News Nation Logo
चाहें तो गोली मरवा सकते हैं और कुछ नहीं कर सकते: लालू प्रसाद यादव के बयान पर नीतीश कुमार आर्यन खान की जमानत पर बॉम्बे हाईकोर्ट में कल फिर होगी सुनवाई बिजनेस के सिलसिले में उनसे बातचीत होती थी: हैनिक बाफना प्रभाकर ने मेरा नाम क्यों लिया मैं नहीं जानता: हैनिक बाफना भारत के पूर्व अटॉर्नी जनरल मुकुल रोहतगी आर्यन खान की ओर से कर रहे हैं दलील पेश प्रभाकर को अच्छी तरह जानता हूं: हैनिक बाफना मेरे खिलाफ कोई सुबूत नहीं: हैनिक बाफना अगर सुबूत है तो प्रभाकर लाकर दिखाएं: हैनिक बाफना टीम इंडिया के मुख्य कोच पद के लिए राहुल द्रविड़ ने किया आवेदन वीवीएस लक्ष्मण के NCA में पदभार संभालने की संभावना आर्यन खान के वकील ने HC में दाखिल किया हलफनामा HC में आर्यन खान की जमानत याचिका पर सुनवाई शुरू पश्चिम बंगाल में तंबाकू और निकोटिन वाले गुटखा-पान मसाला एक साल के लिए बैन कोवैक्सीन को मिल सकती है अंतरराष्ट्रीय मंजूरी, डब्ल्यूएचओ की बैठक आज उमर मलिक के बेटे पर यूपी सरकार कसेगी शिकंजा, एडमिशन के नाम पर रेस का आरोप पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह कल प्रेसवार्ता कर नई पार्टी का ऐलान कर सकते हैं अरविंद केजरीवाल का ऐलान - यूपी में सरकार बनी तो मुफ्त में अयोध्या की तीर्थ यात्रा कराएंगे

मधु कोड़ा धनशोधन मामले में झारखंड के पूर्व मंत्री एनोस एक्का दोषी करार

ऐसा आरोप है कि यह सम्पत्ति एक्का के मंत्रिपद पर रहने के दौरान एकत्र की गई. एक्का ने विधायक के तौर पर झारखंड के सिमडेगा जिले मे कोलेबिरा का प्रतिनिधित्व किया है.

Bhasha | Edited By : Dalchand Kumar | Updated on: 21 Mar 2020, 05:07:40 PM
Enos Ekka

मधु कोड़ा धनशोधन मामले में झारखंड के पूर्व मंत्री एनोस एक्का दोषी करार (Photo Credit: फाइल फोटो)

दिल्ली/रांची:

रांची (Ranchi) की एक अदालत ने झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री मधु कोड़ा समेत अन्य के खिलाफ धनशोधन के एक मामले में राज्य के पूर्व मंत्री एनोस एक्का को दोषी ठहराया है. अधिकारियों ने शनिवार को बताया कि अदालत एक्का को 31 मार्च को सजा सुनाएगी. तत्कालीन कोड़ा सरकार में कैबिनेट में मंत्री रहे एक्का को धनशोधन निवारण कानून के तहत दोषी ठहराया गया है. यह मामला कोड़ा और अन्य के खिलाफ धनशोधन मामले की जांच से जुड़ा है और प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने सितंबर 2009 में इसका खुलासा किया था. 

यह भी पढ़ें: राज्यसभा: झारखंड में झामुमो, भाजपा और कांग्रेस का एक-एक उम्मीदवार मैदान में

इस मामले में कई लोगों को गिरफ्तार किया गया और करोड़ों रुपए की सम्पत्तियां कुर्क की गई. यह 2002 में बनाए गए और 2005 में लागू किए गए कानून के तहत 11वीं दोषसिदि्ध है. ईडी ने 2014 में एक्का से जुड़ी 100 करोड़ रुपए (बाजार मूल्य) की सम्पत्ति कुर्क की थी. सीबीआई ने 2006 से 2008 तक मधु कोड़ा सरकार में ग्रामीण विकास मंत्री रहे एक्का, उसकी पत्नी और अन्य के खिलाफ आय से 17 करेाड़ रुपए अधिक सम्पत्ति का आरोप लगाया था.

यह भी पढ़ें: झारखंड: दुमका उपचुनाव को लेकर सियासी हलचल तेज, झामुमो ने शुरू की तैयारी

ऐसा आरोप है कि यह सम्पत्ति एक्का के मंत्रिपद पर रहने के दौरान एकत्र की गई. एक्का ने विधायक के तौर पर झारखंड के सिमडेगा जिले मे कोलेबिरा का प्रतिनिधित्व किया है. यह कोड़ा मामले में पीएमएलए के तहत दूसरी दोषसिदि्ध है. इससे पहले 2017 में रांची में एक विशेष अदालत ने राज्य के पूर्व मंत्री हरि नारायण राय को सात साल कारावास की सजा सुनाई थी और पांच लाख रुपए जुर्माना भी लगाया था. ईडी ने झारखंड सतर्कता ब्यूरो की प्राथमिकियों का संज्ञान लेते हुए इस मामले को अपने हाथ में लिया था अैर पीएमएलए के तहत कई आरोप पत्र दायर किए थे.

First Published : 21 Mar 2020, 05:07:40 PM

For all the Latest States News, Jharkhand News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो