए.

News Nation Bureau | Edited By : Akanksha Tiwari | Updated on: 09 Mar 2019, 11:58:53 AM
BJP महासचिव कैलाश विजयवर्गीय (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:  

भारतीय जनता पार्टी (BJP) के महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने अयोध्या मामले पर सुप्रीम कोर्ट द्वारा आए मध्यस्थ नियुक्त करने के कोर्ट के निर्णय पर बोला कि मैं कुछ नहीं कहूंगा लेकिन लोगों का सब्र टूट रहा है. उन्होंने कहा जल्द ही निर्णय होना चाहिए और राम मंदिर बनना चाहिए ये देश की बहुसंख्यक जनता का मत है. कोर्ट को जनमत ओर जनभावना का सम्मान करते हुए जल्दी फैसला करना चाहिए.

यह भी पढ़ें- अयोध्या विवाद: मध्‍यस्‍थता पैनल में शामिल श्री श्री रविशंकर बोले- बातचीत ही एकमात्र रास्ता

असदुद्दीन ओवैसी द्वारा श्री श्री रविशंकर को मध्यस्थ बनाये जाने का विरोध करने पर विजयवर्गीय ने कहा कि ओवैसी की कोई वेल्यू नहीं है एक छोटे से हिस्से के वो नेता है हैदराबाद के बाहर उन्हें कोई नहीं जानता है. कल मध्‍यस्‍थता के लिए 3 लोगों का पैनल बनाया गया है और 8 हफ्ते में मध्‍यस्‍थता पूरी करनी होगी. मध्‍यस्‍थता पैनल में श्रीश्री रविशंकर भी शामिल हैं. एक हफ्ते में मध्‍यस्‍थता की प्रक्रिया फैजाबाद से शुरू करनी होगी. श्रीश्री रविशंकर ने अपनी ओर से पहले भी अयोध्या भूमि विवाद में मध्यस्थता की भूमिका निभाई थी.

यह भी पढ़ें- राम मंदिर विवाद पर बोले शरद यादव बातचीत से ही निकलेगा मसले का हल, महागठबंधन पर रहे मौन

बता दें कि मध्यस्थता का आदेश देते हुए प्रधान न्यायाधीश रंजन गोगोई, न्यायमूर्ति ए.ए.बोबडे, न्यायमूर्ति डी.वाई.चंद्रचूड़, न्यायमूर्ति अशोक भूषण व न्यायमूर्ति एस.अब्दुल नजीर ने प्रिंट व विजुअल मीडिया दोनों को मध्यस्थता की कार्यवाही की रिपोर्टिग करने से वर्जित कर दिया.

बड़ा सवाल: मध्यस्थता से बनेगा राम मंदिर? देखें VIDEO

First Published : 09 Mar 2019, 11:32:20 AM

For all the Latest States News, Madhya Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.