logo-image
लोकसभा चुनाव

Jharkhand News: सीसीएल कॉलोनी में गंदगी का अंबार, शिकायत करने पर दी जाती है धमकी

बोकारो में सीसीएल जारंगडीह परियोजना के सीसीएल कॉलोनी बाबू क्वार्टर में गंदगी फैली है.

Updated on: 26 Oct 2023, 03:12 PM

highlights

  • सीसीएल कॉलोनी बाबू क्वार्टर में फैली है गंदगी 
  • संवेदक को कहने पर सीसीएल कर्मी को दे रहे हैं धमकी 
  • हर तरफ गंदगी का है अंबार 
  • साफ सफाई के लिए लाखों रुपये का निकाला गया है टेंडर
  • शिकायत करने पर दी जाती है धमकी  

 

Bokaro:

बोकारो में सीसीएल जारंगडीह परियोजना के सीसीएल कॉलोनी बाबू क्वार्टर में गंदगी फैली है. सफाई व आवास की मरम्मत करने की बात संवेदक को कहने पर सीसीएल कर्मी को धमकी दे रहे हैं. लोगों का कहना है कि गंदगी इतनी है कि जीना दूभर हो रहा है. हर तरफ बस गंदगी का अंबार लगा हुआ है. जब इस मामले में शिकायत की जाती है तो हमें ये धमकी दी जाती है कि देख लेंगे. लोगों का कहना है कि साफ सफाई के लिए लाखों रुपये का टेंडर निकाला गया है, लेकिन फिर भी कहीं भी सफाई नहीं हुई है.  

हर तरफ गंदगी का है अंबार 

मामला सीसीएल कथारा क्षेत्र के जारंगडीह परियोजना के जारंगडीह बाबू क्वार्टर का है. जहां सीसीएल कॉलोनी में गंदगी फैली हुई है. सीसीएल आवासों के अगल बगल झाड़ियां और गंदगी पसरा हुआ है. नालियां गंदगी से भरी पड़ी हुई है. बताते चले कि सीसीएल प्रबंधन द्वारा सीसीएल कालोनियों का साफ सफाई के लिए लाखों रुपये का टेंडर निकाला है और संवेदक को सफाई करने की जिम्मेदारी दे रखी है. उसके बाद भी इस तरह की गंदगी सीसीएल कॉलोनी में फैली दिखाई देना कई सवालों को खड़ा करती है. 

यह भी पढ़ें : Bihar Politics: 8 सालों बाद कांग्रेस प्रदेश कार्यालय जाएंगे लालू यादव, BJP ने मुख्यमंत्री को बनाया निशाना

शिकायत करने पर दी जाती है धमकी 

वहीं, इस मामले को लेकर सीसीएल कर्मी ने आपबीती सुनाई है. उन्होंने कहा कि सीसीएल कालोनियों की सफाई के नाम पर खानापूर्ति की जा रही है और साफ सफाई और सीसीएल कर्मी अपने सीसीएल आवासों की मरम्मत संबंधित अगर शिकायत सिविल विभाग के अधिकारियों से संवेदक के खिलाफ किया जाता है तो संवेदक शिकायत करने वाले सीसीएल कर्मी को फोन कर देख लेने कर दिखा देंगे की धमकीं दे रहे हैं. उक्त आरोप सीसीएल कर्मी अनन्त कुमार ने लगाई है और पत्रकारों के समक्ष आपबीती सुनाते हुए बताया है कि प्रबंधन इस मामले को लेकर सख्त है. प्रबंधन का कहना है कि साफ सफाई रखना संबंधित संवेदक की जिम्मेदारी है. लापरवाही किसी कीमत पर बर्दाश्त नहीं की जाएगी.

रिपोर्ट - संजीव कुमार