logo-image
लोकसभा चुनाव

राजमहल लोकसभा सीट को लेकर लोबिन हेम्ब्रम हुए बागी, लड़ सकते हैं निर्दलीय चुनाव

झामुमो नेता लोबिन हेंब्रम बागी होते नजर आ रहे हैं. राजमहल लोकसभा सीट से झामुमो ने विजय हांसदा को अपना प्रत्याशी बनाया है. जिसके बाद से यह कयास लगाए जा रहे हैं.

Updated on: 10 Apr 2024, 01:56 PM

highlights

  • लोबिन हेम्ब्रम हुए बागी
  • लड़ सकते हैं निर्दलीय चुनाव
  • चार चरणों में झारखंड में मतदान

Ranchi:

झामुमो नेता लोबिन हेंब्रम बागी होते नजर आ रहे हैं. राजमहल लोकसभा सीट से झामुमो ने विजय हांसदा को अपना प्रत्याशी बनाया है. जिसके बाद से यह कयास लगाए जा रहे हैं कि लोबिन हेंब्रम निर्दलीय चुनाव लड़ सकते हैं. वहीं, आगे की रणनीति को लेकर हेंब्रम शाम को पीसी करेंगे. आपको बता दें कि हेंब्रम राजमहल से वर्तमान सांसद विजय हांसदा का शुरू से ही विरोध कर रहे हैं. साथ ही उन्होंने झारखंड के मुख्यमंत्री चंपाई सोरेन के साथ ही कई वरिष्ठ नेताओं से टिकट की मांग की थी, लेकिन झामुमो ने एक बार फिर से राजमहल के वर्तमान सांसद विजय हांसदा पर ही दोबारा से भरोसा जताते हुए उन्हें लोकसभा चुनाव 2024 के लिए प्रत्याशी बनाया है. 

यह भी पढ़ें- झारखंड में ED की कार्रवाई तेज, जमीन घोटाले मामले में एक और गिरफ्तारी

बागी हुए लोबिन हेम्ब्रम

वहीं, आपको बता दें कि बीते सोमवार को भाजपा ने पूर्व विधायक ताला मरांडी को राजमहल सीट से अपना प्रत्याशी घोषित किया तो अगले ही दिन यानी मंगलवार को झामुमो ने इस सीट से विकास हांसदा को दोबारा से उम्मीदवार बनाया. विकास हांसदा की बात करें तो वह 2014 से ही राजमहल सीट से जीतते नजर आ रहे हैं. 2019 लोकसभा चुनाव में विकास हांसदा ने भाजपा प्रत्याशी हेमलाला मुर्मू को हराया था, जो अब झामुमो में शामिल हो चुके हैं. यह पहली बार नहीं है जब बोरियो विधायक लोबिन हेम्ब्रम ने बागी तेवर दिखाए हैं. हेम्ब्रम पहले भी अपनी पार्टी को कई मुद्दों पर घेरते रहते हैं. हाल ही में उन्होंने पी पेशा एक्ट 1996, सीएनटी-एसपीटी एक्ट, स्थानीय नीति और नियाोजन नीति लागू नहीं होने का मुद्दा उठाया था. 

चार चरणों में झारखंड में मतदान

बता दें कि झारखंड में कुल 14 लोकसभा सीटें हैं. वहीं प्रदेश में चार चरणों में मतदान होगा. गठबंधन के बीच सीटों का बंटवारा लगभग तय हो चुका है. जिसके अनुसार 5 सीटों पर झामुमो, 7 सीटों पर कांग्रेस और 2 सीटें आरजेडी के खाते में दी गई है. वहीं, भाकपा को महागठबंधन में जगह नहीं मिला. जिसके बाद भाकपा वालों ने खुद ही 8 सीटों पर चुनाव लड़ने की घोषणा कर दी, जिसमें हजारीबाग, चतरा, पलामू, लोहरदगा, दुमका, गिरिडीह और जमशेदपुर है. 4 जून को लोकसभा चुनाव के रिजल्ट की घोषणा की जाएगी.