News Nation Logo

Jharkhand Vidhansabha: मानसून सत्र के दूसरे दिन विपक्ष का हंगामा, शिक्षा मंत्री जगरनाथ महतो की बिगड़ी तबियत

झारखंड विधानसभा के मानसून सत्र का आज दूसरा दिन है और दूसरे दिन भी सदन के बाहर विपक्षियों ने जमकर हंगामा किया.

News Nation Bureau | Edited By : Harsh Agrawal | Updated on: 01 Aug 2022, 12:40:20 PM
jharkhand assembly

शिक्षा मंत्री जगरनाथ महतो की बिगड़ी तबियत (Photo Credit: News State Bihar Jharkhand)

Ranchi:  

झारखंड विधानसभा के मानसून सत्र का आज दूसरा दिन है और दूसरे दिन भी सदन के बाहर विपक्षियों ने जमकर हंगामा किया. सदन की कार्रवाई शुरू होते ही सदन के अंदर प्रदीप यादव ने बीजेपी को लोकतंत्र का हत्यारा बताया. उन्होंने कहा कि सरकार को अस्थिर करने के लिए विधायकों की खरीद फरोख्त की कोशिश हुई. इधर बीजेपी ने भी राज्य को अकाल ग्रस्त क्षेत्र घोषित करने की मांग को लेकर सदन के अंदर वेल में पहुंचकर हंगामा किया है. 

झारखंड को अकाल क्षेत्र घोषित करने की मांग को लेकर भारतीय जनता पार्टी के विधायकों ने सदन के बाहर प्रदर्शन किया. विधायक नीरा यादव सब्जी की टोकरी को लेकर सदन के बाहर पहुंची. उन्होंने इस दौरान राज्य सरकार को राज्य में कम बारिश की वजह से किसानों को हो रही परेशानी को देखते हुए अकाल घोषित करने की मांग की. वहीं विधायक शशिभूषण मेहता कुदाल लेकर सदन के बाहर प्रदर्शन करते नजर आए.
 
हम आपको बता दें कि सदन की कार्यवाही को 12: 30 तक के लिए स्थगित कर दिया गया है. इसी बीच विधानसभा के सत्र में भाग लेने पहुंचे शिक्षा मंत्री जगरनाथ महतो की तबियत बिगड़ गई. शिक्षा मंत्री जगरनाथ महतो को विधानसभा से एंबुलेंस से रिम्स भेजा गया. हम आपको बता दें कि जगन्नाथ महतो की विधानसभा पहुंचने के बाद अचानक तबीयत बिगड़ी. उसके बाद आनन-फानन में तुरंत उन्हें अस्पताल ले जाया गया. बता दें कि जगन्नाथ महतो कोरोना के कारण गंभीर रूप से बीमार हो गए थे. जिसके बाद लंबे समय के तक सीएमसी वेल्लोर में उनका इलाज चला था. हालांकि इलाज के बाद वह अभी सामान्य प्रक्रिया में लौट गए थे और लगातार विभागीय कामकाज और राजनीतिक कामकाज कर रहे थे. 

 

 

First Published : 01 Aug 2022, 12:40:20 PM

For all the Latest States News, Jharkhand News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.