logo-image
लोकसभा चुनाव

ED ने हेमंत सोरेन की जमानत को सुप्रीम कोर्ट में दी चुनौती, HC के आदेश को रद्द करने की मांग

झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन की मुश्किलें बढ़ सकती हैं. दरअसल, सोरेन की जमानत को ईडी ने सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी है. इसके साथ ही ईडी ने हाईकोर्ट के फैसले को गलत बताते हुए कहा कि उनकी टिप्पणी सही नहीं है.

Updated on: 09 Jul 2024, 06:12 AM

highlights

  • हेमंत सोरेन की बढ़ सकती हैं मुश्किलें
  • ईडी ने हाईकोर्ट के फैसले को SC में दी चुनौती
  • सोरेन की जमानत को बताया गलत

Ranchi:

झारखंड में सियासी हलचलें थमने का नाम ही नहीं ले रही है. सीएम पद की एक बार फिर से शपथ लेने के बाद 8 जुलाई को हेमंत सोरेन ने विधानसभा में बहुमत साबित किया. फ्लोर टेस्ट पास करने के बाद हेमंत सरकार का कैबिनेट विस्तार हुआ. जिसमें 11 विधायकों ने मंत्री पद की शपथ ली. हेमंत कैबिनेट में चार नए चेहरों को जगह दी गई, जिसमें दो कांग्रेस के और दो झामुमो के नेता शामिल हैं. वहीं, सिर्फ बसंत सोरेन और बादल पत्रलेख को छोड़कर सभी पुराने चेहरे को हेमंत कैबिनेट में जगह मिली. इस बीच हेमंत सोरेन की मुश्किलें बढ़ती नजर आ रही हैं. दरअसल, ईडी ने झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन को हाईकोर्ट से मिली जमानत को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी है. हाईकोर्ट के आदेश को चुनौती देते हुए सुप्रीम कोर्ट में याचिका भी दाखिल की गई है .ईडी ने सुप्रीम कोर्ट से हाईकोर्ट के आदेश को रद्द करने की मांग की है.

ईडी ने हेमंत सोरेन की जमानत को सुप्रीम कोर्ट में दी चुनौती

ईडी ने आरोप लगाया है कि हाईकोर्ट की टिप्पणियां पक्षपातपूर्ण हैं. इसके साथ ही ईडी ने कहा कि हाईकोर्ट की टिप्प्णी सही नहीं है, जिसमें कोर्ट ने कहा था कि सोरेन के खिलाफ प्रथम दृष्टया कोई मामला नहीं बनता है.

यह भी पढ़ें- Jharkhand Cabinet Expansion: हेमंत सोरेन कैबिनेट विस्तार, चंपई सोरेन ने ली मंत्री पद की शपथ

मनी लॉन्ड्रिंग केस में ईडी ने किया था गिरफ्तार

आपको बता दें कि ईडी ने हेमंत सोरेन को 10 बार समन भेजा था. वहीं, सोरेन ने सिर्फ दो समन का ही जवाब दिया था. करीब 8 घंटे की पूछताछ के बाद 31 जनवरी 2024 की देर शाम ईडी ने हेमंत सोरेन को गिरफ्तार कर लिया था. गिरफ्तारी से पहले ही हेमंत सोरेन ने राज्यपाल को अपना इस्तीफा सौंप दिया था. 28 जून को करीब 5 महीने बाद हेमंत सोरेन जेल से बाहर आए. हेमंत सोरेन के मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा देने के बाद चंपई सोरेन को प्रदेश का नया मुख्यमंत्री बनाया गया था, लेकिन हेमंत सोरेन के जेल से बाहर आते ही चंपई सोरेन ने सीएम पद से इस्तीफा दे दिया. चंपई सोरेन के इस्तीफे के दूसरे दिन ही हेमंत सोरेन ने एक बार फिर से झारखंड के 13वें मुख्यमंत्री के रूप में शपथ ली. इस साल के अंत में प्रदेश में विधानसभा चुनाव होने वाला है. इसे लेकर एनडीए और इंडिया एलायंस की तैयारी शुरू हो चुकी है.