News Nation Logo
Banner

झारखंड कांग्रेस में 'Hot Talk', देखें Full Video

झारखंड कांग्रेस (Jharkhand Congress) में आपसी मतभेद सामने आया है. झारखंड की राजधानी राची में स्थित कांग्रेस भवन में सोमवार को कांग्रेस कार्यकर्ताओं के बीच बैठक हुई. इस बैठक में कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष भी शामिल हुए.

News Nation Bureau | Edited By : Deepak Pandey | Updated on: 22 Feb 2021, 05:38:39 PM
Jharkhand Congress

झारखंड कांग्रेस में 'Hot Talk' (Photo Credit: ANI)

नई दिल्ली:

Hot Talk in Jharkhand Congress : झारखंड कांग्रेस (Jharkhand Congress) में आपसी मतभेद सामने आया है. झारखंड की राजधानी राची में स्थित कांग्रेस भवन में सोमवार को कांग्रेस कार्यकर्ताओं के बीच बैठक हुई. इस बैठक में कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष भी शामिल हुए. इस मीटिंग में कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष के सामने ही कार्यकर्ताओं के बीच 'Hot Talk' हो गई. बताया जा रहा है कि कांग्रेस कार्यकर्ताओं (Congress workers) के बीच जमकर धक्कामुक्की और मारपीट हुई. हालांकि, कांग्रेस ने इस  'Hot Talk' को आंतरिक मामला बताया है. आपको बता दें कि झारखंड में झारखंड मुक्ती मोर्चा और कांग्रेस की गठबंधन सरकार है

रांची में कांग्रेसियों के बीच हुई मारपीट के बाद झारखंड कांग्रेस के नेता आलोक दुबे ने बताया कि यह पार्टी का आंतरिक मामला है. राय में अंतर था. यह कोई बड़ा मुद्दा नहीं है. एक परिवार में ऐसा होता रहता है.

झारखंड के वित्त मंत्री रामेश्वर उरांव ने दिया विवादित बयान

झारखंड के वित्त मंत्री और कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष रामेश्वर उरांव ने विवादित बयान दिया था. उन्होंने कहा कि राजधानी रांची आज बिहारियों से भर गई है. यहां मारवाड़ी लोग भी आकर बस गए हैं. प्रेस क्लब में आयोजित महुआ कांफ्रेंस में रामेश्वर उरांव ने कहा था कि आज रांची की जमीन बाहरी लोगों के हाथों में चली गई है. रांची में बिहार के लोगों से भर जाने और मारवाड़ी बस जाने के झारखंड के आदिवासी कमजोर हो गए हैं और उनका शोषण हो रहा है.

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, झारखंड के वित्त मंत्री ने कहा था कि रांची में कभी आदिवासियों का निवास होता था. शहर में बसे कई प्रमुख टोला-बस्ती समेत कई इलाकों का नाम उन्हीं ने दिए हैं. आज वो इलाके और उनके नाम जरूर हैं, मगर वहां अब आदिवासी नहीं रहते. रांची में बिहार के लोग भर गए हैं और मारवाड़ी लोग बस गए हैं.' कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष ने कहा, 'झारखंड में आदिवासियों के कमजोर होने की वजह से उनका शोषण भी हो रहा है. आदिवासी कमजोर हो गए हैं और शहरों से वह हटते जा रहे हैं. ऐसे में आदिवासियों की मदद के लिए सरकार के स्तर पर प्रयास हो रहा है.

अब झारखंड के कांग्रेस अध्यक्ष रामेश्वर उरांव के इस बयान पर विवाद खड़ा हो गया है. खुद कांग्रेस के विधायक और नेताओं ने ही रामेश्वर उरांव के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है. झारखंड यूथ कांग्रेस के अध्यक्ष गौरव कुमार ने ट्वीट किया, 'कांग्रेस की सोच है कि हिंदू मुस्लिम सिख इसाई आपस में है सब भाई भाई. यह (उरांव का बयान) बयान कांग्रेस विचारधारा के विपरीत है और कांग्रेस की आत्मा को चोट पहुंचाने का कार्य करता है. बिरसा की महान धरती पर रहने वाला हर व्यक्ति झारखंडी है और अपने कर्मों से इस धरती को सींच रहा है.'

First Published : 22 Feb 2021, 05:20:59 PM

For all the Latest States News, jharkhand News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.