News Nation Logo

800 रेमडेसिविर इंजेक्शन की हो गयी चोरी, अस्पताल में मचा हड़कंप

एक साथ 800 रेमडेसिविर इंजेक्शन की चोरी होने से हड़कंप मच गया है. बता दें कि रेमडेसिविर इंजेक्शन का नया स्टॉक कुछ दिन पहले ही आया था. आशंका है कि चोरों की मदद अस्पताल के स्टाफ ने ही की होगी.

News Nation Bureau | Edited By : Avinash Prabhakar | Updated on: 17 Apr 2021, 06:15:54 PM
corona

प्रतीकात्मक तस्वीर (Photo Credit: News Nation)

भोपाल:

देशभर में कोरोना (COVID19 )से मचे कोहराम के बीच कई जगहों से इंजेक्शन की ब्लैकमेलिंग और चोरी होने की खबर आ रही है. ताजा खबर मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल से है. भोपाल के सरकारी हमीदिया अस्पताल से करीब 800 रेमडेसिविर इंजेक्शन चोरी हो गयी है जिसने अस्पताल प्रशासन की नींद उड़ा राखी है. एक साथ 800 रेमडेसिविर इंजेक्शन की चोरी होने से हड़कंप मच गया है. बता दें कि रेमडेसिविर इंजेक्शन का नया स्टॉक कुछ दिन पहले ही आया था. आशंका है कि चोरों की मदद अस्पताल के स्टाफ ने ही की होगी.

मध्य प्रदेश सरकार दावा कर रही है कि अब तक 42 हजार इंजेक्शन की सरकारी सप्लाई आ चुकी है. आज 9 हजार 788 इंजेक्शन और आ रहे हैं. 50 हजार इंजेक्शंस की सप्लाई का आर्डर दिया गया है, जिसकी डिलेवरी अगले तीन दिन में होगी. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (CM Shivraj Singh Chouhan) ने इस बाबत अफसरों से चर्चा कर जरूरी दिशा-निर्देश जारी किए हैं. मुख्यमंत्री ने अफसरों को प्रदेश में ऑक्सीजन इंजेक्शन और दूसरी सुविधाओं के लिए केंद्र सरकार के मंत्रियों से लगातार संपर्क करने और व्यवस्थाएं जुटाने को कहा है.

मध्य प्रदेश सरकार की मानें तो प्रदेश में बिस्तरों की संख्या लगातार बढ़ रही है. सरकारी और निजी अस्पतालों में बिस्तरों की कुल संख्या बढ़कर 40 हजार 276 हो गई है. भोपाल में प्रशासन आकदमी में 150, हमीदिया अस्पताल में 300, चिरायु में 300 और एम्स में 500 बिस्तर की व्यवस्था की जा रही है. कल छतरपुर में 58 बिस्तर के नर्मदा-अपना हॉस्पिटल का शुभारम्भ हुआ. अब प्रदेश के 50 जिलों में कुल 109 कोविड केयर सेंटर स्थापित हो गए हैं, जिनमें वर्तमान में 6 हजार 153 बिस्तर उपलब्ध हैं.

बता दें कि राज्य में कोरोना पर जम कर राजनीती भी हो रही है. बढ़ते कोरोना के मामलों को लेकर पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने ट्वीट कर शिवराज सरकार पर निशाना साधा है. कमलनाथ ने ट्वीट कर कहा है कि कोरोना संक्रमण के मरीज लगातार बढ़ रहे हैं. अस्पतालों में बेड्स नहीं है, ऑक्सीजन नहीं है और इंजेक्शन नहीं हैं. कमलनाथ ने कहा है कि यदि जरूरी कदम नहीं उठाए गए तो आने वाले दिनों में हालात और भयावह हो सकते हैं.

First Published : 17 Apr 2021, 06:15:54 PM

For all the Latest States News, Madhya Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.